NEET Exam Paper Leek हुआ-2 घंटे में प्रश्न-पत्र को हल कर नकल करवाई गई |

By | September 14, 2021

NEET Exam Paper Leek हुआ, NTA द्वारा 12 सितम्बर 2021 को आयोजित हुई NEET परीक्षा का पेपर लीक हो चूका था, 27 मिनट में पेपर को सीकर भेजकर वापस 4:30 बजे उसी कॉलेज में पँहुचा दिया गया था, पुलिस टीम से जाल बिछाकर मात्र 30 मिनट में नकल करवाने वाले गिरोह को पकड़ा |

राजस्थान राज्य में धोखाधड़ी के मामले दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं | जो भी परीक्षा आयोजित होने वाली होती है या तो उससे पहले ही प्रश्न पत्र लीक हो जाता है, या फिर जब परीक्षा होती है तो परीक्षा के दौरान कुछ ना कुछ ऐसे मामले सामने आते हैं जिसमें इस बात का खुलासा होता है, कि परीक्षा का पेपर लीक हो चुका हैं |

हाल ही में राजस्थान राज्य में में NEET की परीक्षा आयोजित हुई थी |  NEET 2021 की परीक्षा में पेपर लीक होने की बात सामने आई हैं | ऐसा कहा जा रहा है कि NEET Paper Leek होने की सूचना पुलिस के पास करीब 1:30 पर पहुंची थी | इसके पश्चात राजस्थान पुलिस के द्वारा सिर्फ 30 मिनट में ही ऐसा जाल बिछाया गया कि पेपर लीक कराने वाले गिरोह का खुलासा कर दिया |

इस दौरान उन्होंने उन व्यक्तियों तथा परीक्षा में शामिल छात्र को भी पकड़ा है, जो कि इसमें शामिल था। NEET Exam 2021 की परीक्षा में 16 लाख विद्यार्थी शामिल हुए थे,  पुलिस प्रशासन के द्वारा काफी कड़ी निगरानी रखी गई थी और 4 टीमों में लगभग 24 से भी ज्यादा पुलिस अधिकारी शामिल थे | इसीलिए पुलिस प्रशासन के द्वारा मौके पर ही पेपर लीक कराने वाले व्यक्ति को पकड़ा गया |

NEET Exam paper Leek Hua

ऐसा बताया जा रहा है, कि जब पेपर शुरू हुआ था तो उस समय सिर्फ 37 मिनट में ही पेपर को भांकरोटा के एक कॉलेज से सीकर तक पहुंचाया गया | सीकर के एक कोचिंग सेंटर के शिक्षकों द्वारा Neet Paper 2021 को हल करके 2 घंटे में वापस उसी कॉलेज में पहुंचाया गया | लेकिन पुलिस ने मौके पर ही अभ्यार्थी छात्रा के साथ साथ 8 आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है | आगे हम आपको इस पूरे मामले के बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं |

सिर्फ 27 मिनट में पेपर को पहुंचाया गया सीकर

पुलिस के द्वारा यह जानकारी दी गई है कि 2:00 बजे नीट की परीक्षा शुरू हुई और 2:37 तक इस परीक्षा के पेपर को सीकर पहुंचाया जा चुका था | सीकर में एक कोचिंग सेंटर हैं, वहां के शिक्षकों ने 2 घंटे में इस प्रश्नपत्र को हल कर दिया और करीब 4:30 बजे इस पेपर को वापस उसी कॉलेज में पहुंचाया गया जहां पर नीट की परीक्षा हो रही थी | फिर परीक्षा में बैठी छात्रा ने जल्दी से नकल करके 200 में से 172 प्रश्नों का उत्तर दे दिया |

हम आपको बता दें, कि इस मामले में कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है | जिस मोबाइल फोन से पेपर सीकर भेजा गया था उस मोबाइल फोन को भी पुलिस प्रशासन के द्वारा जप्त किया गया और उसी के साथ साथ हल किए हुए प्रश्नपत्र के उत्तर की हार्ड कॉपी तथा 10 लाख रुपए की नगदी भी बरामद की गई | जब पुलिस के द्वारा आरोपियों को पकड़ा गया तो उन्हीं से यह बात सामने आई कि आरोपियों में शामिल छात्रा का चाचा 10 लाख रुपए लेकर परीक्षा केंद्र के बाहर अपनी गाड़ी में बैठा हुआ था |

इस गिरोह का मास्टरमाइंड चलाता है डिफेंस एकेडमी के नाम से कोचिंग संस्थान

DCP Richa Tomar के द्वारा यह बताया गया कि धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का मास्टरमाइंड नवरत्न स्वामी हैं , जोकि Defense Academy के नाम से एक कोचिंग संस्थान चलाता है और इसी ने पेपर लीक कराने की जिम्मेदारी एक दलाल सुनील यादव को दी हुई थी जो कि ज्यादा से ज्यादा अभ्यार्थियों को तलाशने का काम करता था |

पुलिस के द्वारा मेडिकल ऑफिसर के अतिरिक्त 6 मेडिकल छात्र-छात्राओं तथा 2 दलालों को पकड़ा गया

पुलिस स्पेशल टीम के महानिदेशक के द्वारा यह बताया गया कि Special Team ने NEET Exam के दिन जयपुर में स्थित विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर वसूली करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं | इन आरोपियों में PMT का Second Topper Doctor व Dr Rajan Rajguru भी शामिल हैं | इसके अतिरिक्त देहरादून, बनारस तथा भरतपुर के Medical Veterinary College के 6 छात्र छात्राएं तथा दो दलाल भी इसमें ही शामिल हैं | ऐसा बताया जा रहा है कि जितने भी आरोपी पकड़े गए हैं, इनमें कोचिंग सेंटर के संचालक की अहम भूमिका हैं | पुलिस प्रशासन के द्वारा आरोपी राजन वह महेंद्र को 21 सितंबर तक के लिए रिमांड पर लिया गया है, और बाकी आरोपियों को अदालत में पेश किया हैं |

परीक्षा केंद्र पर बरती गई लापरवाही

पुलिस प्रशासन के द्वारा यह बताया गया है, कि परीक्षा केंद्र पर लापरवाही बरती गई हैं, क्योंकि परीक्षा केंद्र पर पाया जाने वाले आरोपी राम सिंह को बिना योग्यता के ही वीक्षक बनाया हुआ था | इसी आरोपी राम सिंह के द्वारा परीक्षा केंद्र से व्हाट्सएप के माध्यम से पेपर को हल करने के लिए लिख कर भेजा गया था | ऐसा बताया जा रहा है कि राम सिंह कॉलेज प्रशासक मुकेश के साथ मिला हुआ था | जांच के दौरान जब पुलिस ने राम सिंह का मोबाइल चेक किया तो उसमें व्हाट्सएप पर पेपर की कॉपी भी पाई गई |

आरोपियों को पकड़ने के लिए चलाया गया था अभियान

  • ऐसा बताया जा रहा है कि आरोपियों को पकड़ने के लिए 4 टीम मौजूद थी | पहली टीम उपायुक्त राम सिंह के नेतृत्व में थी इस टीम ने पूरे अभियान की निगरानी की |
  • दूसरी टीम में मौजूद एसपी राय सिंह बेनीवाल तथा थाना अधिकारी मुकेश चौधरी ने परीक्षा केंद्र पर जांच शुरू कर दी | यह परीक्षा 42 कमरों में हो रही थी और इसमें से कमरा नंबर 35 में रामसिंह मौजूद था जो कि वीक्षक बना हुआ था | पुलिस के द्वारा जांच करते हुए राम सिंह और छात्रा धनेश्वरी को गिरफ्तार किया गया |
  • इसके अतिरिक्त जब या टीम बाहर आई तो बाहर आने पर दलाल के साथ साथ 3 लोगों को गिरफ्तार किया |
  • तीसरी टीम में मौजूद थानाधिकारी पन्ना लाल जांगिड़ के द्वारा प्रश्न पत्र परीक्षा केंद्र तक पहुंचाने वाले व्यक्तियों पर निगरानी रखी गई और इस टीम के द्वारा पंकज यादव तथा संदीप कुमार को हिरासत में लिया गया |
  • चौथी टीम में मौजूद नरेंद्र कुमार खीचड़ ने मानसरोवर में दलालों पर निगरानी रखी और टीम ने नवरत्न स्वामी तथा अनिल यादव का पीछा करके गिरफ्तार कर लिया |
follow us for social updates

One thought on “NEET Exam Paper Leek हुआ-2 घंटे में प्रश्न-पत्र को हल कर नकल करवाई गई |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *