विश्वविधालय की परीक्षाएं नहीं होंगी-उत्तर प्रदेश के 48 लाख विधार्थी होंगे प्रोन्नत

By | June 8, 2021

उत्तर प्रदेश राज्य में विश्वविधालय की परीक्षाएं नहीं होंगी, प्रदेश के लगभग 48 लाख विधार्थी होंगे प्रोन्नत, अनलॉक-2 की गाइड लाइन के बाद होगा अंतिम फैसला, प्रदेश में 18 राज्य विश्वविधालयों और महाविधालयों के लगभग 48 लाख विधार्थी होंगे प्रमोट|

नई सूचना-08 जून 2021-:उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा कॉलेज छात्रों की परीक्षाएँ रद्द करने का निर्णय किया गया है | राज्य में केवल अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए अगस्त माह में परीक्षाओं का आयोजन करवाया जाएगा | उत्तर प्रदेश राज्य में करीब 48 लाख विद्यार्थी बिना परीक्षा दिए ही अगली कक्षा में प्रमोट होंगे |

नहीं होंगी विश्वविधालयों की परीक्षाएं-

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में उत्तर प्रदेश राज्य में विश्वविधालयों और महाविधालयों की परीक्षाएं नहीं होने की सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | कोरोना के संक्रमण को देखते हुए इस वर्ष उत्तर प्रदेश राज्य में विश्वविधालयों और महाविधालयों की परीक्षाएं नहीं करवाई जाएगी |

बैंक सरकारी नौकरी- स्नातक पास बैंक में अफसर और क्लर्क भर्ती-सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में देखेNEET & JEE Main परीक्षा जुलाई में करवाने की तैयारी-जाने परीक्षा की पूरी खबर
10वीं और 12वीं पास के लिए सरकारी नौकरी-योग्यता, आयु सीमा, चयन प्रक्रिया की जानकारी हिंदी मेंCBSE 10वीं, 12वीं का रिजल्ट 15 जुलाई तक-असेसमेंट स्कीम के तहत जारी होगा नतीजा

विधार्थियों को बिना परीक्षा के ही प्रोन्नत किया जायेगा | परीक्षाओं के आयोजन को लेकर मेरठ विश्वविधालय के कुलपति प्रो. तनेजा की अध्यक्षता में हुई बैठक में समिति ने रिपोर्ट राज्य सरकार को दे दी है | राज्य सरकार ने भी समिति के सुझाव को सैद्धांतिक रूप से मान लिया है|

लेकिन इसके लिए सभी विश्वविधालयों को एक प्रोन्नति फार्मूला तय करने को कहा है | अगर ऐसा होता है, तो प्रदेश के 18 राज्य विश्वविधालयों और महाविधालयों के लगभग 48 लाख विधार्थियों को प्रोन्नति का लाभ मिलेगा | अधिक जानकारी के लिए इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

समिति ने दिए यह सुझाव-

मेरठ विश्वविधालय के कुलपति प्रो. तनेजा की अध्यक्षता में गठित समिति ने परीक्षाएं नहीं करवाने को लेकर अपने सुझाव दिए, और कहा की विधार्थियों को बिना परीक्षा के ही प्रोन्नत किया जाना चाहिए | यहाँ पर हमारी टीम आपको समिति के द्वारा दिए गए सुझावों को बिंदुवार समझा रही है |

7428 पदों पर बिना परीक्षा सरकारी नौकरी-10वीं पास ऑनलाइन आवेदन करे, भर्ती की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में जानेsewayojan.up.nic.in UP Rojgar Mela Registration Job Fair Application Form Notification
RRB NTPC भर्ती -लिखित परीक्षा, प्रवेश पत्र और चुनौतियों की जानकारी देखेसरकारी नौकरी की तैयारी कैसे करे | रोजगार समाचार | 10 वीं 12 वीं पास जॉब/ भर्ती Sarkari Naukri in Hindi 
  • कोरोना लगातार बढ़ रहा है, ऐसे में विश्वविधालयों की परीक्षाएं सोशल डिस्टेसटिंग के साथ कराया जाना संभव नहीं है |
  • अगर फिर भी परीक्षाएं आयोजित कराई जाती है, तो शिक्षकों और विधार्थियों में कोरोना संक्रमण बढ़ सकता है |
  • समिति ने कहा, कि दूसरे राज्यों की तर्ज पर यूपी में भी विधार्थियों को बिना परीक्षा के ही प्रोन्नत किया जाना चाहिए |
  • इसके लिए समिति ने अपनी रिपोर्ट में विधार्थियों को प्रोन्नत करने का फार्मूला भी दिया है |
  • प्रदेश में विश्वविधालयों और महाविधालयों को मिलाकर लभभग 48 लाभ विधार्थी अध्यनरत है |

परीक्षाओं पर अंतिम निर्णय 02 जुलाई को होगा-

उत्तर प्रदेश में महाविधालयों और विश्वविधालयों की परीक्षाएं होंगी या नहीं | इस बात पर निर्णय 02 जुलाई को किया जायेगा | क्योंकि उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा के अनुसार अनलॉक 2 की गाइडलाइन जारी होने के बाद ही निर्णय लिया जायेगा |

12 वीं के बाद क्या करें और जाने आगे की तयारी कैसे करेकॉलेज के फर्स्ट ईयर और सेकंड ईयर सीधे होंगे पास केवल फाइनल ईयर की परीक्षा होगी – HRD Minister
(Admit Card) कब आरआरबी एनटीपीसी & ग्रुप डी परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी होंगे? www.rrbcdg.gov.in परीक्षा तिथिजुलाई में होंगी कॉलेजों और विश्वविधालयों की परीक्षाएं-यूजीसी ने संस्थान को दिए निर्देश

नोट-दोस्तों परीक्षाएं होनी चाहिए या नहीं ? इसके बारे में कमेंट कर जरूर बताये-धन्यवाद

follow us for social updates

17 thoughts on “विश्वविधालय की परीक्षाएं नहीं होंगी-उत्तर प्रदेश के 48 लाख विधार्थी होंगे प्रोन्नत

  1. Neetu Sagar

    Sir bstc 1st year ki exam hongi ya nahi please sir reply

    Reply
  2. Sandeep Singh

    Sir ITI me jin ladko k back lga h unke exam hoge ki nhi

    Reply
  3. Pradip Kumar

    Koi exam nhi hone chahiye jan rhega to bhut kuch milega sabko rpass kr diya jaye

    Reply
  4. DHARMESH KARDAM

    final year exam is to be held because it creates unnecessary specification among student

    Reply
  5. Gulfam Saifi

    Both options should be opened.

    :- Students whose did not want to examine should
    be promoted with a percentage less than 60%.

    :- Students whose want to examine, give your
    exams in online mode only.

    :-

    Reply
  6. Gyandeep Gautam ( student of ias)

    Exam hona chahiye .Kyu ki Jo students hard work liye hai unaka kya hoga

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *