PM किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को सालाना 36000 रूपये का फायदा मिलेगा-जाने आपको कितना लाभ मिल सकेगा |

By | April 26, 2021

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में अब किसानों सालाना 36000 रूपये का फायदा मिलेगा, PM किसान सम्मान निधि योजना की आठवीं किस्त जल्द ही मिलने वाली है, आप जान सकेंगे आपके खाते में आठवीं किस्त की राशि कब डाली जाएगी |

देश के सभी लोग इस बात को तो जानते ही हैं, कि सरकार समय-समय पर किसानों के लिए अलग-अलग योजनाओं की शुरुआत करती है ताकि किसानों को फायदा मिल सके। किसान हमारे देश का आधार है,इसीलिए सरकार किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए अलग-अलग योजनाओं की शुरुआत करती रहती है। कुछ समय पहले सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चलाई गई थी।

इसके तहत किसानों को सालाना ₹6000 की आर्थिक सहायता मिलती थी, परंतु अब यह कहा जा रहा है, कि इस योजना के तहत मिलने वाली ₹6000 की राशि की जगह पर अब सालाना ₹36000 की राशि दी जाएगी। चलिए अब हम इसके बारे में विस्तार से जान लेते हैं, कि सरकार किस प्रकार ₹6000 की जगह ₹36000 की राशि किसानों को देगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की आठवीं किस्त जल्द ही जारी होगी l

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की आठवीं किस्त का इंतजार देश के सभी किसान कर रहे हैं। इस योजना की आठवीं किस्त केंद्र सरकार के द्वारा जल्द ही जारी की जाएगी। हमारे देश के लगभग 11 करोड से भी अधिक किसान इस योजना फायदा ले रहे हैं। वैसे तो पश्चिम बंगाल जैसे बहुत से राज्य हैं जिनमें बीजेपी सरकार नहीं है इसी कारण उन राज्यों में किसान इस योजना का लाभ अभी ठीक ढंग से नहीं उठा पा रहे हैं।

PM Kisan Samman Nidhi yojana 36000 Rs news

सालाना 6000 की जगह मिलेंगे 36000

अब हम आपको बताते हैं, कि सालाना ₹6000 की जगह ₹36000 का फायदा किसान कैसे उठा सकते हैं। दरअसल प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसानों को सरकार मानधन योजना की सुविधा भी देती है। इसके लिए किसानों को अपनी जेब से कुछ भी खर्च करने की आवश्यकता नहीं होती। इस योजना के तहत हर महीने किसानों को ₹3000 की राशि मिलेगी। मतलब की सालाना ₹36000 की राशि किसानों को दी जाएगी।

छोटे किसान ही ले सकेंगे इस योजना का लाभ?

  • केंद्र सरकार के द्वारा चलाई गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उन सभी किसानों को मिल सकता है, जो कि किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पहले से ही ले रहे हैं। हम आपको बता दें, कि सरकार के द्वारा अब छोटे तथा सीमांत किसानों के लिए यह पेंशन योजना की शुरुआत की गई है। इस पेंशन योजना के तहत जीन छोटे किसानों की उम्र 60 साल से अधिक हो जाती है उन्हें अब ₹3000 महीना की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ताकि किसान अपने छोटे- मोटे खर्चे के लिए किसी दूसरे व्यक्ति पर निर्भर ना रहे। इस पेंशन योजना की शुरुआत छोटे किसानों को बुजुर्ग अवस्था में आत्मनिर्भर बनाने के लिए की गई है।
  • इस पेंशन योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है, कि जो किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं ले रहा है वह किसान भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। प्रधानमंत्री मानधन का फायदा लेने के लिए आपको योजना से मिलने वाले लाभ में से सीधे ही अंशदान ( Contribution ) का विकल्प चुनने की छूट मिलती है। मतलब कि आप को मिलने वाले उस ₹6000 में से इस योजना का प्रीमियम ( Premium )  कट जाएगा और आपको अलग से कोई भी पैसा अपनी जेब से नहीं देना होगा l जो राशि बचेगी वह आपके खाते ( Bank Account ) में पहले की तरह ही आती रहेगी। इस प्रकार अब किसानों को ₹36000 सालाना तो मिलेंगे ही और अलग से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 3 किस्ते भी मिलेंगी।

इस योजना से जुड़ने के लिए करना होगा अंशदान ( Contribution )?

यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको कम से कम 20 साल की उम्र और ज्यादा से ज्यादा 40 साल की उम्र तक ₹55 से लेकर ₹200 महीना तक अंशदान ( Contribution ) देना होगा। यह अंशदान ( Contribution ) किसान की उम्र पर निर्भर करता है। यदि कोई किसान 18 वर्ष का है और वह इस योजना से जुड़ता है तो उसे 1 महीने का ₹55 अंशदान देना होगा।

यदि कोई किसान 30 साल की उम्र में इस योजना के साथ जुड़ता है, तो उस किसान को ₹110 महीना जमा कराने होंगे। यदि कोई किसान 40 साल की उम्र में इस योजना से जुड़ता है, तो उस किसान को ₹200 महीना अंशदान ( Contribution ) करना होगा। जब आप 60 साल के हो जाएंगे, तो तब आपको इस योजना का लाभ मिलना शुरू होगा l फिर आप को हर महीने ₹3000 की राशि बैंक खाते में दी जाएगी। अब आपको अच्छे से समझ आ गया होगा, कि किसानों को किस प्रकार ₹6000 की जगह सालाना ₹36000 की राशि दी जाएगी।

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *