नए सत्र से Polytechnic एवं Engineering college में लागू होगी मल्टी एंट्री,मल्टी एग्जिट तथा मल्टी डिस्पेंसरी योजना |

नए सत्र से Polytechnic एवं Engineering college में लागू होगी मल्टी एंट्री,मल्टी एग्जिट तथा मल्टी डिस्पेंसरी योजना, अगर अगर आपकी पढ़ाई बीच सत्र में छूट गई तो आप नए सत्र से फिर से प्रवेश ले सकेंगे, Polytechnic एवं Engineering college में दिया जाएगा डिप्लोमा और डिग्री का प्रमाण पत्र, बीच सत्र में भी छात्र अपनी ब्रांच को बदल सकेगा |

राजस्थान सरकार हर राज्य में नए सत्र से पॉलिटेक्निक इंजीनियरिंग कॉलेजों में मल्टी एंट्री, मल्टी एग्जिट तथा मल्टीडिसीप्लिनरी योजना लाने जा रही है। जिसका लाभ ऐसे छात्रों को होगा, जिनकी पढ़ाई किसी भी कारण से बीच में छूट चुकी है। ऐसे छात्र इस योजना के जरिए फिर से कोर्स में admission लेकर अपनी पढ़ाई शुरू कर सकते हैं।

इसके साथ ही Engineering college में छात्रों के लिए भी एक नई योजना लागू की गई है। जिसमें अलग-अलग वर्षों के लिए छात्रों को सर्टिफिकेट तथा डिग्री देने का विचार किया गया है। जिससे बीच में छूटी उम्मीदवारों की पढ़ाई को बेकार ना जाने दिया जाए। इसीलिए Certificate तथा डिग्री दी जाएगी।

बीच में छूटी पढ़ाई फिर से शुरू हो सकेगी।

तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग द्वारा अधिकारियों के साथ की गई बैठक में यह कहा गया कि किसी भी वजह से अगर छात्रों की पढ़ाई Polytechnic तथा इंजीनियरिंग कॉलेज में बीच में छूटी है, तो उम्मीदवारों को दोबारा से उसमें जहां से पढ़ाई उनकी छुट्टी थी, वहीं से शुरुआत कर सकेंगे।

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

Indian Airforce Agniveer Vayu 01/2023 Recruitment 2022

ITBP Constable Tradesman Recruitment 2022

इससे किसी भी वजह से उम्मीदवारों की पढ़ाई बीच में छूट जाने पर भी दोबारा से शुरू हो सकेगी। जिसकी वजह से उम्मीदवारों को मल्टी एंट्री, मल्टी एग्जिट, मल्टी डिस्प्लेनिरी जैसी सुविधा मिलेगी। जिससे उनके साल खराब नहीं होंगे। क्योंकि पहले अगर बीच में पढ़ाई छूट जाती थी, तो उम्मीदवारों को दोबारा से उस कोर्स में admission लेना पड़ता था।

Multi entry, multi exit and multi dispensary scheme

अब उम्मीदवारों द्वारा फिर से जहां पढ़ाई छूट गयी थी वहीं से Admission मिल जाने से, पढ़ाई पर कोई असर नहीं पड़ेगा। क्योंकि लंबे समय से पॉलिटेक्निक तथा Engineering के छात्र लैटरल एंट्री की मांग करते रहे हैं। लेकिन सरकार की इस योजना से ऐसे ही छात्रों को बहुत खुशी हुई है, क्योंकि अब उनको लेट एलएनटी के साथ मल्टी एंट्री, मल्टी एग्जिट और मल्टीडिसीप्लिनरी जैसी सुविधा भी उपलब्ध होगी।

अब Engineering college में मिलेगा सर्टिफिकेट और डिग्री

राजस्थान राज्य के तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग ने बुधवार को अधिकारियों के साथ कई मुद्दों पर चर्चा की। जिसमें उन्होंने छात्रों से संबंधित विभिन्न मुद्दों को हल करने का प्रयास किया। जिसमें  मंत्री महोदय ने कहा, कि engineering की पढ़ाई करना कोई छोटी चीज नहीं है। अगर किसी भी वजह से उम्मीदवार की पढ़ाई बीच में छूट जाती है, तो वह बाद में भी दोबारा वही से पढ़ाई शुरू कर सकता है।

इसके अलावा इंजीनियरिंग करने वाला छात्र अगर 1 साल इंजीनियरिंग करके पढ़ाई छोड़ता है, तो यह साल उसका बेकार ना जाए इसलिए उसको अब से 1 साल का सर्टिफिकेट दिया जाएगा। यदि इंजीनियरिंग करने वाला छात्र दूसरे साल में बीच में पढ़ाई छोड़ता है, तो उसको 2 साल का एडवांस सर्टिफिकेट दिया जाएगा।

इसके साथ ही 3 साल इंजीनियरिंग में पूरे करने वाला उम्मीदवार को डिप्लोमा दिया जाएगा। जबकि 4 साल की engineering पूरी करने वाले उम्मीदवार को इंजीनियरिंग की डिग्री दी जाएगी। इससे बीच में पढ़ाई छोड़ने वाले उम्मीदवारों का साल बेकार नहीं होगा।

बीच में ही अपनी ब्रांच का भी बदलाव कर सकेंगे इंजीनियरिंग छात्र

अक्सर यह देखा जाता है, कि जब छात्र इंजीनियरिंग ब्रांच चुनते हैं, तो उनको भी नहीं पता होता कि आगे की इंजीनियरिंग ब्रांच की पढ़ाई कैसी होगी। लेकिन जब semester wise exam होते हैं, तब उम्मीदवारों को पता चलता है, कि उनकी तैयारी कैसी है। वे अच्छे से पढ़ाई कर पा रहे हैं या नहीं।

लेकिन राजस्थान राज्य सरकार द्वारा इंजीनियरिंग छात्रों के लिए एक नई योजना लाई गई है। जिसमें अरे इंजीनियरिंग छात्र पहले साल के सेमेस्टर मे फेल हो जाते हैं, तो वे अपनी इंजीनियरिंग ब्रांच को बदल सकते हैं। क्योंकि कभी कभी किसी दूसरे के कहने के कारण भी छात्र इंजीनियरिंग ब्रांच ले लेते हैं। जिसमें बाद में पास नहीं हो पाते हैं।

इसलिए अब engineering छात्र चाहे जिस भी सेमेस्टर में फेल हो जाएं, वे आगे अपनी ब्रांच में बदलाव कर सकते हैं। साथ ही अपनी मर्जी की ब्रांच चुन सकते हैं। इससे उनको एक्स्ट्रा क्रेडिट लाभ दिया जाएगा।

दसवीं पास उम्मीदवारों को भी मिलेगा Polytechnic Course में एडमिशन।

तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग द्वारा बताया गया है, कि जो नई योजना सरकार द्वारा लाई जा रही है उसमें ऐसे युवाओं को भी लाभ मिलेगा जो अभी तो कहीं पर काम कर रहे हैं। जिनकी शिक्षा बीच में छूट गई थी। हालांकि उन्होंने दसवीं पास की हुई है।

अगर ऐसे उम्मीदवार चाहे तो उनको क्षमता संवर्धन के लिए polytechnic course में एडमिशन दे दिया जाएगा। जिसमें वे अपनी पसंद का पॉलिटेक्निक कोर्स ले सकते हैं। इससे ऐसे उम्मीदवारों का काफी लाभ होगा, जो किसी कारण लंबे समय से अपनी पढ़ाई बीच में छोड़ चुके हैं।

SSC GD Constable 24369 Recruitment 2022

Odisha Jail Warder Recruitment 2022

अब ऐसे उम्मीदवार दोबारा से अपनी पढ़ाई कर पाएंगे। इसके साथ ही में जहां पर जॉब भी कर रहे हैं, वह भी साथ में कर सकते हैं। इस योजना के लागू होने से राजस्थान के ऐसे लाखों युवाओं का फायदा होगा। इसलिए राजस्थान के युवाओं ने राज्य सरकार की इस योजना का स्वागत किया है।

Leave a Comment