REET Paper Leek का आरोपी भजनलाल पुलिस की गिरफ्त से दूर-Black List कॉलेज को भी बनाया परीक्षा केंद्र |

By | October 19, 2021

REET Paper Leek का आरोपी भजनलाल पुलिस की गिरफ्त से दूर, रीट 2021 की परीक्षा में पेपर लीक का प्रकरण में शामिल मुख्य आरोपी भजनलाल अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है, SS College Jaipur Black List होने के बाद भी उसको रीट में परीक्षा केंद्र बनाया गया था, निजी बस ओपेरटर्स ने भी किया बड़ा खुलासा |

हाल ही में 26 सितंबर 2021 को आयोजित हुई रीट की परीक्षा में नकल के काफी अधिक मामले सामने आए हैं। जब से यह परीक्षा हुई है उस दिन से लेकर आज तक लगातार चर्चा का विषय बनी हुई है | जैसे-जैसे पुलिस प्रशासन के द्वारा इस परीक्षा से संबंधित धोखाधड़ी में आरोपियों को गिरफ्तार किया जा रहा है, तो आगे से आगे यह मामला उलझता ही जा रहा हैं, क्योंकि नए-नए चेहरे सामने निकल कर आ रहे हैं ,जिन्होंने इस भर्ती परीक्षा में पेपर लीक करवाया हैं |

आम लोगों के साथ-साथ बहुत से सरकारी कर्मचारी भी इस परीक्षा का पेपर लीक करवाने में शामिल थे जिन्हें प्रशासन के द्वारा गिरफ्तार करके सस्पेंड भी किया जा चुका है | हाल ही में इस बात का खुलासा हुआ है कि इस पूरी परीक्षा के पीछे जो मास्टरमाइंड है, उसका नाम भजनलाल बिश्नोई है | इस व्यक्ति ने हीं रीट की परीक्षा में नकल कराने की पूरी तैयारियां की थी |

यह व्यक्ति पूरा गिरोह चलाता है और अलग-अलग जिलों में इस गिरोह के व्यक्ति मौजूद रहते हैं जो हर एक प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यार्थियों को फसाकर उनसे पैसे लेते हैं | ऐसा बताया जा रहा है कि रीट की परीक्षा का मुख्य आरोपी भजनलाल ही है, मगर भजनलाल अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है | पुलिस प्रशासन लगातार भजन लाल की खोज में जुटा हुआ है |

राजस्थान की हर एक प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक कराने में , अहम योगदान होता है भजन लाल का

  • राजस्थान राज्य के पुलिस प्रशासन के द्वारा यह बताया गया है, कि वह शख्स भजनलाल ही है, जो राजस्थान राज्य में आयोजित होने वाली हर एक प्रतियोगी परीक्षा में नकल कराने की साजिश रचता है | राज्य में आयोजित हुई जिस किसी भी परीक्षा में धोखाधड़ी का मामला सामने आता है तो उसमें भजनलाल का नाम भी सामने आ ही जाता है | भजनलाल जालौर का रहने वाला है और ज्यादातर तो यह व्यक्ति बाड़मेर में ही रहता है | पुलिस प्रशासन के द्वारा यह सूचना दी गई थी बाड़मेर से लेकर जोधपुर और सवाईमाधोपुर में भी रीट की परीक्षा होने से पहले ही परीक्षा के question paper उम्मीदवारों के व्हाट्सएप नंबर पर भेज दिए गए थे |
REET Exam Paper leek & SS College jaipur
  • पुलिस प्रशासन के द्वारा भजनलाल के गिरोह में शामिल 6 आरोपियों के साथ-साथ 21 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जिनसे लगातार बातचीत चल रही हैं | परंतु अभी तक भजनलाल का कुछ भी पता नहीं हैं पुलिस प्रशासन के द्वारा भी लगातार छानबीन की जा रही है | राजस्थान राज्य के अलग-अलग जिलों की पुलिस लगातार भजनलाल की तलाश में लगी हुई है, जल्द ही इस आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा |

S.S. College को Black List होने के बाद भी बनाया गया रीट की परीक्षा का केंद्र

  • एसएस कॉलेज जोकि जयपुर के गोपालपुरा त्रिवेणी नगर में स्थित है l इस कॉलेज को पहले ही ब्लैक लिस्ट किया गया था मगर फिर भी बोर्ड के द्वारा इस कॉलेज को परीक्षा केंद्र बना दिया गया। इस कॉलेज के संचालक रामकृपाल है जिनको District Coordinator Pradeep Parashar ने पेपर वितरण करने की व्यवस्था भी दी थी। District Coordinator के द्वारा रीट की परीक्षा के प्रशन पेपर इन्हें दे दिए गए थे | जिसके पश्चात इन्होंने पेपर वितरण करने की व्यवस्था दूसरे निजी लोगों को दे दी थी। इन्हीं लोगों के माध्यम से रीट की परीक्षा के प्रश्नपत्र मुख्य आरोपी भजनलाल बिश्नोई तथा अन्य लोगों के पास पहुंचे, जिन्होंने आगे से आगे प्रश्न पत्रों को भेज दिए |
  • राज्यसभा के सांसद किरोड़ी लाल मीणा के द्वारा यह भी कहा गया कि जब कॉलेज को ब्लैक लिस्ट किया ही गया था, तो कॉलेज ब्लैक लिस्ट होने के बाद भी इसे रीट का परीक्षा केंद्र क्यों बनाया गया | इसके अतिरिक्त यह बात भी सामने आई कि इस कॉलेज के संचालक रामकृपाल की पत्नी ने भी रीट की परीक्षा दी थी तो, इसीलिए कहीं ना कहीं Question Paper Leak करवाने में कॉलेज के संचालक रामकृपाल का भी हाथ हो सकता है |

राजस्थान के निजी बस ऑपरेटर के द्वारा किया गया बड़ा खुलासा

  • राजस्थान सरकार के द्वारा राज्य में आयोजित होने वाली परीक्षाओं में शामिल उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए निशुल्क यात्रा की सुविधा दी जाती हैं। जैसे की रीट की परीक्षा में निशुल्क यात्रा की सुविधा दी गई थी | ठीक इसी प्रकार Patwari तथा RAS Recruitment में शामिल उम्मीदवारों को निशुल्क यात्रा की सुविधा दी जाएगी। इस सुविधा के लिए सरकार ने निजी बसों का इंतजाम भी किया है ताकि उम्मीदवारों को किसी भी तरह की दिक्कत ना हो l मगर Private Bus Operators का यह कहना है कि सरकार के द्वारा अभी तक निजी बस ऑपरेटरों को पूरा भुगतान नहीं किया गया है |
  • बस ऑपरेटरों का यह कहना है कि अकेले जयपुर में ही 700 से भी अधिक निजी बसों का डेढ़ करोड़ रुपए का भुगतान बकाया है। जब रीट की परीक्षा हुई थी तो उस समय Bus Operators को यह कहा गया था, कि सिर्फ 7 दिनों के अंदर ही भुगतान कर दिया जाएगा | मगर जयपुर सहित अनेकों जिलों में बस ऑपरेटर को पैसों का भुगतान नहीं किया गया है | इसीलिए Private Bus Operators Association के द्वारा मुख्यमंत्री जी को भी सूचित किया जा चुका है ताकि जल्द ही Private Bus Operators को बकाया राशि मिल सकें |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *