Scrap Certificate दिखाओ और नया वाहन खरीदने पर पाओ विशेष छूट-25 सितम्बर के बाद शुरू New Scrap Policy शुरू |

By | August 23, 2021

Scrap Certificate दिखाओ और नया वाहन खरीदने पर पाओ विशेष छूट,Scrap Certificate दिखाने पर नया वाहन लेने पर मिलेगी छूट, new vehicle scrappage policy की प्रक्रिया 25 सितम्बर के बाद शुरू होगी,Scrap Certificate का लाभ निजी एवं Commercial दोनों Type के वाहनों पर छूट मिलेगी |

स्क्रैप पॉलिसी के बारे में तो आपने सुना ही होगा हमारे देश में प्रधानमंत्री जी के द्वारा प्रदूषण को कम करने के लिए और इंधन की बचत करने के लिए इस पॉलिसी की शुरुआत की जा चुकी है। इस पॉलिसी के अंतर्गत जितने भी हमारे देश में 15 साल से पुराने होंगे तो उनका फिटनेस टेस्ट पास करना अनिवार्य होगा l फिटनेस टेस्ट के बाद फिर उन्हें एक Fitness Certificate मिलेगा परंतु जो वाहन Fitness Test में fail हो जाएंगे  उन वाहनों को आप सड़क पर नहीं चला सकेंगे और उन्हें स्क्रैप में बेचना पड़ेगा |

इस नई पॉलिसी के तहत अगर कोई व्यक्ति अपने पुराने वाहन को बेचकर Scrap Certificate लेता है तो उस के माध्यम से उसे अनेकों प्रकार के फायदे भी होंगें l इसीलिए यह पॉलिसी अब आने वाले दिनों में पूरे देश में लागू की जा रही है ताकि देश को सुरक्षित बनाया जा सकें |

नए वाहन खरीदने पर मिलेगी छूट

आने वाली 25 सितंबर 2021 को New Scrap Policy पूरे देश में आरंभ कर दी जाएगी | इसीलिए हर एक व्यक्ति इस पॉलिसी का लाभ भी उठा सकेगा | अगर कोई व्यक्ति इस पॉलिसी के तहत अपने पुराने वाहन को स्क्रैप में बेचता है, तो उसे नया वाहन खरीदने पर 5% की छूट दी जाएगी | पहले तो यह नियम सरकारी वाहनों के लिए लागू होंगे और उसके पश्चात 1 अप्रैल 2022 से जो व्यक्ति अपने 15 साल से पुराने वाहनों को स्क्रैप में बेचना चाहता है तो वह बेच सकता हैं l यदि वाहन Fitness Test में पास नहीं होगा तो फिर तो वाहनों को स्क्रैप में बेचना अनिवार्य होगा |

Scrap Certificate News

यदि कोई भी व्यक्ति पुराने वाहन को Scrap में बेचकर Scrap Certificate लेकर New Vehicles को खरीदना चाहते हैं, तो उसे नए वाहन की Registration पर भी कोई Fee नहीं देनी होगी | इसके अतिरिक्त Road Tax में भी उस व्यक्ति को 25% तक की छूट दी जाएगी |

निजी तथा कमर्शियल वाहन स्क्रैप कब होंगे

अगर कोई व्यक्ति Commercial Vehicle खरीदता है तो पहले 8 साल तो हर 2 सालों में Fitness Test करवाना आवश्यक होगा | 8 साल के पश्चात Commercial Vehicles का हर साल Fitness Test कराना अनिवार्य होगा | अगर Fitness Test के दौरान आपका वाहन सड़क पर चलने लायक नहीं पाया जाता तो इस परिस्थिति में आपको अपने वाहन को Scrap में बेचना होगा |

निजी वाहनों को 15 सालों तक बिना Fitness Certificate के रखा जा सकता हैं, मगर 15 साल होते ही आपको फिटनेस टेस्ट कराना होगा | यदि Fitness Test के दौरान आपका वाहन पास हो जाता हैं, तो अगले 5 सालों के लिए यह मान्य कर दिया जाएगा | अगले 5 सालों में हर साल आपको अपने वाहन की जांच करानी होगी |

मगर आपका वाहन फिटनेस टेस्ट में पास ना होने की परिस्थिति में आपको इसे Scrap में बेचना होगा | क्योंकि Fitness Test में वाहन के fail हो जाने के पश्चात आप अपने वाहन को सड़क पर नहीं चला सकते | यदि पुलिस कर्मियों के द्वारा आपका वाहन सड़क पर पकड़ा जाता है तो वह उसी समय जप्त कर लिया जाएगा |

15 साल के बाद वाहनों पर कौन से टैक्स लगेंगे

अगर 15 सालों के पश्चात आप अपने वाहन का फिटनेस टेस्ट कर आते हैं और वह Fitness Test में पास हो जाता हैं तो इसके पश्चात आपको वाहन का रजिस्ट्रेशन करवाना महंगा पड़ेगा | क्योंकि 15 साल से भी ज्यादा पुराने वाहन पर आपको 10% से लेकर 25% तक का Green Tax भी देना पड़ सकता है | इसके अतिरिक्त आपको Vehicle Registration कराने के लिए भी ज्यादा पैसे देने होंगे |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *