01 जून से लागु -एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना-दस्तावेज और ऑनलाइन आवेदन की जानकारी हिंदी

By | June 20, 2020

One Nation One Ration Card Yojana Complete details in Hindi, एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के लिए क्या क्या दस्तावेज होने चाहिए, एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के लिए आवशयक पात्रता क्या है,

आज 1 जून 2020 से पूरे भारत में वन नेशन वन राशन कार्ड लागू किया जाएगा इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोग पूरे देश में कहीं से भी इस कार्ड की सहायता से सस्ता और किफायती दर पर सामान खरीद सकते हैं इस कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए जरूरी कागजात और तरीका इस पोस्ट में  दिया गया है

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना

‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना’ भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है, जो खाद्य प्रसंस्करण मंत्री, माननीय श्री रामविलास पासवान जी के द्वारा, 1 जून 2020 को पूरे देश में लागू की जा रही है। इस योजना के लागू होने के बाद कोई भी  राशन कार्ड धारक राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत पूरे भारत में किसी भी राज्य में किसी भी सरकारी राशन की दुकान से राशन प्राप्त कर सकता है। इस योजना कि समय सीमा 30 जून 2030 निर्धारित की गई है।

 एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य –

केंद्र सरकार की एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना  राज्य सरकार और केंद्र  शासित प्रदेशों के सहयोग के राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी सेवा को अमलीजामा पहनाने की तैयारी में है। इस योजना के तहत किसी भी राज्य का राशन कार्ड धारक अन्य राज्य में भी सरकारी राशन की दुकान से राशन प्राप्त कर सकता है।

वर्तमान में एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी में गरीबों एवं प्रवासी मजदूरों के लिए क्रांतिकारी कदम साबित होगी। यदि कोई व्यक्ति वर्तमान में मध्य प्रदेश का निवासी है,उसके पास राशन कार्ड भी है। और दिल्ली में मजदूरी करता है तो वह  भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के तहत दिल्ली में भी राशन प्राप्त कर सकता है।

Delhi New Ration CardAP Ration Card Status 2020 
Telangana Ration Card List West Bengal Digital Ration Card

इस प्रकार यह योजना प्रवासी मजदूरों के लिए वरदान साबित होगी। सभी राशन वितरण केंद्रों को  डिपो ऑनलाइन प्रणाली (DOS)  तथा इंटरनेट के साथ जोड़ा जा रहा है, ताकि राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के लाभों तथा सुविधाओं को लोगों तक पहुँचाने में कोई समस्या नही हो।

 राशन कार्ड  पोर्टेबिलिटी क्या है?

‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड’ योजना में राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी की मुख्य भूमिका है। जिस प्रकार मोबाइल नंबर को पोर्टेबिलिटी की जाती है, उसी प्रकार अब राशन कार्ड को भी पोर्ट किया जा सकेगा। जिस प्रकार मोबाइल नंबर को पोर्ट कराने के बाद ग्राहक का नंबर वही रहता है ,

अर्थात बदलता नहीं है और पूरे भारत में उस नंबर को इस्तेमाल कर सकते हैं, ठीक उसी प्रकार राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी में आपका राशन कार्ड नहीं बदलेगा और राशन कार्ड धारक एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने पर भी अपने राशन कार्ड का प्रयोग दूसरे राज्य में राशन प्राप्त करने के लिए कर सकता है।

 एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना में कौनकौन से राज्य शामिल हैं ?

‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड ‘योजना के तहत कोई भी राशन कार्ड धारक भारत में कहीं भी सरकारी उचित मूल्य की दुकान से राशन प्राप्त कर सकता है। इस योजना के तहत अभी तक 11 राज्यो के राशन कार्डों को आधार से लिंक किया जा चुका है। इनमे आध्र प्रदेश ,तेलंगाना गुजरात, महाराष्ट्र ,हरियाणा ,झारखण्ड ,पंजाब ,कर्नाटक ,केरल त्रिपुरा ,राजस्थान शामिल हैं।

MP Ration Card 2020 UP Ration Card 
Haryana Khaki Ration Card Rajasthan Ration Card 

इन राज्यो में यह योजना 1 जनवरी 2020 से लागू हो चुकी है। केंद्र सरकार के  खाद्य प्रसंस्करण मंत्री माननीय श्री रामविलास पासवान जी के अनुसार 17 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश इस योजना से जुड़ चुके हैं । इस योजना में क्रमशः आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा ,राजस्थान, कर्नाटक ,केरल ,मध्य प्रदेश, गोवा ,झारखंड ,त्रिपुरा बिहार,उत्तर प्रदेश, पंजाब,हिमाचल प्रदेश और दमन व दीव भी शामिल हैं।

अन्य तीन राज्यों उड़ीसा,मिजोरम,नागालैंड को इस योजना में सम्मिलित करने की तैयारी की जा रही है। इस प्रकार से यह योजना कुल 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो में 1 जून 2020 से शुरू होने जा रही है। इन राज्यो में एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के लिए राशन कार्ड पोर्टेबिलिटीे का शुभारंभ किया जाएगा।

 एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के लाभ

  • संपूर्ण भारत में कोई भी राशन कार्ड धारक इस योजना का लाभ 1 जून 2020 से ले सकता है ।
  • भारत सरकार के द्वारा जारी की गई इस योजना का लाभ ऐसे मजदूरों को मिलेगा जो काम की तलाश में एक राज्य से दूसरे राज्य में जाते रहते हैं।
  • देश में विभिन्न राज्य में राशन कार्ड के साथ आधार को लिंक करना, सरकारी उचित मूल्य की दुकानों पर पॉइंट ऑफ सेल (पी.ओ.एस.) मशीन को स्थापित करने की प्रक्रिया बड़ी तेजी से चल रही है। जिसके अंतर्गत आने वाले राज्य क्रमशः आंध्र प्रदेश,गुजरात,कर्नाटक, राजस्थान ,हरियाणा आदि राज्य शामिल हैं।
  • एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना से राशन कार्ड के फर्जीवाड़े पर रोक लगेगी, जिससे पारदर्शिता आएगी तथा भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी। एक आंकड़े के अनुसार देश भर में 3 करोड से ज्यादा  राशन कार्ड फर्जी पाए गए हैं। इन सभी फर्जी राशन कार्ड को निरस्त करने पर सरकार को 3 करोड रुपए की बचत हुई।
  •  इस योजना के तहत कोई भी राशन कार्ड द्वारा किसी भी राज्य में किसी भी सरकारी उचित मूल्य की दुकान( पीडीएस) से पारदर्शिता से राशन प्राप्त कर सकता है।
  • इस योजना का लाभ उन मजदूरों का होगा जो रोजगार के लिए एक राज्य से दूसरे राज्य में जाते हैं। 
  • इस योजना को लागू करने के बाद किसी भी राशन केंद्र से राशन प्राप्त किया जा सकेगा,जिससे किसी भी एक राशन विक्रेता पर सारा भार नहीं पड़ेगा।
  • इस योजना के तहत देश के कई राज्यों में पीडीएस प्रणाली के एकीकृत प्रबंधन की शुरुआत बड़ी तेजी से सरकार द्वारा कर दी गयी है,जिसके अंतर्गत आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, केरल, तेलंगाना और साथ ही त्रिपुरा जैसे राज्य सम्मिलित है।
  • एक देश,एक राशन कार्ड योजना को केंद्र ने एक वर्ष के अंदर ही पूरे देश के विभिन्न राज्यो में स्थापित करने का समय तय किया है, ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोग इस योजना का लाभ उठा सकें।
  • इस योजना का लाभ प्रवास मजदूरों और दैनिक ग्रामीणों को मिलेगा।
  • इस योजना में यह सुनिश्चित किया गया है, की कोई भी व्यक्ति सब्सिडी वाले खाद्यान्न प्राप्त करने से वंचित न रहे पाए।
एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना में जारी किए गए राशन कार्ड का फॉर्मेट कैसा होगा ?

इस योजना को सबसे पहले चार राज्यों आंध्र प्रदेश -तेलंगाना और महाराष्ट्र -गुजरात में आरम्भ किया गया था। इस योजना के लागू होने के बाद अब आंध्र प्रदेश के लोग तेलंगाना में और तेलंगाना के लोग आंध्र प्रदेश में किसी भी राशन की दुकान से राशन ले सकते है।

जन धन योजनाप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
उज्जवला योजना गैस कनेक्शनआयुष्मान भारत योजना 2020 

इसी प्रकार से  महाराष्ट्र के लोग गुजरात में और गुजरात के लोग महाराष्ट्र में जाकर राशन केंद्र से राशन ले सकते है। देश के सभी राज्यो में पीओएस मशीन की सुविधा तेजी से शुरू की जा रही है। इससेे खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत समलित किए गए 810 मिलियन में से 600 मिलियन लाभार्थियों को लाभ होगा। इस योजना के अंतर्गत राशन कार्ड  के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल (PoS) डिवाइस से की जाएगी।

केंद्र सरकार देशभर में 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को सस्ते दामों पर राशन राशन केंद्रों के द्वारा देती है।भारत सरकार की महत्वाकांक्षी  ‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना ‘के लिए राशन कार्ड का एक स्टैंडर्ड प्रारूप तैयार किया गया है। जिसमें सभी राज्य सरकारों को निर्देश दिया गया है कि राष्ट्रीय स्तर पर  राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी के लक्ष्य को हासिल करने के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत राशन  कार्ड जारी करने का फॉर्मेट जारी किया गया है।

  •  राशन कार्ड के स्टैंडर्ड के अनुसार राशन कार्ड को दो भाषाओं में जारी करें।
  •  राशन कार्ड में स्थानीय भाषा के साथ ही इसमें अन्य दूसरी भाषा अंग्रेजी अथवा हिंदी का इस्तेमाल करें।
  • राशन कार्ड 10 अंकों वाला जारी करें।
  •  जिसमें पहले 2 अंक राज्य कोड  होगा।
  •  अगले अंक राशन कार्ड संख्या के अनुरूप होंगे ।
  •  अगले 2 अंक राशन कार्ड में परिवार के प्रत्येक सदस्य की पहचान के तौर पर शामिल होंगे ।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना में आवेदन कैसे करें ?

भारत सरकार के अनुसार देश के किसी भी राज्य के किसी भी राशन कार्ड धारक को एक राष्ट्र का एक राशन कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। इस योजना का लाभ पंजीकृत राशन कार्ड धारक देश के किसी भी राज्य में किसी भी सरकारी उचित मूल्य की दुकान से राशन प्राप्त कर सकता है।

KCC लाभार्थियों की सूचीसरकारी योजना 2020 
एक क्लिक से देखे जन धन खाते की दूसरी किश्त जमा हुई या नहींप्रधानमंत्री किसान मानधन योजना

इस योजना के अंतर्गत हर राज्य के सभी क्षेत्रों के निवासियों को राशन कार्ड की सुविधा प्रदान की जाएगी। और यह राशन कार्ड देश के सभी राज्यों में मान्य होंगे। जिससे राशन कार्ड धारक किसी भी राज्य में रहकर किसी भी पीडीएस की दुकान से अपना एक दिन का राशन प्राप्त कर सकेगा। सभी राज्यो और केंद्र सरकार के द्वारा उपलब्ध आकड़ो के अनुसार लाभार्थियों के राशन कार्ड फ़ोन पर आधार कार्ड से सत्यापित कर लिंक किये जायेंगे।

इसके बाद इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम के अंतर्गत आकड़ो को उपलब्ध कराया जाएगा। इस योजना के तहत जिन लाभार्तियो के पास पुराना राशन कार्ड है उसे पूरे देश के सभी राज्यो में मान्य किया जाएगा। तथा जिनके पास कोई कार्ड नही है उन्हें नया राशन कार्ड प्राप्त करना होगा।

follow us for social updates

12 thoughts on “01 जून से लागु -एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना-दस्तावेज और ऑनलाइन आवेदन की जानकारी हिंदी

  1. Julfikar

    Sar bahut gareeb hun pleaz locdown me thodi se madad karo

    Reply
    1. JAI KISHAN SHARMA

      जो रासन कार्ड चालू नहीं है कैसे चालू होंगे ,

      Reply
  2. Arvind Kumar

    Mai UP se hu, UP walo ke liye to kuch bataya hi nhi is article me

    Reply
  3. Anurag

    जो नए कार्ड ऑनलाइन कराने के बाद नहीं बन रहे है उनका क्या होगा क्या कोई उचित कार्यवाही होगी
    नए ration कार्ड कैसे बनाएंगे

    Reply
  4. Mamta Dave

    Jiska show ho raha hai uska ration card nahin banaa hai uska kya hoga

    Reply
  5. Sudhakar vitthal kale

    I have old ration how to be eligible under this schemesudhaksr

    Reply
  6. Shailendra Kumar

    जो नए राशन कार्ड ऑनलाइन करने के बाद नहीं बना हैँ तो उनका कोई उचित करवाई होंगी तो कैसे न्यू राशन कार्ड कैसे बनेगा

    Reply
  7. Gopal Krishan Sharma

    Mera rashan card to hai per hame rashan nahi milta. Rashan dealer kahta hai ki aapaka nam FSL me nahi hai. Aur aapne is card per pahle rashan nahi liya hai. Ab hamko rashan kaise milega ?

    Reply
  8. Vinay kumar

    Sir main bhut greeb family se hu or koi ration card bhi nhi h
    Mera ration card bnwa dijiye plz.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *