यूपी में विश्वविधालयों की परीक्षाएँ हुई रद्द-केवल अंतिम वर्ष की परीक्षाएँ |

By | June 5, 2021

उत्तर प्रदेश में केवल अंतिम वर्ष की परीक्षाएँ आयोजित होंगी, यूपी सरकार ने जारी की गाइडलाइन कॉलेज और विश्वविधालय में अंतिम वर्ष के अलावा सभी परीक्षाएँ हुई रद्द, फाइनल वर्ष की परीक्षाएँ होंगी, अंतिम वर्ष (फाइनल सेमेस्टर) की परीक्षाएँ ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से होंगी |

नई सूचना-05 जून 2021-:उत्तर प्रदेश राज्य में यूनिवर्सिटी की परीक्षाएँ आयोजित होंगी या नहीं इसके लिए अभी तक कोई अधिकारिक घोषणा नहीं हुई है | सोशल मीडिया पर सूचनाएँ वायरल हो रही है कि उत्तर प्रदेश में इस साल भी केवल अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए ही परीक्षाएँ होंगी,लेकिन यह सूचना फर्जी है | यूजीसी या राज्य सरकार ने अभी तक कोई आदेश जारी नहीं किया है | परीक्षाओं से संबंधित कोई भी सूचना जारी होगी, तो हमारी टीम आपको अवगत करवा देगी |

यूपी में केवल अंतिम वर्ष (फाइनल सेमेस्टर) की परीक्षाएं होंगी-

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा कॉलेज और विश्वविधालयों की परीक्षाओं के बारे में जारी की गई गाइडलाइन के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | कोरोना महामारी की वजह से उत्तर प्रदेश सरकार ने निर्णय लिए है,कि कॉलेज और विश्वविधालयों में इस वर्ष केवल अंतिम वर्ष या फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाएं ही आयोजित कराई जाएँगी |

केंद्रीय विधालयों में प्रवेश की गाइडलाइन जारी-वरीयता के आधार पर मिलेगा प्रवेशहाई कोर्ट ने दिए निर्देश-परीक्षाएं जल्द पूरी करवाई जाये,परीक्षाओं में देरी होने से करियर पर असर
अंतिम वर्ष (फाइनल सेमेस्टर) की परीक्षाएं-परीक्षा का टाइम टेबल जल्दपरीक्षा स्थगित हुई

इसके अलावा सभी कक्षाओं की परीक्षाएं रद्द की जाती है | फाइनल वर्ष अलावा सभी छात्रों को प्रोन्नति के आधार पर अगली कक्षा में प्रवेश दिया जायेगा | यह जानकारी उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने दी है | उनके मुताबिक परीक्षाएं ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से सम्पन्न कराई जाएँगी |

उन्होंने कहा कि अंतिम वर्ष की परीक्षाएं सितम्बर तक सम्पन्न करवा दी जाएगी | उसके बाद इनका परिणाम अक्टूबर माह में जारी किया जायेगा | प्रोन्नति के आधार पर कैसे प्रवेश दिया जायेगा | इसकी जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

उपमुख्यमंत्री ने कहा नियम में बदलाव नहीं-

प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा है, कि कुछ विश्वविधालयों ने लॉकडाउन लगने से पहले ही परीक्षाएं सम्पन्न करवा ली थी | कुछ विश्वविधालयों ने तो परिणाम भी जारी कर दिए थे | उन्होंने कहा कि उनके परिणाम यथावत रहेंगे |

बीएड डिग्री धारको पर लटकी तलवार- बीएड वाले सहायक शिक्षक बनें या नहीं सुनवाई जल्द
पुलिस कांस्टेबल के 10 हजार पदों पर भर्ती जल्द-एक साल में भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश

परीक्षा कब होगी-यूजीसी की गाइडलाइन से छात्र असमजंस में, परीक्षा होगी या नहीं जाने खबर
यूजीसी का फैसला-फाइनल सेमस्टर (अंतिम वर्ष) की परीक्षाएं सितम्बर में करवाए |

इन पर वे नियम ही लागु रहेंगे, जो पहले से बनाये गए थे | इसी प्रकार कुछ विश्वविधालयों ने विभिन्न कक्षाओं की कुछ परीक्षाएं लॉकडाउन लगने से पहले आयोजित करवा ली थी, लेकिन कुछ बाकि रह गई है | उनका सब का मूल्यांकन करवा कर उनके अंको को अंतिम परिणाम में शामिल किया जायेगा |

इस प्रकार होंगे प्रोन्नति के नियम-

प्रदेश के ज्यादातर छात्र-छात्राओं का एक ही सवाल रहता है, कि अगर बिना परीक्षा के प्रोन्नति से किस आधार पर उत्तीर्ण या अनुतरीन किया जायेगा | या फिर सभी को पास किया जायेगा | इस बारे में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने आज स्पष्ट कर दिया है |

उन्होंने कहा है, कि सभी संकायों की विभिन्न कक्षाओं के ऐसे छात्र-छात्राएं जो लॉकडाउन लगने से पहले संबंधित विश्वविधालय की परीक्षा के प्रश्नपत्रों के मूल्यांकन के आधार पर अपनी कक्षा के प्रत्येक विषय में पास है, अथवा बेक पेपर के लिए अर्ह है | उनको अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जायेगा |

उनकी बची हुई परीक्षाएं स्थगित रहेंगी | लेकिन ऐसे छात्र-छात्राएं जो पूर्व में हुई परीक्षा के अपूर्ण परिणाम के आधार पर संबंधित विश्वविधालय के नियमानुसार बैकपेपर के लिए भी अर्ह नहीं है तथा अनुतीर्ण है | उनको इस साल की परीक्षा में अनुतीर्ण किया जायेगा | उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने यह भी कहा कि, जो छात्र अपने परिणाम से संतुष्ट नहीं होगा, उनको वर्ष अगले वर्ष की परीक्षा में अंक सुधार करने का अवसर भी दिया जायेगा |

देश के कई राज्यों ने रद्द की परीक्षाएं-

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने गाइडलाइन जारी की है, उनके मुताबिक अंतिम वर्ष को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई है | लेकिन कई राज्य ऐसे भी जिनमे फाइनल वर्ष समते सभी परीक्षाएं रद्द हो चुकी है | लेकिन यूजीसी की गाइडलाइन जारी होने के बाद इन राज्यों के छात्र-छात्राओं में संशय बना हुआ है कि क्या अंतिम वर्ष की परीक्षाएं होंगी या नहीं |

रेलवे की अटकी भर्तियां जल्द-RRB NTPC और Group D, नई भर्तियों के बारे में बड़ी घोषणाNEET और JEE Main परीक्षा स्थगित हुई-अब सितम्बर माह में होंगी दोनों परीक्षाएं
10वीं पास के लिए सरकारी नौकरी-तकनीशियन (विधुत) के 608 पदों के लिए भर्ती होगीबीएड प्रवेश परीक्षा 29 जुलाई 2020 को होगी-प्रवेश पत्र www.lkouniv.ac.in से देखे

लेकिन फिलहाल इन राज्यों ने परीक्षाओं के बारे में नई सूचना जारी नहीं की है | राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, ओडिशा, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल की राज्य सरकार ने इस वर्ष परीक्षाएं नहीं करवाने का फैसला लिया है | लेकिन यूजीसी ने सभी राज्यों से अपील की है, कि अपने राज्य के सभी विश्वविधालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं जरूर करवाए |

अगर सभी राज्य अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करवाएंगे तो, इससे पुरे देश में उच्च शिक्षा में एक समान रूपता बनी रहेगी | अगर हम फाइनल वर्ष की परीक्षा नहीं करवाते है, तो इससे डिग्री की वैधता पर भी सवाल खड़ा हो सकता है | इसलिए यूजीसी ने कहा कि आप अपने राज्य में कोरोना की स्थति के अनुसार ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी माध्यम से परीक्षाएं आयोजित कराये |

यूपी में होने वाली परीक्षाओं से संबंधित पूछे जाने वाले सवाल?

छात्रों में संशय है कि अंतिम वर्ष या फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाएं कब तक होंगी?

सितम्बर आयोजित हो जाएगी |

क्या परिणाम से असंतुष्ट छात्रों को अंक सुधार का मौका मिलेगा?

हाँ जी, जो छात्र-छात्रा अपने परिणाम से संतुष्ट नहीं है, उसके वर्ष 2021-22 में अंक सुधारने का मौका दिया जायेगा|

स्नातक अंतिम वर्ष का रिजल्ट कब तक जारी किया जा सकता है?

अक्टूबर तक जारी करने की संभावना है|

स्नातकोत्तर परीक्षा का नतीजा कब जारी होगा?

अक्टूबर तक जारी हो सकता है|

शिक्षाविदों ने यूजीसी ने क्या कहा है?

उनके मुताबिक यूजीसी अपने फैसले पर एक बार पुन: विचार करे |

नोट-दोस्तों परीक्षाओं से संबंधित आप भी अपनी राय/ विचार हमारी टीम के साथ जरूर शेयर करे-धन्यवाद

follow us for social updates

49 thoughts on “यूपी में विश्वविधालयों की परीक्षाएँ हुई रद्द-केवल अंतिम वर्ष की परीक्षाएँ |

  1. Anup Prajapati

    Sir ITI First year ka exam hoga ya second year me pramote kr diya jayega?
    What will happen?

    Reply
  2. Ajay sooryavansham... .

    Final year ke exam bhi nahi hone chahiye
    ye hamare sath na insaafi hai

    hum to 1st or 2nd year pss karne ke baad hi final tak pohunche hai or hume 2 year ka experience bhi hai Isliye final walo ko bhi promote kiya jaaye
    Jai hind… .

    Reply
  3. Simran

    Sir ba first year ek bhi exam nhi hua tha to Mai pass to ho jaugi

    Reply
  4. anju

    jo students final year k kuch exam de chuke hai or ek subject rah gaye h kya unka bhi exam hoga

    Reply
  5. Amarjeet Kumar

    Kya Sir Jin students ka only 1 year ka course hi aur aur 1 semester hi ye logo ka paper nahi hoga kya sir please tell me sir

    Reply
  6. Mansi

    Sir Btc 1st and 2nd semester ka exam bina diye hi 3rd semester me permot kr diya gya h plz tell me sir

    Reply
  7. Komal

    Sr maine 2 subject ka back form daala tha uska kya hoga kya promote kiya jayega ya… Sr plz reply

    Reply
  8. Amit Sharma

    B.A2nd year ka exam hoga ya nhi Veer Bahadur Singh Purvanchal University Jaunpur

    Reply
  9. Kapil kumar

    Sir b. A 3 ka ruselte kab ayega peper ho gaye the csjm

    Reply
  10. Manish

    Ye sawal sabhi rajya gov se hai , final year walo ko jastish kab milega … Exam karawana hai to sabhi student ka karwo warna kisi ka nahi

    Reply
  11. Anchal goyal

    sir mei Chaudhary Charan Singh University MA final ki student hun aur mai is time Lucknow mein hun kya mai exam online de sakti hun ..

    Reply
  12. Daleep singh

    Final walon se vikalp Patra le liye jayen ki unhen pass mark hi chahiye to unhe pass mark dekar free Karen. Taki students exam ke liye Kam ho jayenge or exam karane me aasani hogi

    Reply
  13. MANGAL SINGH

    UGC ka kahna thik hai but corona ka khatra bahut Gambhir ho jayega jis se students ka jivan khatre me ho jayega 2019-20 ki jagah 2020-21 me exam karay to bhut achchh hoga

    Reply
  14. Satyapal Shakya

    सर मेरे सेकंड सेमेस्टर के पेपर कब होंगे

    Reply
  15. Megha

    Ye bilkul galat h sir plz try to understand .Either do the exam or none. Pass this way or get everyone to do the exam. Think again

    Reply
  16. Kirti saxena

    Final year k students ki Jan ki koi kimat nhi h ager permot karana h sabko kre barna sabke exam hone chaiye final year k students corona effect ho gye tho uska zimadar kun Hoga

    Reply
  17. Pankaj yadav

    Shi kaha aapne vaise sabhi ko prmot krna chahiye chahe vo back bale bhi ho kisi ko fail na kiya jaye is corona kaal m

    Reply
  18. Sujeet Pratap Singh

    Sir meri 1 sem b.pharma m 2 back h kya unko bhi clear Kiya Jayega

    Reply
  19. Saumya

    Ye rule to only state universities par hi lagu hoga n central ke lie kya koi guideline nahi h

    Reply
  20. A.K.Tripathi

    Bilkul galat tareeka h sabhi semester bina exam ke passout final semester me exam kyon.policy thik nhi .ugc punah vichar karain

    Reply
  21. Ankit kumar

    Agar exam ho to sabhi classes ke hone chahiye barna kisi ke bhi nahi hone chahiye

    Reply
  22. Bhavna Rajpoot

    Final year walo Ko corona nhi hoga baaki sbko corona hoga…….

    Reply
  23. Pawan Kumar

    Sar Mera Khali merath Mein padta hai main Jila Pilibhit ka Rahane wala hun Meri Pariksha online ho gaya offline Hogi

    Reply
    1. Pawan Kumar

      Sar main Jila Pilibhit ka Rahane wala hun Meri bed ki Pariksha merath Mein Hogi online ho gaya offline ho gai

      Reply
      1. Admin Post author

        Sir Abhi bata nahi sakte, ki exam online hoga ya offline. University Guideline jari karegi inke bare me

        Reply
  24. Vivek Gupta

    Up Deled(B.T.C) 3 semester(final year) Ka paper hoga ya Nahi.

    Reply
  25. Phalesh Baghel

    Sir medical field (BAMS ) 1st year ke exam honge ya promote kr diye gye
    Sir plz tell me.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *