राजस्थान के सरकारी कॉलेज में Admission लेना हुआ मुश्किल-UG Course आवेदन अधिक आने से कट ऑफ बढ़ी |

By | October 25, 2021

राजस्थान के सरकारी कॉलेज में Admission लेना हुआ मुश्किल, 12वीं के बाद राजस्थान के सरकारी कॉलेजों में प्रवेश मिलना हुआ कठिन, इस बार स्नातक पाठ्यक्रम में आवेदन अधिक आने से Admission Cut Off बढ़ने की संभावना है |

राजस्थान राज्य में जितने भी छात्र बारहवीं कक्षा के पश्चात Government Colleges से Under Graduation Courses करना चाहते हैं, तो उन्होंने काफी दिनों से कॉलेजों में दाखिले के लिए आवेदन दिए हुए हैं l मगर इस बार Competition काफी ज्यादा हैं, क्योंकि ज्यादातर छात्रों के अंक 90% से भी अधिक हैं | क्योंकि 12वीं कक्षा में छात्रों को असेसमेंट के आधार पर ही पास किया गया |

इसीलिए काफी अधिक छात्रों के अंक 90% से ज्यादा हैं और इसी वजह से Government Colleges में दाखिले के लिए आवेदन करने वाले छात्रों की संख्या भी काफी ज्यादा है। पहले तो बहुत बार ऐसे भी होता था कि सीटें बहुत ज्यादा होती थीl लेकिन छात्रों की संख्या काफी कम होती थी। मगर अब की बार B.Com की सीटों को छोड़कर बाकी सब सीटों पर काफी ज्यादा संख्या में आवेदन आए हैं |

जिसकी वजह से छात्रों को Under Graduation Course में दाखिला मिलने में मुश्किल हो सकती है। ज्यादातर छात्रों का तो यही कहना है कि Government Colleges के द्वारा विभिन्न Courses की सीटों को बढ़ा दिया जाना चाहिए ताकि अधिक से अधिक योग्य छात्रों को कॉलेजों में दाखिला मिल सकें। अबकी बार कोरोनावायरस की वजह से एडमिशन लेट होने के कारण पहले ही छात्रों का समय काफी बर्बाद हो चुका हैं। अब ऐसे में कॉलेजों में दाखिले की प्रक्रिया में देरी होने से छात्रों का काफी ज्यादा नुकसान हो सकता हैं |

सरकारी कॉलेजों में दाखिले के लिए कुल 4,56,190 आवेदन आए

अबकी बार राजस्थान राज्य के 353 Government Colleges में सभी Courses के लिए कुल  2,01,123 सीटें हैं l जिन पर दाखिले के लिए 4,56,190 छात्रों ने आवेदन दिए हैं। Government Colleges में BA Course के लिए 1,38,425 सीटें हैं, जिन पर 3,78,969 छात्रों ने आवेदन दिए हैं |

Rajasthan state govt college admission news

इसके अतिरिक्त B.Sc Course के लिए कुल 32,391 सीटें हैं जिन पर 98,198 छात्रों ने आवेदन दिए हैं, BA और BSc Course में सीटों से भी कहीं ज्यादा छात्रों ने आवेदन दिए हुए हैं। मगर B.Com में 29720 सीटों के लिए केवल 18,049 छात्रों ने ही फॉर्म भरे हैं अब ऐसे में 11,671 सीटें खाली रह गई हैं। अबकी बार छात्रों ने B.Com Course में अपनी खास रुचि नहीं दिखाई हैं ज्यादातर छात्र BA और B.Sc Course में ही दाखिला लेना चाहते हैं |

ज्यादातर कॉलेज उच्च शिक्षा विभाग से पिछले साल की तरह , सीटें बढ़ाने की कर रहे हैं मांग

पिछले साल Higher Education Department के द्वारा 25% सीटों की बढ़ोतरी की गई थी क्योंकि छात्रों की संख्या काफी ज्यादा थी लेकिन इन सीटों पर छात्र दाखिला नहीं ले पाए थे। क्योंकि विभाग के द्वारा सीटें बढ़ाने में काफी देर कर दी गई थी l इसी वजह से ज्यादातर छात्रों ने इंतजार करने की जगह पर दूसरे Private Colleges में ही दाखिले ले लिए थे जिसके कारण पिछले साल काफी ज्यादा सीटें भी खाली रह गई थी |

RSMSSB VDO Syllabus & Handwritten Notes

राज्य में 2019-2020 में खुले ऐसे कई Government College हैं जिनमें b.a. की करीब 200 सीटें हैं। इसलिए ज्यादातर कॉलेज Higher Education Department से सीटें बढ़ाने की मांग कर रहे हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा छात्रों को कॉलेजों में दाखिला मिल सकें |

देरी से दाखिले होने की वजह से हो गया है सेशन बेपटरी

देश में कोरोनावायरस की वजह से और राजस्थान राज्य के Government Colleges में Late Admission शुरू होने की वजह से सेशन बेपटरी हो गया है। सभी सरकारी कॉलेजों में 18 अक्टूबर 2021 से पहले साल की कक्षाओं की पढ़ाई शुरू की गई हैं। वैसे तो अभी दाखिले की प्रक्रिया भी अच्छी तरह पूरी नहीं हुई है और इसी के चलते 29 अक्टूबर से 6 नवंबर तक दिवाली की छुट्टियां भी आ जाएंगी | अब ऐसे में छात्रों का काफी नुकसान होगा क्योंकि समय पर दाखिले हो जाते,तो अभी तक छात्रों का आधा कोर्स पूरा हो जाता |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *