Railway Group D में 450000 फॉर्म निरस्त हुए-Correction Form पर फैसला 26 जुलाई को होगा |

By | July 21, 2021

Railway Group D में 450000 फॉर्म निरस्त हुए, Railway Recruitment Cell में साढ़े चार लाख आवेदन हुए निरस्त, RRC में आवेदन फॉर्म निरस्त होने के बाद छात्रों ने ट्विटर चलाया आंदोलन, रेलवे ग्रुप डी भर्ती का मामला ट्विटर पर हुआ ट्रेंड, Correction Form पर फैसला 26 जुलाई को होगा |

ऐसे बहुत से अभ्यार्थी हैं जो अक्सर रेलवे की नौकरियों की तलाश में रहते हैं | लेकिन जब  रेलवे की नौकरी के तहत आवेदन देते हैं, तो फिर इन अभ्यर्थियों का आवेदन निरस्त कर दिया जाता है | बिल्कुल ऐसे ही कुछ अभ्यर्थियों के साथ  हुआ हैं | उन्होंने Railway Group D Recruitment के तहत आवेदन दिए थे,

लेकिन उनमें से 450000 छात्रों के Application Form निरस्त कर दिए गए है | इसी को लेकर सभी छात्र बहुत ज्यादा गुस्से में हैं , Group D Recruitment आवेदन फॉर्म निरस्त होने के कारण छात्रों ने ट्विटर पर एक आंदोलन भी किया है, जिसके तहत उन्होंने अपने इस मुद्दे को रखा हैं |

Contents

Railway Group D की भर्ती को लेकर सुनवाई होगी 26 जुलाई को

 Central Administrative Tribunal में इस मामले को लेकर सुनवाई शुरू हुई है और Video Conferencing के माध्यम से इस बात का पता चला है कि अगली सुनवाई 26 जुलाई 2021 को होगी और तभी इस मुद्दे पर अंतिम फैसला किया जाएगा | RRC Group D की परीक्षा के तहत 1.15 करोड़ अभ्यार्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किया था |

RRC ने 511000 छात्रों के आवेदन invalid photo तथा Signature के कारण निरस्त कर दिए थें | इसके पश्चात इन छात्रों ने जब इसके खिलाफ आवाज उठाई तो फिर RRC के द्वारा यह बताया गया कि सॉफ्टवेयर के द्वारा यह गलती हो गई है | फिर RRC के द्वारा फिर से उन छात्रों को फॉर्म जमा कराने को कहा गया है,जिनके फॉर्म निरस्त किए गए थें |

RRC Group D Form Correction News

लेकिन इस बार RRC ने सिर्फ 40422 आवेदन ही मंजूर किए अब इसके पश्चात 450000 आवेदन निरस्त माने गए | अब विद्यार्थियों का यह मुद्दा है कि जब RRC के द्वारा Software की गलती बता दी गई थी तो फिर उनके Application Rejected क्यों किए गए | Main Petitioner Rakesh Yadav का यह कहना है कि, सभी छात्र इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे हैं |

RRC के द्वारा यह जो भी किया जा रहा है उससे लाखों छात्रों का सपना भी टूट रहा है| इसके अतिरिक्त Twitter और फेसबुक के माध्यम से लाखों लोगों की नजरें इस मुद्दे पर हैं, क्योंकि अब इस मुद्दे को लेकर विद्यार्थियों ने Social Media पर भी मुहिम छेड़ी हुई है | इस मुहिम को आगे बढ़ाने वाले Amit Mishra का भी यह कहना है कि जब Software की गड़बड़ी सामने आ ही गई थी तो 450000 Applicants की तो इसमें कोई गलती नहीं थी | फिर सिर्फ 40422 छात्रों के आवेदन ही क्यों स्वीकार किए गए |

रेलवे ग्रुप डी की भर्ती का मुद्दा ट्विटर पर टॉप ट्रेंड किया

Petitioner’s Advocate सिद्धार्थ मिश्रा जी के मुताबिक 26 जुलाई 2021 को top 10 cases की सूची में इस मुद्दे को रखा गया हैं | Application Form  निरस्त हो जाने के पश्चात Railway Recruitment Cell से करीब 450000 छात्र काफी गुस्सा हैं | इसीलिए वह अब Twitter पर इस मुद्दे को लेकर एक आंदोलन छेड़ रहे हैं और इस मुद्दे को Twitter पर भी Top Trend कराया जा रहा हैं |

जब 18 जुलाई को सुबह 10:00 बजे यह मुद्दा Twitter पर trend करने लगा तो 30 मिनट के अंदर ही 65000 से भी अधिक विद्यार्थियों ने Tweet करके सभी छात्रों का समर्थन किया | शाम 6:00 बजे तक 629000 लोगों के साथ यह मुद्दा Twitter पर trend कर रहा था | RRC के खिलाफ प्रयागराज के छात्रों ने भी अपना ग्रुप बनाकर आंदोलन शुरू किया है | मुहिम को चलाने वाले छात्रों का यह कहना है, कि पूरी दुनिया में Twitter पर यह मुद्दा सुबह 10:00 बजे दूसरे नंबर पर था | जबकि शाम के समय Twitter पर यह मुद्दा नौवें स्थान पर था |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *