RBI शुरू करेगा Token System-धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों पर लगेगा अंकुश |

RBI शुरू करेगा Token System, Reserve Bank of India द्वारा धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए Token System जारी करने की संभावना है, Token System जारी होने से ग्राहकों के साथ धोखाधड़ी कम होगी, Token System का नियम 1 जनवरी 2022 से लागु होगा |

आज के समय में धोखाधड़ी काफी ज्यादा बढ़ चुकी हैं, लोग दिन प्रतिदिन धोखाधड़ी के शिकार हो रहे हैं और उनके साथ लाखों रुपए की ठगी की जाती है | यह सब इसलिए हो रहा है, क्योंकि हम ज्यादातर Online Payment की तरफ आकर्षित हो चुके हैं | ऑनलाइन पेमेंट के माध्यम से ही अपने सभी जरूरी कार्य करते हैं जैसे कि इलेक्ट्रिसिटी बिल, हाउस रेंट, पेमेंट ट्रांसफर, मोबाइल रिचार्ज आदि |

सभी काम हम Online Payment के माध्यम से ही करते हैं, इसके लिए हम अलग-अलग तरह की Online Payment Transfer Application भी इस्तेमाल करते हैं | अब तो लोग शॉपिंग भी लगातार ऑनलाइन करने लगे हैं | शॉपिंग के पैसे भी अपने कार्ड से ही ऑनलाइन कटवा देते हैं | लेकिन जब ऑनलाइन पेमेंट करते हैं, तो  डाटा भी उन वेबसाइट पर सेव हो जाता है |

जिसका फायदा धोखाधड़ी करने वाले लोग उठा लेते हैं | अब ऐसा बिल्कुल भी नहीं होगा, क्योंकि Reserve Bank of India के द्वारा एक नई व्यवस्था लागू की जाएगी जिसके माध्यम से धोखाधड़ी को पूरी तरह से रोका जा सकता हैं | अब से पहले जब हम किसी ऑनलाइन शॉपिंग की वेबसाइट से शॉपिंग करते थे और अपने Card से Payment करते थे तो हमारे कार्ड की जानकारी उस वेबसाइट पर Save हो जाती थी |

Govt Job Update & Exam Notes के लिए फॉर्म भरे

इसके माध्यम से हमें भी बार अपनी जानकारी नहीं देनी होती थी और हम बिना जानकारी दिए ही अपने मोबाइल फोन से शॉपिंग कर सकते थे | इसका फायदा हमारे अलावा दूसरा कोई व्यक्ति भी उठा सकता था, जो कि हमारे आस पास ही रहता हों | मगर नई व्यवस्था लागू हो जाने के पश्चात ऐसा नहीं हो सकता |

1 जनवरी 2022 से लागू की जाएगी टोकन व्यवस्था

Reserve Bank of India के द्वारा 1 जनवरी 2022 से पूरे देश में Token System लागू कर दिया जाएगा | इस टोकन सिस्टम के माध्यम से पूरी तरह से धोखाधड़ी रोकी जा सकती हैं | जो लोग इंटरनेट के माध्यम से दूसरे लोगों के साथ ठगी कर लेते हैं, तो उस ठगी को Token System के माध्यम से आसानी से रोका जा सकता हैं | RBI के माध्यम से टोकन व्यवस्था लागू हो जाने के पश्चात Online Payment System को पूरी तरह से सुरक्षित किया जाएगा |

RBI Token System News

अब से पहले जब ग्राहक ऑनलाइन शॉपिंग करता था, तो उसे अपने क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड का पूरा विवरण देना होता था या फिर कार्ड के साथ-साथ अपनी निजी जानकारी भी देनी होती थी | लेकिन अब ग्राहक को ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए अपने कार्ड का विवरण नहीं देना होगा, अपितु इसके लिए एक विशेष तरह का Code Generated होगा  जिसे टोकन काहा जाएगा |

टोकन एक Unique Code होगा और इसका फायदा यह होगा कि e-Commerce Website पर शॉपिंग करने के लिए ग्राहकों को अपने Credit Card या Debit Card का नंबर नहीं डालना होगा, उसकी जगह पर यह Token Number डालना होगा जोकि Online Payment करने से पहले ग्राहक को प्राप्त होगा |

कोई भी वेबसाइट कस्टमर के कार्ड का डाटा स्टोर नहीं कर सकेगी

ऐसा बताया जा रहा है, कि अब आने वाले दिनों में कोई भी ऑनलाइन वेबसाइट कस्टमर के कार्ड के डाटा तथा निजी जानकारी को स्टोर करके नहीं रख सकेगी | क्योंकि कस्टमर के डाटा को स्टोर करने की वजह से उसके साथ धोखाधड़ी भी हो जाती हैं | अब सिर्फ Credit Card या Debit Card जारी करने वाले बैंक या कार्ड नेटवर्क को ही Data Store करने की छूट दी जाएगी | अब कंपनियों को सिर्फ कार्ड और कस्टमर के नाम के सिर्फ 4 आखरी अक्षर ही स्टोर करने की अनुमति दी जाएगी |

टोकन सिस्टम किस प्रकार लोगों के लिए फायदेमंद होगा

  • टोकन सिस्टम लागू हो जाने के पश्चात आपके क्रेडिट और डेबिट कार्ड की जानकारी किसी भी Third Party Application के पास नहीं रह पाएगी और इस प्रकार आप ठगी का शिकार भी नहीं होंगे |
  • टोकन सिस्टम का इस्तेमाल करने वाले ग्राहक अपनी Transaction Limit भी तय कर सकेंगे और इस प्रकार भी धोखाधड़ी से बचा जा सकता हैं |
  • टोकन सिस्टम लागू हो जाने के पश्चात Tokenized Payment System में भाग लेने वाली सभी कंपनियों को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ रजिस्टर्ड होनी आवश्यक हैं |
  • टोकन सिस्टम लागू हो जाने के पश्चात ग्राहकों कि सभी जानकारियां गोपनीय हो जाएंगी और कोई भी उनके साथ धोखाधड़ी नहीं कर सकता |
  • आरबीआई के मुताबिक टोकन सिस्टम ग्राहकों की इच्छा पर ही निर्भर करता है | अगर कोई कस्टमर Token System का लाभ नहीं लेना चाहता तो उस पर किसी भी तरह का कोई दबाव नहीं दिया जाएगा | जो कोई व्यक्ति अपनी इच्छा अनुसार ऑनलाइन लेनदेन की सुरक्षा बढ़ाना चाहता है तो वह है इस सुविधा का लाभ ले सकता हैं |

Leave a Comment