RAS 2021 में दिव्यांगों को दिए गए 4% आरक्षण का हुआ उल्लंघन-पदों का वर्गीकरण सही तरीके से करने की मांग उठाई गई |

By | August 2, 2021

RAS 2021 में दिव्यांगों को दिए गए 4% आरक्षण का हुआ उल्लंघन, RPSC द्वारा जारी RAS विज्ञापन में पदों के वर्गीकरण को लेकर एक बार फिर से बवाल हुआ, RPSC सचिव शुभम चौधरी ने इस मामले में हस्तक्षेप करने से किया इनकार,

आरपीएससी के द्वारा ऐसे अभ्यर्थी जो आरएएस भर्ती 2021 का इंतजार कर रहे थे, उनके लिए ऑफिशल नोटिफिकेशन जारी करके खुशखबरी दी गई थी | परंतु यह खुशखबरी ज्यादा दिन तक नहीं चली, क्योंकि 20 जुलाई 2021 को जब आरएएस 2021 का नोटिफिकेशन जारी किया गया तो ऑफिशल नोटिफिकेशन में काफी अनियमितता देखने को मिली |

इसी चलते आरएएस 2021 भर्ती विवादों की भेंट चढ़ गई है | ओबीसी, एससी, एसटी के इलावा दिव्यांग उम्मीदवार को भी भर्ती में आरक्षण का प्रावधान बनाया गया है | आरएएस भर्ती की नियमावली में भी आरक्षण का प्रावधान है परंतु आरएएस भर्ती 2021 में कुल 988 पद पर भर्ती निकाली गई है |  प्रावधान के अनुसार कुल पदों का 4% 37 पद होते हैं, जो कि दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए आरक्षित होने थे |

परंतु आरएएस भर्ती 2021 में सिर्फ 31 पद ही दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए आरक्षित किए गए हैं | इसीलिए इस भर्ती में यहीं से बवाल शुरू हो गया इसके अलावा दूसरे राज्य के भूतपूर्व सैनिकों से संबंधित आरक्षण मामला भी विवाद का एक कारण बन चुका है | इन्हीं कारणों से एवं कुछ टेक्निकल खामियों की वजह से आरपीएससी द्वारा आरएएस भर्ती परीक्षा में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया को स्थगित कर दिया गया है |

RAS Bharti 2021 Vacancies News

विभाग के द्वारा यह कहा गया है, कि आरपीएससी द्वारा आरएएस भर्ती का नए नोटिफिकेशन जारी कब होगा यह समय आने पर ही पता चलेगा | कोशिश यही रहेगी कि जल्द ही विभाग के द्वारा नया नोटिफिकेशन और तारीख घोषित कर दी जाए | आरएएस भर्ती परीक्षा 2021 की प्रक्रिया स्थगित हो जाने के कारण काफी उम्मीदवारों में आक्रोश भी है, क्योंकि लंबे समय से अभ्यर्थी इस भर्ती का इंतजार कर रहे थे |

आरपीएससी सचिव शुभम चौधरी ने इस मामले में हस्तक्षेप करने से किया इनकार

संसद के छठे चैप्टर में 34 वे पॉइंट में 4% आरक्षण का प्रावधान है l वही दूसरी ओर राजस्थान राज्य पत्र के चैप्टर 3 में पांचवें पॉइंट पर रिजर्वेशन ऑफ़ वेकेशन में भी 4% आरक्षण का प्रावधान बनाया गया है | जब इस मामले में आरपीएससी सचिव शुभम चौधरी से बात की गई तो उनका यह कहना है, कि विभाग का काम खाली पदों का वर्गीकरण करना नहीं बल्कि खाली पदों को विज्ञापित करना है |

इसीलिए वह इस मामले में कुछ नहीं कर सकते है | उनका यह कहना है कि पदों का वर्गीकरण करना डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल का कार्य है इस मामले में आगे क्या करना है, यह जवाब सिर्फ डीएपी ही दे सकता है | आरपीएससी सचिव ने प्रत्यक्ष रूप से इस मामले में कुछ भी टिप्पणी करने से मना कर दिया है | इसी के इलावा आरएएस 2018 भर्ती में विवाद अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है | 2018 में इंटरव्यू में हुए घोटाले एवं अन्य घोटाले भी सामने आ रहे हैं | लगातार अभ्यर्थियों के द्वारा आरएएस भर्ती परीक्षा 2018 में हुई धांधली के खिलाफ आवाज भी उठाई जा रही है |

follow us for social updates

One thought on “RAS 2021 में दिव्यांगों को दिए गए 4% आरक्षण का हुआ उल्लंघन-पदों का वर्गीकरण सही तरीके से करने की मांग उठाई गई |

  1. Pawan Kumar yadav

    मैं भी दिव्यांग हुं और दिव्यांगों के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *