किसान रेल योजना 2022 की सम्पूर्ण जानकारी देखे-अब किसान रेल से भजे सकेगा मंडी तक अनाज

केंद्र सरकार द्वारा किसान रेल योजना 2022 की शुरुआत की गई है, किसान रेल देवलाली (महाराष्ट्र) से दानापुर (बिहार) के मध्य चलेगी, किसान अब रेल से भजे सकेगा फल, सब्जी, अनाज आदि, किसान रेल योजना से देश के किसानों को फायदा मिलेगा

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस आर्टिकल के ज़रिए हम आप लोगों को किसान रेल योजना से संबंधित सभी जानकारियाँ देंगे, एवं यह भी बताएँगे कि किस प्रकार से आप लोग इस योजना के लाभ ले सकेंगे। किसान रेल योजना को देश के किसान भाइयों की मदद हेतु आरंभ किया गया।

इस योजना को केन्द्र सरकार के द्वारा आरंभ किया गया, एवं इसका मुख्य उद्देश्य जल्दी खराब हो जाने वाले फल, सब्ज़ी, इत्यादि को ट्रेन के ज़रिए मंडी या फिर उनके गंतव्य जगह पर पहुँचाना है। इस कार्य की पूर्ति हेतु विशेष ट्रेनों को 2022 से आरंभ किया गया। पहली ट्रेन देवलाली (महाराष्ट्र) से दानापुर (बिहार) तक लगभग 1519 किलो मीटर की दूरी तय करते हुए 32 घंटों में पहुँची।

ऐसे चेक करे PM Kisan Samman Nidhi Yojana में पैसा मिला या नहीं मिलाPM Kisan Samman Nidhi Yojana List
मध्य प्रदेश किसान कर्ज माफ़ी योजना राजस्थान किसान कर्ज माफ़ी योजना

यह ट्रेन सुबह के 11 बजे देवलाली (महाराष्ट्र) से अपने गंतव्य जगह के हेतु निकली थी। महाराष्ट्र के इन जगहों पर ऐसे फल, फूल, सब्ज़ी तथा और भी कई कृषि उत्पादों की पैदावर होती है जो कि बहुत कम समय में ही खराब होने लगते हैं। यह उत्पाद नासिक (महाराष्ट्र) से इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश), पटना (बिहार), सतना, कटनी (मध्य प्रदेश), इत्यादि स्थानों पर भेज दिए जाते हैं।

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

इसी वर्ष फरवरी के महीने में वित्त मंत्री माननीय निर्मला सीतारमण जी ने बजट को पेश करते समय इन विशेष ट्रेनों की घोषणा की थी। इस योजना से जुड़ी  बहुत सी जानकारियाँ आगे दी गई हैं, तो कृपया इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़ें, वरना इस योजना से जुड़ी कोई इंफॉरमेशन आपके द्वारा छुट जाएगी। इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़िएगा ताकि इस योजना के उद्देश्य, लाभ और इस योजना के तहत बुकिंग करने की प्रक्रिया के बारे में आप आसानी से जान सकें। 

Contents

किसान रेल योजना 2022 के कुछ मुख्य तथ्य:


योजना का नाम

किसान रेल योजना

योजना का उद्देश्य

देश के किसानों के फसल (सब्जी, फल, इत्यादि) को ट्रेन के ज़रिए मंडी तक पहुँचाने की सुविधा देना

योजना किसके द्वारा आरंभ की गई है

केन्द्र सरकार के द्वारा

योजना के लाभार्थी कौन होंगे

हमारे देश के किसान
  • किसान रेल योजना के ज़रिए फलों, सब्ज़ियों, इत्यादि के अलावा माँस, मछली, दूध, इत्यादि जैसी जल्दी खराब हो जाने वाली चीजें भी ट्रांस्पोर्ट की जाएँगी।
  • यह रेल हफ्ते में 2 बार अर्थात सोमवार तथा शुक्रवार को देवलाली (महाराष्ट्र) से दानापुर(बिहार) एवं फिर दोबारा दानापुर(बिहार) से देवलाली (महाराष्ट्र) जाएगी।

योजना को शुरू करने का उद्देश्य:

किसान रेल योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य हमारे देश के किसानों के फसलों को जैसे कि- सब्जी, फल, फूल, इत्यादि को ट्रेन के ज़रिए मंडी तक पहुँचाने की सुविधा देना है। इसके हेतु अगस्त 2022 से विशेष ट्रेनें किसान रेल योजना के तहत शुरू की गई। 

किसान बीमा योजना रजिस्ट्रेशनपीएम किसान 2000 रूपये की छठी किश्त
इंदिरा प्रियदर्शिनी पुरस्कार के आवेदन फॉर्म देखेकिसान रथ मोबाइल एप डाउनलोड करे

योजना के द्वारा मिलने वाले लाभ:

किसान रेल योजना के द्वारा प्राप्त होने वाले लाभ निम्नलिखित हैं-

  • केन्द्र सरकार के द्वारा साल 2022 तक यह लक्ष्य निर्धारित किया गया है कि कृषकों की कमाई को दो गुना किया जा सके।
  • किसान रेल योजना के तहत 4 राज्यों (उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश एवं बिहार) जो कि प्रथम रेल रूट का हिस्सा हैं, उन्हें लाभ की प्राप्ति होगी।
  • कोल्ड स्टोरेज एवं साथ ही साथ कृषक उपज के हेतु परिवहन का भी इंतज़ाम इस योजना के तहत किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत फल, सब्ज़ी एवं अन्य कृषि उत्पादनों को सुरक्षित रूप से उनके गंतव्य स्थान पर भेजा जा सकेगा।
  • यदि इस योजना के तहत 50 प्रतिशत उपज को भी ट्रांसपोर्ट किया जा सका तो लगभग 45 करोड़ रूपयों की हानि से देश बच सकेगा।
  • इस योजना के तहत लगभग 50 प्रतिशत उपज नष्ट होने से बच सकेगी।
  • आईसीएआर सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट हार्वेस्ट इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी सीआईपीएचईटी की रिपोर्ट जो कि 9 अगस्त 2016 को जारी की गई थी, उसके हिसाब से लगभग 92 हज़ार तक की खाने की चीज़ें प्रत्येक वर्ष नष्ट हो जाते हैं, इस योजना के कारण यह नुकसान काफी हद तक कम हो सकेगा।
  • केंद्र सरकार और भी इस प्रकार रेल सुविधा शुरू करने के बारे में सोच रही है।
  • इस योजना के तहत किसानों के द्वारा पहले से ही बुकिंग की जा सकेगी।
  • रेल के डिब्बे वातानुकूलित एवं शीत भंडारण (कोल्ड स्टोरेज) सहित होने के वजह से ट्रांस्पोर्ट की जा रही चीज़ों की खराब होने की कोई आशंका नहीं रहेगी।
  • इस योजना के तहत कृषकों को काफी राहत और उनकी काफी कम हानि खास कर प्याज़ के उत्पादकों का क्योंकि नासिक में प्याज़ की उपज काफी अधिक होती तथा प्याज़ बहुत ही शीघ्र नष्ट भी हो जाता है।

किसान रेल की रूट:

किसान रेल की रूट निम्नलिखित है-

मुख्यमंत्री निशुल्क कोचिंग योजनाPM Modi Sarkari Yojana की पूरी जानकारी
PM Ujjwala Yojana एक क्लिक से देखे KCC लाभार्थियों की सूची

देवलाली, नासिक रोड, मनमाड, जलगाँव, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, इटारसी, जबलपुर, सतना, कटनी, मानिकपुर, प्रयागराज, पंडित दीन दयाल उपाध्याय नगर, बक्सर।

किसान रेल योजना 2022 के तहत ऑनलाइन बुकिंग से संबंधित जानकारी:

किसान रेल योजना के तहत ऑनलाइन बुकिंग करवाने हेतु इच्छुक लोगों को अभी कुछ दिन प्रतीक्षा करनी पड़ेगी क्योंकि अभी तक इस योजना के तहत ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया आरंभ नहीं हुई है, पर जल्द ही इस योजना के तहत ऑनलाइन बुकिंग की जो प्रक्रिया है वो आरंभ हो जाएगी।

 प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना-Rajasthan Jan Aadhar Card
निर्मल आत्मनिर्भर त्रृण योजना,लोन चुकाने पर ब्याज की राशि वापस मिलेगीDriving License Lost- Apply Online for Duplicate DL in

हमें यह उम्मीद है कि आज का यह आर्टिकल आपको ज़रूर अच्छा लगा होगा। यह आर्टिकल आपके लिए मददगार था अथवा नहीं यह आप हमें कमेंट के द्वारा अवश्य बताएँ।

किसान रेल योजना 2022 से संबंधित कुछ महत्त्वपूर्ण प्रश्नोत्तर (FAQs):

क्या किसान रेल योजना के तहत सिर्फ उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश एवं बिहार को ही लाभ की प्राप्ति होगी, या फिर देश का अन्य कोई राज्य को भी इस योजना के तहत लाभ मिल सकेगा?

जी हाँ, किसान रेल योजना के तहत फिलहाल सिर्फ उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश एवं बिहार को ही लाभ मिल सकेगा, देश के अन्य किसी भी राज्य को फिलहाल इस योजना के तहत लाभ की प्राप्ति नहीं हो सकेगी। 

किसान रेल योजना के तहत प्रति टन माल के हिसाब से किराया कितना होगा?

किसान रेल योजना के तहत प्रति टन माल के हिसाब से किराया कुछ इस प्रकार होगा-
देवलाली अथवा नासिक रोड से दानापुर तक- 4 हज़ार 1 रूपए (4001 रूपए)
मनमाड से दानापुर तक- 3 हज़ार 8 सौ 49 रूपए (3849 रूपए)
जलगाँव से दानापुर तक- 3 हज़ार 5 सौ 13 रूपए (3513 रूपए)
भुसावल से दानापुर तक- 3 हज़ार 4 सौ 59 रूपए (3459 रूपए)
बुरहानपुर से दानापुर तक- 3 हज़ार 3 सौ 23 रूपए (3323 रूपए)
खंडवा से दानापुर तक- 3 हज़ार 1 सौ 48 रूपए (3148 रूपए)

किसान रेल योजना की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

किसान रेल योजना की ऑफिसियल वेबसाइट के बारे में फिलहाल कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं है, पर जल्द ही उपलब्ध हो जाएँगे, इसके लिए आपको हमारे वेबसाइट पर नज़र बनाए रखना पड़ेगा।

क्या किसान रेल योजना के तहत सभी प्रकार के किसान आवेदन कर सकेंगे या फिर गरीब किस ही इस योजना के लाभ उठा सकेंगे?

किसान रेल योजना के तहत सभी प्रकार के किसान आवेदन कर सकेंगे, लाभार्थिओं में किसी भी तरह का भेद-भाव नहीं किया जाएगा।

Leave a Comment