Rachit Agrawal रोजाना कमाते हैं 1 लाख 66 हजार रुपए-पूरे राजस्थान में हो रहे चर्चे l

Rachit Agrawal Kota Boy Story- हाल ही में ही राजस्थान के Rachit Agrawal काफी सुर्खिओ में है, रचित अग्रवाल राजस्थान राज्य के कोटा जिले मे शक्तिनगर के रहने वाले हैं, रचित अग्रवाल राजस्थान के वह पहले युवा हैं, जिन्हें सालाना 6 crore की भारी-भरकम Package की जॉब मिली हैं, चलिए पूरी ख़बर जानते हैं I

रचित अग्रवाल राजस्थान के वह युवा हैं, जो कि आजकल चर्चा में बने हुए हैं। चर्चा में बने रहने का कारण Rachit Agrawal को मिलने वाला सालाना 6 करोड़ रुपए का package है। आजकल जहां युवा शिक्षित होकर भी बेरोजगार घूम रहे हैं। उनको अच्छी नौकरी नहीं मिलती है। लेकिन रचित अग्रवाल जैसे युवा की कहानी बड़ी अलग है। जो अब युवा लोगों को प्रेरित कर रही है। आइए उनके पूरे सफर को जानते हैं।

Rachit Agrawal kota boy success story

कौन है रचित अग्रवाल?

रचित अग्रवाल राजस्थान राज्य के कोटा जिले मे शक्तिनगर के रहने वाले हैं। उनके पिता Rajesh Agrawal एक businessman है। जबकि उनकी माता Sangeeta Agrawal ग्रहणी है। रचित अग्रवाल राजस्थान के वह पहले युवा हैं, जो सालाना 6 crore की भारी-भरकम package पर जाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि रचित अग्रवाल को अमेरिका की कंपनी में मिलने वाली यह job, पढ़ाई खत्म होते ही मिली है।

बचपन से ही Rachit पढ़ने में बहुत होशियार था। वो कहावत है ना “पूत के पैर पालने में दिखते हैं “ यानी बचपन में अगर बच्चा तेज होता है। तो ज्यादातर यह देखा गया है, कि बच्चे का भविष्य शानदार होता है।

Govt Job Update & Exam Notes के लिए फॉर्म भरे

कैसे मिली है रचित को 2 करोड रुपए की Scholarship

जैसे कि हमने आपको बताया है, कि Rachit Agrawal बचपन से ही बहुत होशियार थे। अपनी शुरुआती education रचित ने कोटा से ही की थी।स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद, रचित ने engineering मे एडमिशन लिया। जिसके बाद उन्होंने United States की University से आगे की पढ़ाई के लिए मन बनाया।

US College मे एडमिशन के लिए उन्होंने स्कॉलेस्टिक एप्टीयूड का टेस्ट दिया। जिसमें वे अच्छी तरह पास हो गए।इस टेस्ट को पास करने के बाद उनको 2 करोड रुपए की scholarship मिली। उन पैसों से ही रचित ने olington University of Texas मे एडमिशन लिया। जिसमें उन्होंने computer science के साथ economics और दर्शनशास्त्र की पढ़ाई की।

Also Read This- संस्कृत भाषा मे की गई Cricket Commentary हुई वायरल-PM Modi ने भी शेयर किया Video

पढ़ाई के साथ रचित ने की 5 साल की Internship

रचित पढ़ने में पहले से ही होशियार था, इसलिए उसने बहुत सारे coding competition मे भाग लिया। कई सारे कंपटीशन उसने जीत लिए। साथ ही उसने 3 new start-up भी शुरू किये। इनमें दो स्टार्टअप के लिए खुद से जुगाड़ कर लिया। इसके लिए रचित ने घरवालों से कुछ भी पैसे नहीं मांगे।

पढ़ाई के साथ साथ रचित ने cryptocurrency company मे 5 साल की इंटर्नशिप भी की। यानी रचित बचपन से ही creative था। उसमें कुछ कर गुजरने की धुन सवार थी। इसी साल मई में रचित ने अपनी पढ़ाई भी पूरी कर ली।

पिता जी करते हैं फूड पैकेजिंग का काम

रचित के पिता राजेश अग्रवाल कोटा में ही food packaging का काम करते हैं। रचित का परिवार मिडिल क्लास से है। बेटे की 50 लॉक रुपए महीना नौकरी मिलने पर पूरा घर खुशी में डूबा हुआ है। परिवार और रिश्तेदार को यह विश्वास नहीं हो पा रहा है, कि रचित ने यह कैसे कर दिखाया है। पूरे कोटा शहर को Rachit Agrawal की कामयाबी पर बड़ी खुशी है।

Software Coding Team मे काम करेंगे रचित

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि रचित अग्रवाल US multinational company मे सॉफ्टवेयर कोडिंग टीम मे शामिल होंगे। उनको कंपनी से काफी negotiation के साथ 8 लाख यूएस डॉलर यानी 6 करोड़ का ऑफर मिला है। जिस पर रचित ने भी सहमति दे दी है।

रचित अग्रवाल को offer letter मिल चुका है। हालांकि रचित ने कंपनी का नाम नहीं बताया है। क्योंकि company policy के यह खिलाफ है। रचित ने यही बताया है, कि वे अगले महीने से कंपनी को ज्वाइन करने वाले हैं।

बचपन से ही US जाने का था, रचित का ख्वाब

रचित के परिजनों के मुताबिक, बचपन से ही रचित अमेरिका जाने के ख्वाब देखता था। उसको यह नहीं पता था, कि कैसे मैं अमेरिका जा सकता हूं। लेकिन हमेशा उसने America जाने की जिद की थी। जिसके बाद उसने अपनी पढ़ाई के जरिए  सब कुछ ऐसा किया, कि आज उसका सपना पूरा हो गया।

हालांकि US से रचित अग्रवाल ने पढ़ाई की है। लेकिन उन्होंने पढ़ाई के साथ-साथ कमाई भी की है। उन्होंने कई सारे ऐसे कंपटीशन में भाग लिया, जो उनके आने वाले सपने को पूरा कर सकते थे। जैसे coding competition. इसके अलावा cryptocurrency जैसी कंपनियों में internship के जरिए भी रचित ने अपने skills को बेहतर किया।

आजकल के युवाओं के लिए क्या है रचित का संदेश

Kota boy Rachit आज के युवाओं के लिए एक मिसाल बन चुके है। क्योंकि भारत में बेरोजगारी दर बहुत ज्यादा हो चुकी है। लोग पढ़ लिख कर भी बेरोजगार हैं। हर व्यक्ति का सपना होता है, कि अच्छी पढ़ाई करने के बाद, अच्छी जॉब मिल जाए। लेकिन आजकल अच्छी Education मिलने के बाद भी, अच्छी जॉब नहीं मिल पाती है। कोटा के रचित अग्रवाल हर दिन एक लाख 66 हजार रूपये कमाते हैं। जो कि हर एक युवा का सपना होता है।

रचित मिडिल क्लास से होते हुए भी, अपनी पढ़ाई को अच्छा करते गए। इससे आज के युवाओं को भी  संदेश मिलता है। कि कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए।देर सवेर आप कभी ना कभी वह मुकाम पा लेते हैं जिसके आप हकदार हैं। जिंदगी में उतार-चढ़ाव तो चलते ही रहते हैं। लेकिन इन सबके बीच जो अपने emotions और conditions को कंट्रोल करता है, वही अपने लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ता है।

आजकल युवा Government job के पीछे लगे रहते हैं, इसमें अपना सारा समय व्यर्थ कर देते हैं। सरकारी नौकरी एकमात्र विकल्प नहीं है। लोग तो चाय बेचकर भी लाखों कमा रहे हैं। इसलिए जॉब प्राइवेट है या सरकारी, उससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। युवाओं के लिए सबसे बड़ा गोल career को अच्छा करना होना चाहिए।

Leave a Comment