rajshaladarpan.nic.in Rajasthan Teachers Online Attendance Login

By | February 12, 2020

rajshaladarpan.nic.in Rajasthan Teachers Online Attendance Login, राजस्थान में शिक्षकों को अब हाजिरी ऑनलाइन करनी होगी, राजस्थान के सभी सरकारी विधालयो के शिक्षकों को अब अपनी हाजिरी शाला दर्पण पर भेजनी होगी, शाला दर्पण पर ऑनलाइन हाजिरी लगाने के लिए यूजर नाम और पासवर्ड की आवश्यकता होगी, सभी अध्यापक शाला दर्पण की अधिकारिक वेबसाइट को विजिट कर अपनी अटेंडेंस लगा सकते है-http://rajshaladarpan.nic.in/sd3/Home/Public2/Default.aspx

नई सूचना देखे-राजस्थान सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी विधालयों के शिक्षकों के आदेश जारी कर दिया है, कि सभी अध्यापको को अपनी हाजिरी (अटेंडेंस) शाला दर्पण की वेबसाइट पर लगानी होगी, जो शिक्षक समय पर अपनी हाजिरी नहीं लगाएगा, उनकी तनख्वाह काटी जाएगी, अधिक जानकारी के लिए शाला दर्पण की वेबसाइट को जरूर विजिट करे-धन्यवाद

नमस्कार दोस्तों-SMC Education टीम आपको आज इस पेज में शाला दर्पण पर कैसे अपनी ऑनलाइन हाजिरी लगती है, उसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी, इस पेज को आप अंत तक जरूर देखे,अगर आपको हमारी टीम द्वारा दी गई सूचना अच्छी लगे, तो आप इस सूचना को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया (वाट्सअप, फेसबुक) पर भी जरू शेयर करे-धन्यवाद

राजस्थान की सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी विधालयों के शिक्षकों के आदेश जारी किये है, कि सभी शिक्षक/ शिक्षिका अपनी हाजिरी शाला दर्पण की वेबसाइट पर भेजेगा, अगर कोई शिक्षक विधालय के समय पर अपनी हाजिरी नहीं भेजता है, तो उस शिक्षक/ शिक्षिका की उस दिन की तनख्वाह काटी जाएगी| शिक्षा विभाग में कार्मिको की ऑनलाइन उपस्थिति शाला दर्पण पर शुरू हो गई है|

अब विधालयो में शिक्षकों और अन्य कार्मिको को शाला दर्पण पर रोजाना सुबह उपस्थिति भरनी होगी| इसके लिए माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी और संस्था प्रधानों को निर्देश दिए हैं। यदि साढ़े दस बजे तक उपस्थिति ऑनलाइन नहीं की जाती है, तो कार्मिक को अनुपस्थित मानकर उस दिन का वेतन आहरित नहीं होगा। साथ ही विभागीय कार्रवाई भी होगी।

निदेशक के अनुसार सभी कार्मिकों को अवकाश के लिए भी पोर्टल पर स्टाफ लॉगिन में जाकर आवेदन करना होगा। संस्था प्रधानों के लिए भी अवकाश स्वीकृति विकल्प शुरू किया गया है, अधीनस्थ कार्मिक का अवकाश स्कूल लॉगिन से स्वीकृत, निरस्त किया जा सकता है। ऑफलाइन आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।
ऑनलाइन आवेदन जरूरी: यदि कोई कार्मिक ऑनलाइन आवेदन नहीं करता और अनुपस्थित रहता है, तो उसकी प्रविष्टि स्वेचछा से अनुपस्थित के रूप में मानी जाएगी।

यह राज्य स्तरीय कार्यक्रम है, शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए इसकी मॉनिटरिंग पीईईओ, सीबीईओ, डीईओ, सीडीईओ, संयुक्त निदेशक, निदेशक स्तर पर की जा रही है।

अब सरकारी स्कूलों के सभी शिक्षकों और कार्मिको के बनेंगे आईडी कार्ड

राजस्थान प्रदेश के सभी सरकारी शिक्षकों और कार्मिको के परिचय-पत्र बनाये जायेंगे| इस प्रक्रिया के लिए राजस्थान स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए गए है| परिचय-पत्र बनाने का सरकार का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों की पहचान सुनिश्चित करना है| इस प्रक्रिया में प्रदेश के सभी प्रारम्भिक शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा के सभी अध्यापको के पहचान के रूप में आईडी कार्ड तैयार किये जायेंगे|

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एक कार्ड पर लगभग 30 से 35 रूपये का खर्चा करना तय किया है | इस प्रक्रिया को लेकर प्रदेश के कई लाख शिक्षक विरोध कर रहे है, उनका कहना है-प्रदेश में कई ऐसे विधालय भी जँहा पर पर्याप्त संसाधन नहीं है, जिसके कारण से अध्यापक/ अध्यापिका अपनी उपस्थिति ऑनलाइन दर्ज नहीं करवा सकते है| प्रदेश की सरकार को पहले सभी विधालयो में सभी संसाधन उपलब्ध करवाए जाये| और उसके बाद में यह ऑनलाइन उपस्थिति की प्रक्रिया को शुरू करना चाहिए|

कैसे दर्ज होगी शिक्षकों और कार्मिकों की ऑनलाइन उपस्थिति

  • सबसे पहले आप शाला दर्पण की अधिकारिक वेबसाइट को विजिट करे-http://rajshaladarpan.nic.in/sd3/Home/Public2/Default.aspx
  • उसके बाद आप अपनी लॉगिन करे |
  • लॉगिन करने के बाद आप अपना यूजर नाम और पासवर्ड लगाए |
  • अगर आप अपना यूजर नाम और पासवर्ड भूल गए है, तो फिर नए यूजर नाम और पासवर्ड लगा सकते है |
  • अगर शिक्षक अपनी उपस्थिति स्वयं दर्ज नहीं कर पाता है, तो अपने विधालय के संस्थाप्रधान से भी लगवा सकता है|

सर्वर-01 शाला दर्पण वेबसाइट

सर्वर-02 शाला दर्पण वेबसाइट

सर्वर-03 शाला दर्पण वेबसाइट

सर्वर-04 शाला दर्पण प्रकोष्ठ संपर्क सूत्र

ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करने से समन्धित पूछे जाने वाले सवाल

अगर किस विधालय में कम्प्यूटर या इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है, उस विधालय के शिक्षकों को भी ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करवानी होगी?

हाँ, जी प्रदेश के सभी विधालयो के शिक्षकों और कार्मिको को ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करवानी होगी|

अगर कोई शिक्षक अनुपस्थित रहता है, तो उसके लिए भी वेब पोर्टल पर सुचना देनी होगी?

हाँ, जी जिस दिन शिक्षक अनुपस्थित रहता है, उस दिन की सूचना शाला दर्पण पर दर्ज करवानी होगी|

यदि कोई शिक्षक ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज नहीं करता है, तो क्या होगा?

शिक्षक जिस दिन अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं करता है, उस दिन की अनुपस्थिति मानकर शिक्षक की तनख्वाह काटी जाएगी और शिक्षक के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी|

ऑनलाइन उपस्थिति कौन दर्ज करेगा?

विधालय का संस्थाप्रधान अपने विधालय की लॉगिन आईडी से सभी शिक्षकों की उपस्थिति दर्ज करेगा|

नोट-हमारी टीम को यह सूचना सोशल मीडिया (वाट्सअप, फेसबुक, समाचार पत्र) के जरिये प्राप्त हुई थी, अगर सूचना किसी भी प्रकार से गलत पाई जाती है, तो इसके लिए हमारी टीम किसी भी प्रकार से जिम्मेदार नहीं रहेगी-धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *