RBSE 10th & 12th Exam Pattern 2023-यहाँ से देखे परीक्षा से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी |

RBSE 10th & 12th Exam Pattern 2023, राजसथान शिक्षा बोर्ड अजमेर ने कक्षा दसवीं व बारहवीं परीक्षा 2023 के लिए नया परीक्षा प्रारूप जारी किया, RBSE परीक्षा में छोटे और बड़े सवालों का वैटेज 30-30 प्रतिशत रहेगा, 40 फीसदी ओब्जेक्टिव प्रकार के सवाल पूछे जायेंगे, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा जारी New Exam Pattern & Syllabus देखे |

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(RBSE) ने 2023 के लिए दसवीं तथा बारहवीं बोर्ड परीक्षा के लिए नया परीक्षा पैटर्न जारी कर दिया है। जिसमें अबकी बार सिलेबस में बदलाव किया गया है। इसमें 100% सवाल सिलेबस से ही पूछे जाएंगे। जिसमें 40 फ़ीसदी सवाल objective type के होंगे तथा 30-30 फ़ीसदी सवाल लघु स्तरीय और दीर्घ स्तरीय होंगे। यानी बोर्ड में ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों का ज्यादा वेटेज होगा। इसलिए उम्मीदवारों द्वारा, ऐसे प्रश्नों में ज्यादा से ज्यादा नंबर लाने का अच्छा अवसर होगा।

हालांकि यह पेपर करने के लिए उम्मीदवारों को 3 घंटे 15 मिनट का समय दिया गया है, जबकि पिछले पैटर्न के अनुसार उम्मीदवारों को 2 घंटे 45 मिनट का समय दिया जाता था। साथ ही अबकी बार choice के आधार पर सिर्फ निबंधात्मक प्रश्नों मे ही उम्मीदवारों को विकल्प दिया जाएगा। किन्हीं दो सवालों में से एक सवाल करने का विकल्प होगा। हालांकि अभी board द्वारा यह तय नहीं किया गया है, कि कुल प्रश्नों की संख्या कितनी होगी।

Schools Ranking List 2022-23

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

सुप्रीम कोर्ट ने कहा सोशल मीडिया कमेंट को लेकर गिरफ्तारी नहीं की जा सकती है-

लेकिन राजस्थान सरकार शिक्षा विभाग के शासन सहायक सचिव दीपक सोनी ने बताया है कि जल्द ही यह जानकारी भी बोर्ड द्वारा सार्वजनिक कर दी जाएगी। आइए विस्तार से राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के new exam pattern को विस्तार से जानते हैं।

RBSE New Exam Pattern

आरबीएसई द्वारा जारी नए परीक्षा पैटर्न मे आर्ट्स के छात्रों को होगा अधिक फायदा

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी किए गए New Exam Pattern मे ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों की संख्या ज्यादा होने से कुछ विषयों को ज्यादा फायदा होगा। जिसमें theory subject जैसे कि इतिहास, अंग्रेजी साहित्य, हिंदी साहित्य इत्यादि आर्ट्स विषयों को काफी फायदा होगा। क्योंकि ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों को ऐसे उम्मीदवारों द्वारा जल्दी से हल कर लिए जाएंगे।

जिससे उन्हें बाकी लघु उत्तरीय प्रश्नों तथा दीर्घ स्तरीय प्रश्नों को हल करने मे काफी समय मिल जाएगा। जिससे ऐसे उम्मीदवारों के नंबर ज्यादा आने की उम्मीद अधिक होगी। क्योंकि Math and Science जैसे विषयों मे ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों के होने से उन को हल करने में काफी समय लगेगा।

जिससे Math तथा Science वाले उमीदवारों के पास काफ़ी कम समय मिलेगा। तभी यह बोला गया है, कि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी किए गए नए परीक्षा पैटर्न मे आर्ट्स विषयो को ज्यादा फायदा मिलने जा रहा है। क्योंकि arts subject में पूछे गए ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों मे उत्तर विकल्प में ही मौजूद होता है। जिसमें ज्यादा सोचने की आवश्यकता नहीं होती है। जबकि मैथ और साइंस जैसे विषयों में ज्यादा सोचना पड़ता है। विकल्प में दिए गए उत्तरों को दिए गए प्रश्नों में से निकालना पड़ता है। देश को हल करने के लिए काफी समय लगता है।

साल 2022 की परीक्षा में कोरोना के कारण 70 प्रतिशत, सिलेबस ही पूछा गया था

बात की जाए 2022 में जब राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा कोरोना की वजह से 70% सिलेबस से ही प्रश्न पूछे गए थे। जिसको 2023 में बदलाव के बाद 100% syllabus के साथ कर दिया गया है। यानी अब सिलेबस के अनुसार ही सभी प्रश्न उम्मीदवारों को देखने को मिलेंगे। क्योंकि कई बार उम्मीदवारों को यह प्रश्न रहता था, कि सिलेबस से बाहर प्रश्न पूछे जा रहे हैं।

जिससे Board की परीक्षाओं में अच्छा स्कोर नहीं किया जा पाता था। जब इन बातों को बोर्ड के समक्ष रखा गया, तो बोर्ड ने इस बात पर सहमति दी और आगामी board परीक्षाओं में 100% सिलेबस जारी करने की बात कही।

क्योंकि उम्मीदवारों द्वारा यह कहा जाता था, कि 10वीं तथा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के बाद उनके इतने प्रतिशत अंक नहीं आ पाते थे। जिससे वे दिल्ली विश्वविद्यालय या इसके जैसे बड़े कॉलेज में admission लिया जा सके। क्योंकि देश के अन्य राज्यों के बोर्ड द्वारा 100% सिलेबस से ही क्वेश्चन पूछे जाते हैं ताकि उनके राज्य के बच्चे देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में आसानी से प्रवेश ले पाए।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार शिक्षा विभाग के शासन सहायक सचिव दीपक सोनी की टीम द्वारा new exam pattern जारी किया है। जिसके बाद अब राजस्थान के सभी बोर्ड उम्मीदवारों को काफी फायदा होने वाला है। सीबीएसई द्वारा भी इसी वजह से साल 2022 से 2 टर्म में परीक्षाएं आयोजित करवाई जा रही हैं। जिसमें पहले टर्म में objective type Questions पूछे जाते हैं। जबकि दूसरे टर्म में Theory से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

इसी वजह से सीबीएसई बोर्ड में पढ़ने वाले छात्रों के नंबर ज्यादा आते थे और उनको अच्छे कॉलेज मिल जाते थे। जबकि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से पढ़ाई करने वाले उम्मीदवारों को इतने अच्छे college नहीं मिल पाते थे। लेकिन अब सरकार द्वारा नए परीक्षा पैटर्न जारी होने के बाद, उम्मीदवारों को काफी लाभ मिलने वाला है।

जल्द ऑफिशियल वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे नए मॉडल टेस्ट पेपर

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी किए गए New Exam Pattern के बदलाव में अब उम्मीदवारों को नई तरह से तैयारी करनी होगी। क्योंकि exam pattern पूरी तरह से बदल दिया गया है। जब से राजस्थान बोर्ड द्वारा यह घोषणा की गई है, तो छात्र बड़ी असमंजस की स्थिति में है कि कैसे हम नए पैटर्न के अनुसार तैयारी कर सकते हैं। क्योंकि अगले साल March-April 2023 में राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दसवीं तथा बारहवीं कक्षा के पेपर लेने जा रहा है। ऐसे में छात्र पेपर को लेकर थोड़े चिंतित जरूर हैं।

डॉक्टर की सुंदर लिखाई के सामने प्रिंटिंग मशीन की लिखाई भी फेल

Rachit Agrawal रोजाना कमाते हैं 1 लाख 66 हजार रुपए

लेकिन Board द्वारा यह बताया गया है, कि जल्द ही राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अपनी official website पर मॉडल टेस्ट पेपर भी अपलोड करेगा। जिससे उम्मीदवारों को यह पता चलेगा कि आखिर बोर्ड के एग्जाम किस प्रकार होंगे। यानी बोर्ड नए परीक्षा पैटर्न के अनुसार मॉडल पेपर अपनी Official Website पर जारी करेगा।

मॉडल पेपर को सभी उम्मीदवार आसानी से देख सकते हैं। साथ ही इससे उनको पता चलेगा, कि तैयारी किस प्रकार करनी है। हालांकि board द्वारा यह भी बताया गया है, कि केवल नया परीक्षा पैटर्न जारी किया गया है, जबकि सिलेबस में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(RBSE )का दसवीं तथा बारहवीं का Syllabus वही पुराने स्तर पर ही लागू होगा। उसमें कोई भी बदलाव नहीं किया गया है। इसलिए छात्रों को ज्यादा से ज्यादा New Pattern पर आधारित प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करना होगा।

Official Website- Click Here

Leave a Comment