राजस्थान में पूर्ण Lockdown लग सकता है-सीएम गहलोत, शादी-समारोह एवं बसों पर पूर्ण पाबन्दी होगी |

By | May 5, 2021

कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजस्थान में पूर्ण Lockdown लगाया जा सकता है, सीएम गहलोत Virtual Meeting के बाद लेंगे निर्णय, बसों एवं निजी वाहनों की आवाजाही पर पूर्ण पाबन्दी होगी,शादी समारोह पर भी रोक लगाई जा सकती है,

भारत में कुछ राज्य ऐसे हैं जहां पर Lockdown  लगाया जा चुका है l परंतु अभी भी कुछ राज्य ऐसे हैं जिनमें Lockdown  की अवधि को बढ़ाया जा सकता है l Lockdown बढ़ाने का मुख्य कारण यही है, कि अभी कोरोनावायरस की चैन को तोड़ने में सरकार नाकाम रही है l सरकार के द्वारा अब यही प्रयास किए जा रहे हैं कि किसी भी तरह जनता गाइडलाइंस का पूरा पालन करें l इसीलिए ही सरकार के द्वारा नियमों में बदलाव करने की तैयारी हो चुकी है l आइए जानते हैं पूरी खबर के बारे में – 

कैबिनेट की Virtual Meeting के बाद होगा Lockdown पर फैसला |

बुधवार शाम को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में एक वर्चुअल बैठक आयोजित की जाएगी l इस वर्चुअल मीटिंग के दौरान कुछ अहम फैसले राजस्थान सरकार के द्वारा लिए जाएंगे l सरकार के द्वारा जो 17 मई तक पालन करने के लिए Guidelines जारी की गई है, उसमें कुछ शर्तो को आधार बनाते हुए कार्य करने की छूट दी गई है l सरकार दी गई छूट को हटाने का विचार बना रही है l आज की Metting हो जाने के बाद स्थिति साफ हो जाएगी l

निजी एवं सरकारी बसों एवं टैक्सियों की आवाजाही पर लगाई जा सकती है पूर्ण तरीके से रोक l

हम सभी यह जानते ही हैं, कि यह समय ऐसा है जिसमें काफी शादियां हो रही हैं l इसीलिए सरकार ने यह फैसला लिया है,कि वह सरकारी बस एवं टैक्सी पर रोक लगा दे l 

Rajasthan Me complete Lockdown lag sakta hai

लोगों को बस एवं टैक्सी जब नहीं मिलेगी तो शादियों एवं अन्य समारोह में जाने पर कुछ हद तक रोक लग सकती है lसरकार के द्वारा निजी वाहनों पर तो पहले ही रोक लगाई जा चुकी है l

शादी समारोह का आयोजन करने के लिए दी गई छूट पर भी लगाई जा सकती है रोक l

राजस्थान सरकार के द्वारा वर्चुअल मीटिंग में शादी समारोह पर पूरी तरीके से रोक लगाने के लिए भी तैयारियां शुरू हो चुकी हैं l सरकार के द्वारा 17 मई तक पालन करने के लिए जो गाइडलाइंस जारी की गई है उनमें शादी समारोह में 31 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी गई है l कोरोना के बढ़ते मामलों को देख कर शायद शादी समारोह में दी गई छूट वापस ली जा सकती है l

राज्य के ऐसे जिले जहां पर कोरोनावायरस के अत्यधिक मामले है वहां बन सकती है कंटेनमेंट जोन जैसी सख्ती l

राजस्थान के कुछ जिले जैसे कि जोधपुर, जयपुर ऐसे हैं जहां पर हालात बद से बतर होते जा रहे हैं l बुधवार कैबिनेट मीटिंग में ऐसे जिले जहां पर कोरोनावायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं वहां पर राज्य सरकार के द्वारा कंटेनमेंट जोन जैसी सख्ती लागू की जा सकती है l 

12:00 बजे से सुबह 5:00 बजे की अवधि में जीरो मोबिलिटी पर जोर दिया जाएगा l गृह विभाग के द्वारा संशोधित गाइडलाइंस आज शाम तक जारी कर दी जाएगी l

राजस्थान सरकार के मंत्रियों एवं विधायक का एक माह का वेतन कोविड-19 फंड में ट्रांसफर करने की हो चुकी है पूरी तैयारी l

वर्ष 2020 में जब कोरोनावायरस ने भारत पर अपनी कहर बरसाई थी तो राजस्थान सरकार के द्वारा मंत्रियों एवं विधायकों के वेतन कोविड Fund  में डाले गए थे l इस बार भी राज्य सरकार के द्वारा मंत्रियों एवं विधायक का एक माह का वेतन Covid Fund  में डाला जाएगा l वहीं दूसरी ओर ऐसे अधिकारी वेतन कम है उनके वेतन से 2 दिन का वेतन काटकर Covid Fund में डाला जाएगा l

राज्य में 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाने का कार्यक्रम जल्द ही जारी किया जाएगा l 18 वर्ष से अधिक लोगों को COVID Vaccine Dose लगाने के लिए विधायक फंड में से 600 करोड़ रूपया जुटाने की पूरी तैयारियां हो चुकी है l आज जो बैठक होगी उसमें हर विधायक के फंड से तीन करोड़ रुपए वैक्सीन के लिए बनाए गए प्रावधान पर मंजूरी दी जा सकती है l

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *