सालों बाद निकली भर्तियां-आयु सीमा में छूट नहीं मिलने से हजारों बेरोजगारों को हुआ नुकसान, सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों को अधिक नुकसान |

By | July 21, 2021

सालों बाद निकली भर्तियां, राजस्थान प्रदेश में कई सालों के बाद Head Master Praveshika और College Lecture भर्तियों में आयु सीमा की छूट नहीं मिली, Over age हुए बेरोजगार अभ्यर्थी परीक्षा से पहले ही बाहर हुए, राजस्थान Ayurveda Doctor , हेडमास्टर प्रवेशिका और कॉलेज व्याख्याता भर्तियों में सामान्य श्रेणी अभ्यर्थी को अधिक नुकसान हुआ |

वैसे तो जब हर सरकार बनती है, तो सत्ता में आने से पहले सभी पार्टी यही कहती है, कि जैसे ही उनकी सरकार बनेगी तो बेरोजगार युवाओं की हर मुश्किल का समाधान कर देगी | बेरोजगार युवा से यही वादे किए जाते हैं, कि सरकार बेरोजगार युवाओं को नौकरी देगी उनके भविष्य के लिए काम करेगी | परंतु जैसे ही इन पार्टियों की सरकार बनती है तो बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरियों के नाम पर सिर्फ आश्वासन ही दिया जाता है |

यह सिर्फ एक राज्य की बात नहीं हर राज्य में परिस्थितियां ऐसी ही है | सरकार अगर कोई भर्ती निकालती भी है, तो भर्तियों में आवेदन करने वालों की संख्या लाखों-करोड़ों में होती है और भर्तियों में पदों की संख्या ऐसे होती है कि जैसे ऊंट के मुंह में जीरा हो | राजस्थान में भी हालात किसी से छुप नहीं पाए हैं |

राजस्थान में सरकार के द्वारा नियमित रूप से भर्तियां निकालने के लिए कोई सिस्टम ही नहीं बनाया गया है | कई विभाग ऐसे हैं जिनमें नई भर्तियां आए सालों बीत चुके हैं, लेकिन सरकार को कोई होश नहीं है | सरकार आए दिन नई भर्तियां निकालती तो है, लेकिन यह भर्तियां सिर्फ और सिर्फ अखबारों की सुर्खियों में ही देखने को मिलती हैं |

Rajasthan State Various Type Bharti Age Limit News

लाखों विद्यार्थी हर वर्ष भर्तियों का इंतजार करते हैं कुछ विधार्थी ऐसे हैं, जो पिछले कई वर्षों से सरकारी नौकरी का इंतजार तो कर रहे हैं, परंतु भर्ती कब आएगी यह कोई नहीं जानता | इसी वजह से कुछ विद्यार्थी ऐसे हैं जिनकी आयु अधिक हो जाती है और वह सरकारी नौकरी में आवेदन करने के पात्र ही नहीं रह पाते हैं |

कुछ भर्तियों को सरकार ने पहले ही अटका रखा है अब ऐसे में नई भर्तियां ना आने के कारण इन विद्यार्थियों के भविष्य पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं | हर वर्ष हजारों की संख्या में अलग-अलग विभागों में कर्मचारी रिटायर होते हैं परंतु उनके खाली रह गए पदों पर नई भर्तियां नहीं निकाली जाती है | इसी वजह से राज्य के  बेरोजगार युवा काफी आक्रोश में रहते हैं |

समय पर भर्तियां नहीं होने से सामान्य श्रेणी को अधिक नुकसान-

वर्तमान में भर्तियों में अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष निर्धारित की गई है, यदि कोई 3 वर्ष से भर्ती ना निकली हो तो सरकार के द्वारा उस भर्ती में आवेदन करने के लिए 3 वर्ष की आयु सीमा की छूट दी जाती है | अब ऐसे में सामान्य श्रेणी के विद्यार्थियों का यह कहना है, कि सबसे ज्यादा नुकसान सामान्य श्रेणी के विद्यार्थियों को हो रहा है |

क्योंकि सामान्य श्रेणी के विद्यार्थियों को पहले ही आयु सीमा में छूट नहीं मिलती है | आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु सीमा में छूट भी दी जाती है और भर्तियां अगर देरी से हो रही है तो उसमें भी काफी टूट दी जाती है | सामान्य श्रेणी के विद्यार्थियों को सिर्फ तीन वर्ष की छूट दी जाती है, जिस वजह से काबिल विद्यार्थी भी परीक्षा नहीं दे पाते हैं | इसीलिए विद्यार्थियों का यह कहना है कि यदि भर्ती 5 वर्ष लेट आ रही है तो सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों को कम से कम 5 वर्ष की आयु सीमा में छूट अवश्य मिलनी चाहिए |

यह भर्तियां हो रही है बहुत वर्षों के पश्चात

हम आपको सरकार के द्वारा कुछ ऐसी भर्तियों के उदाहरण दे रहे हैं जो किया 2 वर्ष के पश्चात नहीं बल्कि 10 साल से अधिक वर्षों के पश्चात एवं 5 वर्षों से अधिक वर्षों बाद निकाली जा रही है | आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Head Master Praveshika के 83 पदों पर हाल ही में ही राजस्थान सरकार के द्वारा भर्ती निकाली गई है और इस भर्ती में आवेदन देने की प्रक्रिया 14 जून 2021 से शुरू हो चुकी है, इसकी अंतिम तारीख 13 जुलाई 2021 है |

आपको जानकर हैरानी होगी कि यह भर्ती 2004 में निकाली गई थी वर्ष 2004 के बाद यह भर्ती वर्ष 2021 में यानी कि 17 वर्षों बाद निकाली जा रही है | लेकिन इस भर्ती में आवेदन करने वाले विद्यार्थियों का यह कहना है, कि इसमें आवेदन करने के लिए सिर्फ 3 वर्षों की अधिकतम आयु सीमा में छूट दी जा रही है, जो बेरोजगारों के साथ धोखा है |

राजस्थान आयुर्वेद डॉक्टर भर्ती-

राजस्थान में दिसंबर 2020 में आयुर्वेद डॉक्टर के पदों पर भर्ती निकली थी, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह भर्ती 8 वर्षों के बाद निकाली गई थी | इस भर्ती में आवेदन 28 जून से लेकर 23 जुलाई तक स्वीकार किए गए है | आयुर्वेद डॉक्टर के 597 पदों पर भर्ती निकाली गई है |

RPSC कॉलेज प्रोफेसर भर्ती

राजस्थान सरकार के द्वारा College Lecturer के पदों पर हाल ही में भर्ती निकाली गई है | यह भर्ती 6 वर्षों के बाद निकाली जा रही है | इसके पहले कॉलेज प्रोफेसर की भर्ती वर्ष 2014 में निकाली गई थी | इस भर्ती में आवेदन करने के लिए भी सिर्फ 3 वर्षों की आयु में छूट दी गई है | विद्यार्थियों के द्वारा यह कहना है कि यदि सरकार के द्वारा आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई होती तो बहुत सारे अभ्यर्थी ऐसे हैं जो आवेदन कर पाते |

मोटर वाहन उप निरीक्षक भर्ती

मोटर वाहन उप निरीक्षक भर्ती अब 8 वर्षों के बाद निकाली जाएगी | इस भर्ती में आवेदन करने के लिए 5 वर्ष की अधिकतम आयु सीमा छूट दी गई है |

राजस्थान बेरोजगार संघ का कहना है कि भर्ती के नियमों में किया जाए परिवर्तन

सितंबर 2008 में यह प्रावधान बनाया गया था कि यदि राज्य सरकार के द्वारा कोई नई भर्ती नहीं निकाली जाती है तो विद्यार्थी को आवेदन करने के लिए आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट दी जाएगी l इस नियम को लागू किए 13 वर्ष होने वाले हैं परंतु अभी तक सरकार के द्वारा नियमों में संशोधन नहीं किया गया है l राजस्थान बेरोजगार संघ के दीपेंद्र शर्मा का यह कहना है कि राजस्थान सरकार के द्वारा इस नियम में परिवर्तन करके अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दे दी जानी चाहिए |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *