Rajasthan Patwari बेसिक सैलरी, पे ग्रेड & अन्य देय भत्तों की जानकारी हिंदी में |

By | October 6, 2021

Rajasthan Patwari बेसिक सैलरी,पे ग्रेड & अन्य देय भत्तों की जानकारी हिंदी में, राजस्थान में पटवारी को कितनी सैलरी मिलती है, पटवारी को सैलेरी के अलावा Allowance कितना मिलता है, Rajasthan patwari को मिलने वाली Salary & Allowance की जानकारी देखे |

राजस्थान राज्य में ऐसे हजारों अभ्यार्थी मौजूद हैं, जो पिछले काफी समय से पटवारी के पदों के तहत भर्ती होने का इंतजार कर रहे हैं, मगर अब उनका इंतजार खत्म होने को हैं | क्योंकि राजस्थान सरकार के द्वारा Patwari के 5378 पदों पर रिक्तियां जारी कर दी हैं | रिक्तियां जारी होने के पश्चात उन छात्रों ने कमर कस ली है, जो कि पटवारी के पदों पर भर्ती होना चाहते हैं | अब आगे हम आपको पटवारी के पदों पर नियुक्त होने के पश्चात अभ्यार्थियों को कितनी Salary दी जाएगी और पटवारी का कार्य कैसा होता है, इसके बारे में बताएंगे ताकि आपके लिए पटवारी के पदों पर आवेदन देना वह भी ज्यादा आसान हो जाए |

राजस्थान राज्य में पटवारी की बेसिक सैलरी,पे ग्रेड कितनी है

राजस्थान राज्य में पटवारी के लिए सातवें वेतन आयोग के मुताबिक न्यूनतम ग्रेड वेतन ₹24300 है l लेकिन यह वेतन उन्हें 2 साल की अवधि के पश्चात ही दिया जाता हैं | जब कोई भी उम्मीदवार पटवारी के पदों पर नियुक्त होते हैं, उन्हें 2 साल के लिए प्रोबेशन पीरियड पर रखा जाता है और उन्हें महीने तक ट्रेनिंग भी दी जाती है | 

उम्मीदवारों को इस दौरान राज्य सरकार के द्वारा निर्धारित एक निश्चित पारिश्रमिक दिया जाता हैं | हम आपको बता दें की Patwari को 2 साल की अवधि तक अन्य भत्ते भी नहीं दिए जाते जैसे कि मकान का किराया, महंगाई भत्ता, शहरी मुआवजा भत्ता, यात्रा भत्ता व विशेष वेतन आदि |

पे ग्रेड24,000
बेसिक पे20,800
महंगाई भत्ता2496
मकान का किराया भत्ता1664
हार्ड ड्यूटी भत्ता1500
वेतन26,400
इन हैंड सैलेरी24,380
नेशनल पेंशन स्कीम2080

राजस्थान में पटवारी को मिलने वाले अन्य डेय भत्ते-

जब राजस्थान राज्य में किसी उम्मीदवार को पटवारी के पद पर नियुक्त किया जाता है, तो  वेतन के तहत वह सभी लाभ दिए जाते हैं जो कि सरकारी कर्मचारियों को दिए जाते हैं जैसे कि –

Rajasthan Patwari Salary & Basic Pay Grade News

पटवारी के पदों पर जो उम्मीदवार नियुक्त होते हैं तो उनको Government Quarters तो नहीं दिए जाते लेकिन उन्हें हर महीने मकान के किराए के रूप में भत्ता दिया जाता हैं |

पटवारी के पद पर नियुक्त होने वाले कर्मचारियों तथा उन पर आश्रित घर के दूसरे सदस्यों के उपचार के लिए भी चिकित्सा भत्ता दिया जाता हैं |

महंगाई भत्ता हर एक राज्यों में अलग-अलग होता है dearness allowance पटवारी के पद पर नियुक्त हुए कर्मचारियों को मूल वेतन के 113% के रूप में दिया जाता हैं |

पटवारी के पदों पर नियुक्त हुए कर्मचारियों को Central Pay Commission के दिशानिर्देशों के तहत pay and band के रूप में Medical तथा DA जैसे की Pension तथा अन्य लाभ भी दिए जाते हैं |

Patwari Job Profile Full जानकारी देखे-

पटवारी एक ऐसा पद होता है जो कि तहसीलदार के अधीन कार्य करता है | पटवारी को एक साथ 10 या उससे अधिक गांव की देखरेख भी करनी होती हैं | पटवारी सीधे किसानों से मुलाकात करते हैं और उनकी समस्याओं को सुनते हैं | उनकी समस्याओं को तहसीलदार के सामने रखते हैं अगर किसानों का भूमि से संबंधित है कोई भी विवाद है तो उस Land Dispute को निपटाने का कार्य अभी पटवारी ही करता हैं |

राज्य सरकार के द्वारा किसानों जितना भी भूमि कर ( Aggriculture Land Tax ) लेना होता है वह सब पटवारी ही एकत्रित करता हैं | सभी किसानों की land data भी Patwari के द्वारा ही Computer में Store करके रखा जाता हैं | पटवारी के पास गांव के सभी किसानों की जमीनों का डाटा स्टोर होता हैं |

अगर बाढ़ आपदा या फिर ओले पड़ने के कारण पटवारी के अधिकार क्षेत्र के किसानों की भूमि का नुकसान हुआ है, तो पटवारी के द्वारा ही उस पूरी भूमि का रिकॉर्ड बना कर तहसीलदार को सौंपना होता है | फिर राज्य सरकार के द्वारा पटवारी के हिसाब से बनाई गई रिपोर्ट के आधार पर ही ग्रामीण लोगों को मुआवजा भी दिया जाता हैं |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *