प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (रबी) 2020-21 के लिए आवेदन करे|

By | November 11, 2020

रबी 2020-21 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु आवेदन करे, पीएमएफबीवाई रबी की फसल के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 15 दिसम्बर 2020 तक है, How to Apply for PM fasal Bima Yojana 2020-21 at-https://pmfby.gov.in/

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2020-21 (रबी) के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | राजस्थान सरकार तथा भारत सरकार द्वारा क्रियान्वित फसल बीमा योजना के लिए आवेदन नवम्बर/दिसम्बर माह में भरे जायेंगे | राजस्थान प्रदेश के कृषक बीमित फसलों के लिए आवेदन कर सकते है |

भारत सरकार द्वारा देश के कृषकों से रबी व खरीफ की दोनों फसलों के लिए आवेदन मांगे जाते है | पीएम फसल बीमा योजना के अंतर्गत कई लाख किसान आवेदन करते है और योजना का लाभ उठाते है | इसके अलावा बीमित फसलों की सूची, आवश्यक दस्तावेज, जोखिम कवर, स्थानीय आपदा की स्थिति में सूचना देने हेतु एवं आवेदन की तिथि के बारे में जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

पीएम फसल बीमा योजना 2020-21 हेतु आवेदन करे

यहाँ इस पैराग्राफ में हमारी टीम आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी एक सारणी के माध्यम से समझा रही है | जिससे आप आसानी से योजना के बारे में जान सकेंगे |

योजना का नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
फसल रबी की फसल के लिए
कृषक द्वारा देय प्रीमियम बीमित राशि का 1.5% एवं व्यावसायिक/उद्यानिकी फसलों हेतु 5%
रबी 2020-21 हेतु अधिसूचित फसलें गेंहू, जौ,चना,सरसों,तारामीरा,जीरा,धनिया,इसबगोल,मेथी,रबी मक्का एवं मसूर आदि |
त्रृणी कृषको को फसल बीमा से बाहर होने की अंतिम तिथि 08 दिसम्बर 2020
त्रृणी कृषकों द्वारा बीमित फसल में परिवर्तन की सूचना 13 दिसम्बर 2020
त्रृणी एवं गैर त्रृणी कृषकों हेतु बीमा कराने की अंतिम तिथि 15 दिसम्बर 2020
अधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in/

गैर त्रृणी कृषकों हेतु आवश्यक दस्तावेज-

यहाँ इस पैराग्राफ में हमारी टीम आपको पीएम फसल बीमा हेतु जरुरी दस्तावेजों के बारे में अवगत करवा रही है | अगर आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज है तो आप आवेदन कर सकते है |

  • आवेदक की आधार कार्ड की प्रतिलिपि |
  • नवीनतम भूमि अभिलेख (खसरा/खतौनी की नक़ल) |
  • बटाईदार/साझेदारी होने पर जमीन बटाई का शपथ पत्र |
  • बैंक पासबुक की प्रतिलिपि जिसमे IFSC नंबर एवं खाता संख्या अंकित हो अथवा बैंक खाते की रद्द चेक |
  • फसल बुवाई प्रमाण-पत्र (कृषि या राजस्व विभाग के कार्मिकों द्वारा जारी या सत्यापित) |
  • विधिवत भरा हुआ प्रस्ताव प्रपत्र |

योजना के अंतर्गत जोखिम कवर

यहाँ कृषक यह भी जानकारी देख सकेंगे कि रबी की फसल में जोखिम कवर कौन-कौन सी फसल के लिए है |

  • खड़ी फसल (बुवाई से फसल कटाई तक) में हानियाँ (व्यापक आधार पर) |
  • फसल कटाई/तुड़ाई के उपरांत हानियाँ (व्यक्तिगत आधार पर): (ओलावृष्टि/ चक्रवात/चक्रवाती वर्षा/बेमौसम बारिश द्वारा फसल कटाई की तिथि से अधिकतम 2 सप्ताह की अवधि के लिए मान्य)|
  • स्थानीय आपदाएं (व्यक्तिगत आधार पर): (ओलावृष्टि/जलभराव/भूस्खलन/बादल फटना/आकाशीय बिजली)

स्थानीय आपदा की स्थिति में सूचना देने हेतु

प्रभावित बीमित कृषक को आपदा के 72 घंटे के अंदर सीधे बीमा कम्पनी के टोल फ्री नंबर पर अथवा लिखित में अपने बैंक/कृषि विभाग के अधिकारियों के माध्यम से सूचित करवाना आवश्यक है| यदि 72 घंटे में कृषक द्वारा पूर्ण सूचना उपलब्ध नहीं करवाई जाती है,

तो वैसे कृषक 07 दिनों में पूर्ण सूचना निर्धारित प्रपत्र में संबंधित बीमा कंपनी को दे सकते है, जिसमे किसान का नाम. मोबाइल नंबर, अधिसूचित पटवार सर्किल,बैंक का नाम, बैंक खाता संख्या,आपदा क प्रकार, प्रभावित फसल आदि की सूचना अंकित होनी चाहिए |

नोट-अधिक जानकारी के लिए नजदीकी बैंक शाखा/स्थानीय कृषि विभाग/जनसेवा केंद्र (CSC)/बीमा कम्पनी प्रतिनिधि या बीमा कम्पनी के टोल फ्री नंबर पर सम्पर्क करे |

follow us for social updates

2 thoughts on “प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (रबी) 2020-21 के लिए आवेदन करे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *