प्राथमिक स्कूल के शिक्षक ने बढ़ाया देश का मान-महाराष्ट्र के रंजीत सिंह ने जीता ग्लोबल टीचर पुरस्कार |

By | June 6, 2021

प्राथमिक स्कूल के शिक्षक ने बढ़ाया देश का मान,महाराष्ट्र राज्य के प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक रंजीत सिंह ने जीता ग्लोबल टीचर पुरस्कार, विश्व बैंक ने रंजीत सिंह दिसाले को अपना शैक्षिक सलाहकार बनाया है। शिक्षक रंजीत ने जीता 7 करोड़ रूपये का ईनाम |

हमारे देश के साथ-साथ पूरे विश्व में हमेशा शिक्षक को एक समान का दर्जा दिया जाता है l शिक्षक के द्वारा ही हर बच्चा अपनी शिक्षा को पूरी करने के बाद अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त कर पाता है l

बहुत शिक्षक ऐसे हैं, जो देश के लिए मिसाल बन रहे हैं l ऐसे में महाराष्ट्र के प्राथमिक स्कूल के शिक्षक श्री रणजीत सिंह ने अपने काम से देश का नाम रोशन कर दिया है l आइए सबके लिए प्रेरणा के स्त्रोत बनने वाले महाराष्ट्र के प्राथमिक स्कूल के शिक्षक श्री रंजीत सिंह के बारे में विस्तार से जानते हैं l

प्राथमिक स्कूल के शिक्षक रंजीत सिंह दिसाले ने जीता Global Teacher Award 2020 l

Global Teacher Award  के बारे में तो आपने सुना ही होगा l Global Teacher Award विश्व बैंक के द्वारा उस शिक्षक को दिया जाता है जिसने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत अच्छे कार्य किए हैं और अपने कार्य की वजह से विद्यार्थियों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया हो l

हाल ही में ही एक खबर काफी सुर्खियों में है l महाराष्ट्र के प्राथमिक स्कूल के शिक्षक रणजीत सिंह दिसाले ने Global Teacher Award 2020 का खिताब अपने नाम कर लिया है l आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि ग्लोबल टीचर पुरस्कार 2020 की धनराशि ₹70000000 है l ग्लोबल टीचर पुरस्कार 2020 की राशि काफी अच्छी तो है, इसी के साथ-साथ ग्लोबल टीचर पुरस्कार एक बहुत ही सम्मानजनक पुरस्कार है l

Ranjit Singh Disale Appointed Educational Advisor Of World Bank

जब से शिक्षक रणजीत सिंह ने इस किताब को अपने नाम किया है तभी से ही शिक्षक रंजीत सिंह  काफी सुर्खियों में आ गए हैं l वैसे तो प्राथमिक स्कूल के शिक्षक रंजीत सिंह 2009 में भी काफी चर्चा में रहे थे l इन्होंने वर्ष 2009 में मवेशियों के बाड़े को एक स्कूल में बदल दिया था और वहां रहने वाले सभी बच्चों के लिए शिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की थी l

Ranjit Singh Disale Appointed Educational Advisor Of World Bank

रंजीत सिंह शिक्षा के क्षेत्र में विकास के लिए जाने जाते हैंl इन्होंने लड़कियों की शिक्षा और क्यू आर कोड पर आधारित किताबों के अभियान को भी बढ़ावा दिया था इसी कारण इन्हें ग्लोबल टीचर अवार्ड से नवाजा भी गया था l हाल ही में ही विश्व बैंक की ओर से $1000000 के ग्लोबल टीचर पुरस्कार को जीतने वाले रंजीत सिंह को विश्व बैंक के अंतरराष्ट्रीय परामर्श बोर्ड में शामिल कर लिया गया है l

Maharashtra Primary School Teacher Ranjit Singh Disale का जीवन बहुत ही प्रेरणादायक है, जो अन्य शिक्षकों को भी देश में शिक्षा के विकास करने के लिए प्रेरित करता है l इन्होंने स्कूल में लड़कियों को कन्नड़ में शिक्षा देने के लिए सबसे पहले खुद कन्नड़ भाषा सीखी थी l खुद कन्नड़ भाषा सीखने के पश्चात ही इन्होंने कन्नड़ भाषा में पुस्तकों का अनुवाद भी किया था l

हम सभी जानते हैं, कि देश में चाहे कितना भी बड़ा स्कूल हो लेकिन कभी भी उस स्कूल में 100% छात्रों की उपस्थिति नहीं हो सकती l आपको यह बात जानकर काफी हैरानी होगी कि रंजीत सिंह के स्कूल में अब सभी छात्रों की उपस्थिति 100% दर्ज की गई है यह अपने आप में ही एक बहुत बड़ी उपलब्धि है l

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *