राजस्थान में कोरोना रोकने के लिए दिशा-निर्देश जारी हुए-03 मई से 17 मई 2021 तक केवल सरकारी कार्यालय ही खुलेंगे |

By | May 1, 2021

राजस्थान सरकार ने कोरोना की स्थिति को देखते हुए 03 मई से 17 मई 2021 तक नए दिशा-निर्देश जारी किये है, नई Guide Lines के अनुसार केवल सरकारी कार्यालयों को ही पहचान पत्र के साथ खोलने की अनुमति रहेगी, शादी-समारोह में केवल 31 व्यक्तियों के शामिल होने की अनुमति रहेगी,

हम सभी भली-भांति जानते हैं, कि कोरोनावायरस का संक्रमण अब बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण पहले से भी ज्यादा लोग कोरोनावायरस की चपेट में आ रहे हैं। कोरोनावायरस के कारण सभी राज्यों में मरने वाले लोगों की संख्या में भी दिन-प्रतिदिन वृद्धि हो रही है। कोरोनावायरस के बढ़तें संक्रमण को रोकने के लिए सभी राज्यों में अलग-अलग निर्णय लिए जा रहे हैं, ताकि आम जनता को कोरोनावायरस से बचाया जा सके l इसी प्रकार राजस्थान सरकार ने भी कोरोनावायरस के चलते कुछ अहम फैसले लिए हैं यह अहम फैसले गृह मंत्रालय तथा भारत सरकार के आदेश अनुसार लिए गए हैं।

कोरोनावायरस की दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिए 3 मई 2021 से सुबह 5:00 बजे से लेकर 17 मई 2021 तक कोरोना महामारी का Red Alert जारी किया जाएगा। इस दौरान बहुत से कार्य Place बंद रहेंगे तथा राज्य के सभी लोगों को कोरोनावायरस से बचने के लिए सभी नियमों का पालन करना होगा। इस 14 दिन के लॉकडाउन में राशन की दुकानों को कुछ अवधि तक खोला जाएगा l इसके अतिरिक्त बहुत से ऐसे काम हैं जिन्हें थोड़ी छूट दी जाएगी, ताकि लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। आगे हम आपको राजस्थान राज्य में जारी की गई गाइडलाइन के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Contents

राजस्थान राज्य में 3 मई से 17 मई तक लगाया गया लॉकडाउन l

कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखकर राजस्थान में 3 मई 2021 सुबह 5:00 बजे से 17 मई 2021 सुबह 5:00 बजे तक कोरोना महामारी के चलते रेड अलर्ट जारी किया गया है। इस Red Alert के चलते सभी कार्य स्थल व्यवसाय और बाजार आदि बंद रहेंगे। कोरोना महामारी रेड अलर्ट के दौरान जन सामान्य की सुविधा तथा आवश्यक सेवाओं और वस्तुओं पर प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा।

महामारी रेड अलर्ट-जन अनुशासन पखवाड़ा (03 May to 17 May 2021)

Corona New Guidlines in Rajasthan State

जिन क्षेत्रों में 10% से अधिक संक्रमण तथा 60% से अधिक ऑक्सीजन बेड उपयोग में आ रहे हैं उन क्षेत्रों में अगले 14 दिनों तक लॉकडाउन लगाया जाएगा। राजस्थान राज्य में कोरोनावायरस के कारण वर्तमान समय में पॉजिटिविटी दर लगभग 21% हो चुकी है l 

राज्य के हॉस्पिटल्स में भी कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों के लिए जितने भी ऑक्सीजन बैड हैं उनमें से 90 % से 95% उपयोग में आ रहे हैं। इन परिस्थितियों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है, कि 14 दिनों तक लॉकडाउन लगा दिया जाए।

नई गाइडलाइन के अनुसार केवल यह कार्यालय खुले रहेंगे?

  • राजस्थान राज्य में जरूरी पहचान पत्र के साथ जिला प्रशासन पुलिस, विधि विज्ञान प्रयोगशाला, जेल, होमगार्ड कंट्रोल रूम तथा वन्यजीव विभाग, आयुर्वेद विभाग, पशुपालन विभाग तथा सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग, नागरिक सुरक्षा, अग्निशमन तथा आपातकालीन सेवाएं सार्वजनिक परिवहन, आपदा प्रबंधन, नगर निगम, नगर विकास प्रन्यास विद्युत, टेलीफोन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं चिकित्सा संबंधी सभी कार्यालय खुले रहेंगे l परंतु समस्त कार्यालयों का समय शाम 4:00 बजे तक रखा जाएगा। 
  • जो कार्यालय केंद्र सरकार से जुड़ी आवश्यक सेवाओं को प्रदान करते हैं। वह संस्थान भी खुले रहेंगे, परंतु वहां पर काम कर रहे व्यक्तियों को उपयुक्त पहचान पत्र दिखाना होगा।
  • यदि किसी कार्यालय अध्यक्ष को अपना कार्यालय खुलवाने की काफी ज्यादा आवश्यकता हो, तो उस स्थिति में राज्य स्तर पर गृह विभाग तथा जिला स्तर पर जिला कलेक्टर और जिला मजिस्ट्रेट की अनुमति लेनी होगी l तभी वह अपना कार्यालय खोल सकेगा।
  • जो कार्यालय खुलते हैं उनमें कर्मचारियों के बैठने की व्यवस्था 2 गज की दूरी को ध्यान में रखते हुए की जाएगी l बाकी के कर्मचारियों को घर पर रहकर ही काम करना होगा l कंपनी के द्वारा उन्हें Work From Home  दे दिया जाएगा।
  • यदि किसी भी कार्य स्थल पर कोई काम करने वाला व्यक्ति कोविड पॉजिटिव पाया जाता है, तो उस कार्यालय को अगले 72 घंटों के लिए बंद कर दिया जाएगा।
  • राजस्थान की इस गाइडलाइंस के अनुसार सभी निजी चिकित्सालय, लैब तथा उन में काम करने वाले डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, पैरामेडिकल तथा अन्य चिकित्सा सुविधाएं भी खुली रहेगी , परंतु वहां पर काम करने वाले व्यक्तियों को पहचान पत्र दिखाना होगा।

खाद्य पदार्थों से संबंधित गाइडलाइन l

राजस्थान राज्य ने अपने उपभोक्ताओं की आवश्यकता को मद्देनजर रखते हुए निम्नलिखित बाजारों को खोलने की अनुमति दी है तथा होम डिलीवरी की व्यवस्था भी उपलब्ध करवाई है, जैसे कि :-

  • सभी प्रकार के खाद्य पदार्थ तथा किराने का सामान और आटा चक्की से संबंधित रिटेल की दुकानें सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 6:00 बजे से लेकर सुबह 11:00 बजे तक खुली रहेगी।
  • पशुओं के चारे से संबंधित दुकाने सोमवार से शुक्रवार को सुबह 6:00 बजे से लेकर सुबह 11:00 बजे तक खुली रहेगी।
  • ऑप्टिकल संबंधी दुकानें भी मंगलवार तथा शुक्रवार को सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक खुलेगी।
  • कृषि खाद्यान विक्रेताओं की दुकानें भी सोमवार तथा गुरुवार को सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक खुलेगी।
  • डेयरी तथा दूध की दुकानें प्रतिदिन सुबह 6:00 बजे से लेकर 11:00 बजे तक खुली रहेगी और शाम 5:00 बजे से 7:00 बजे तक भी खुली रहेंगी।
  • सब्जी मंडी प्रतिदिन सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक खुली रहेगी। सब्जियां तथा फलों के ठेले साइकिल, रिक्शा , ऑटो रिक्शा आदि प्रतिदिन सुबह 6:00 बजे से लेकर शाम 5:00 बजे तक खुले रहेंगे।
  • राशन की दुकानें भी बिना किसी अवकाश के खुली रहेंगी और चिकित्सकीय उपकरणों से संबंधित दुकानें भी खोलने की अनुमति होगी l इसके अतिरिक्त मेडिकल शॉप्स भी खुली रहेंगी।
  • मिठाई की दुकानें , बेकरी, रेस्टोरेंट इत्यादि खोलने की अनुमति बिल्कुल भी नहीं होगी l परंतु होम डिलीवरी की सुविधा रात 8:00 बजे तक खुली रहेगी।

परिवहन सेवाओं से संबंधित गाइडलाइन?

  • बस स्टैंड , रेलवे स्टेशन तथा एयरपोर्ट से आने जाने वाले व्यक्तियों को टिकट दिखाने पर आने-जाने की अनुमति होगी, परंतु राजस्थान राज्य में आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पहले की कोरोनावायरस की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी l तभी उन्हें राज्य के अंदर आने की अनुमति है।
  • इस दौरान राज्य के अंदर माल परिवहन करने वाले भारी वाहनों को भी आने जाने की छूट दी जाएगी l माल के लोडिंग तथा अनलोडिंग कार्य के लिए भी अनुमति होगी। इसके अतिरिक्त राज्य मार्ग पर संचालित ढाबे तथा वाहन रिपेयर की दुकानें भी खुली रहेगी।
  • गर्भवती महिलाओं तथा रोगियों को भी छूट मिलेगी तथा स्वास्थ्य सेवाओं के लिए आने-जाने की अनुमति होगी।
  • टीकाकरण के लिए भी व्यक्तियों को अनुमति दी जाएगी, परंतु व्यक्तियों को अपने साथ में रजिस्ट्रेशन संबंधी दस्तावेज तथा पहचान पत्र आदि रखना होगा।
  • निजी वाहनों को भी आपातकालीन स्थिति में आने-जाने की अनुमति दी जाएगी, परंतु उन्हें अपने वाहन की बैठक क्षमता से 50% क्षमता तक की अनुमति दी जाएगी l निजी वाहनों को सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी तथा अन्य अति आवश्यक सेवाओं के लिए ही अनुमति दी जाएगी।

 समारोह आयोजन से संबंधित गाइडलाइंस?

  • यदि राज्य में किसी के भी घर पर विवाह समारोह का आयोजन किया जा रहा है, तो विवाह समारोह केवल एक ही कार्यक्रम के रूप में आयोजित किया जा सकता है। विवाह कार्यक्रम में सिर्फ 31 व्यक्तियों को आने की अनुमति होगी और यह कार्यक्रम 3 घंटे से ज्यादा नहीं चल सकता।
  • यदि किसी का भी विवाह है, तो उस व्यक्ति को विवाह कार्यक्रम आयोजित करने से पहले District Magistrate  से अनुमति लेनी होगी, तभी वह विवाह कार्यक्रम आयोजित कर सकता है l विवाह समारोह के दौरान सभी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा, यदि कोई भी व्यक्ति कोरोनावायरस के दिशा निर्देशों का पालन करता नहीं मिला, तो उस व्यक्ति पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और जुर्माना भी लगाया जाएगा।
  • यदि कोई भी व्यक्ति किसी व्यक्ति के अंतिम संस्कार में शामिल हो रहा है, तो हम आपको बता दें की, अंतिम संस्कार में भी 20 से अधिक व्यक्ति सम्मिलित नहीं हो सकते। इसके अतिरिक्त जो व्यक्ति अंतिम संस्कार में सम्मिलित होता है, तो उसे फेस मास्क पहनना होगा l दूसरे व्यक्तियों से 6 फुट की दूरी बनाकर रखनी होगी तथा सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना होगा।

धार्मिक स्थल से संबंधित दिशा-निर्देश देखे |

राजस्थान राज्य में सभी प्रकार के धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। जिन धार्मिक स्थलों में ऑनलाइन दर्शन करने की व्यवस्था है, तो श्रद्धालु ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं, फिर दर्शन करने के लिए आ सकते हैं l परंतु उन श्रद्धालुओं को भी 72 घंटे पहले की कोरोनावायरस की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी तभी वह दर्शन कर पाएंगे।

मनोरंजन से संबंधित Guidelines

राजस्थान राज्य में सभी सिनेमा हॉल, मल्टीकंपलेक्स, मनोरंजन पार्क आदि बंद रहेंगे। इसके अतिरिक्त स्विमिंग पूल तथा जिम खोलने की अनुमति भी नहीं होगी l समस्त प्रकार के खेल मैदान तथा सार्वजनिक स्थान सुबह 5:00 बजे से सुबह 11:00 बजे तक खुले रहेंगे, परंतु इस दौरान उन्हें कोरोनावायरस से बचने के सभी नियमों का पालन करना होगा।

शिक्षण संस्थानों से संबंधित गाइडलाइन – 

राज्य में सभी कोचिंग सेवाएं तथा लाइब्रेरी बंद रहेगी l फिलहाल राज्य में सिर्फ ऑनलाइन क्लासेस के माध्यम से ही छात्रों को पढ़ाया जाएगा।

सार्वजनिक परिवहन से संबंधित दिशा-निर्देश

  • राज्य सरकार के द्वारा या दिशा निर्देश दिए गए हैं कि ऑटो रिक्शा चालक को कुछ नियमों का पालन करना होगा उन्हीं नियमों के तहत उसे ऑटो रिक्शा चलाने की अनुमति होगी ऑटो चालक सिर्फ दो सवारी को ही बैठा सकता है l
  • टैक्सी या फिर नीचे चार पहिया गाड़ी में कुल क्षमता कि 50% सवारी ही बिठाई जा सकती है l
  • सार्वजनिक बस में भी कुल क्षमता की 50% सवारी ही बिठाई जाएगीl प्रत्येक यात्रा के बाद सभी वाहनों को अच्छे से साफ करने के लिए सैनिटाइजर का उपयोग किया जाएगा l
  • यदि कोई भी यात्री राजस्थान में राज्य के बाहर से आता है तो उस यात्री को यात्रा प्रारंभ करने के 72 घंटे के अंदर करवाई गई कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी यदि कोई यात्री रिपोर्ट दिखाने में असमर्थ है तो उसे 15 दिन के लिए क्वारंटीन किया जाएगा l
  • राज्य में जितने भी बाहर से यात्री आएंगे उन सब की थर्मल स्क्रीनिंग होना अनिवार्य है l राज्य सरकार के द्वारा यह फैसला लिया गया है, कि राज्य में प्रवेश द्वार पर अलग-अलग स्थानों पर बॉर्डर चेक पोस्ट की सुविधा सुनिश्चित करवाई जाएगी l
  • यदि कोई यात्री हवाई मार्ग के माध्यम से राजस्थान में आता है तो उसके भी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट की जांच की जाएगी l

अन्य सुविधाओं से संबंधित दिशा-निर्देश l

यदि किसी व्यक्ति को पेट्रोल और डीजल वाहन में भरवाना है, तो सुबह 7:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक ही भरवा सकेंगे l पेट्रोल पंप सुबह 7:00 से दोपहर के 12:00 बजे तक ही खुल पाएंगे l एलपीजी से संबंधित वितरण सेवाएं ग्राहकों को सुबह 6:00 बजे से शाम के 5:00 बजे तक ही मिल पाएगी l

ऐसी दुकाने जिनमें सामान का निर्माण किया जाता है,उन दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं है l परंतु दूरभाष अथवा इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से आर्डर के जरिए सामान सप्लाई किया जा सकता है l

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सामान्य निर्देश 

  • सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस में यह निर्देश दिए गए हैं, कि जितना हो सके लोग उतना घरों से कम निकले l
  • कार्यालय में अधिक कर्मचारियों को काम करने की अनुमति नहीं है l जो कर्मचारी कार्यालय में उपस्थित नहीं है, उनसे ऑनलाइन माध्यम से बैठक आयोजित की जा सकती है l
  • सरकार के द्वारा यह दिशा निर्देश दिए गए हैं, कि सभी स्थान जहां पर लोगों का प्रवेश और निकास होता है ऐसे सभी स्थानों पर हैंडवाश, सैनिटाइजर एवं थर्मल स्कैनिंग जैसी सुविधाएं होनी चाहिए l बार-बार सैनिटाइजर का उपयोग जरूर होना चाहिए l कार्यस्थल पर सभी कर्मचारियों को सामाजिक दूरी बनाकर ही कार्य करना होगा l सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा l
राजस्थान महामारी अधिनियम 2020 के अंतर्गत अपराध एवं दंड से संबंधित दिशा निर्देश l )

अपराध                                                           जुर्माना

यदि कोई व्यक्ति सार्वजनिक स्थान, कार्यस्थल पर बिना मास्क के पाया गया l500 रुपए
यदि कोई दुकानदार बिना मास्क लगाए वस्तुओं का विक्रय करता पाया गया l500 रुपए
यदि कोई व्यक्ति सार्वजनिक स्थान पर नशीले पदार्थों का उपयोग करते हुए पाया गया  l500 रुपए
ऐसा व्यक्ति जो परिवहन कर रहा हो, जैसे कि ऑटो ,रिक्शा, बस ट्रेन में बिना मार्क्स के यात्रा करता हुआ पाया गया l500 रुपए
यदि कोई व्यक्ति सार्वजनिक स्थान पर सामाजिक दूरी बनाकर नहीं रखेगा l100 रुपए
यदि कोई ऐसा विवाह समारोह या अन्य समारोह बिना किसी उपखंड मजिस्ट्रेट से लिखित में अनुमति लिए बिना आयोजित किया जाएगा और समारोह में एक सामाजिक दूरी बनाकर नहीं रखी जाएगी l5000 रुपए
विवाह से संबंधित ऐसा समारोह जिसमें 31 से अधिक व्यक्ति शामिल होंगे, तो लगाया जा सकता है जुर्माना l100000 रुपए
यदि कोई ऐसा कार्यस्थल जहां पर सैनिटाइजेशन एवं सामाजिक दूरी की पालना नहीं की जा रही होगी l10000 रुपए
सामाजिक, धार्मिक एवं राजनीतिक कार्यक्रम का सार्वजनिक आयोजन करवाने पर l10000 रुपए
follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *