फिर से लॉकडाउन के डर से प्रवासी मजदूर लौटने लगे अपने घरों की और-जाने इस बार कितने दिनों के लिए होगा लॉकडाउन |

By | April 9, 2021

प्रवासी मजदूरों का सताने लगे Lockdown लगने का डर,महाराष्ट्र (मुंबई) से लौटने लगे अपने घरों की और मजदूर,क्या फिर से देश में Lockdown लगाया जा सकता है, कोरोना की दूसरी लहर शुरू होने के बाद से लोगों में Lockdown लगने डर, लोगों ने कहा कि इस बार Lockdown कितने दिनों के लिए लग सकता है | मध्य प्रदेश में साप्ताहिक Lockdown लगाया गया |

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में कोरोना की दूसरी लहर में Lockdown से जुड़ी खबर के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | पिछली साल देश में कोरोना महामारी की वजह से मार्च 2020 में Lockdown लगाया गया था, जिसकी वजह से देश के लोगों को काफी परेशानी हुई थी | मार्च 2020 में सम्पूर्ण Lockdown लगाए जाने के बाद से काफी मुश्किलों के बाद लोग (जिनमे मजदूरों) को अपने घर जा पाए थे |

लेकिन करीब छह माह के समय बाद फिर से लोग धीरे-धीरे काम पर लौटने लगे थे | इस नए साल में लोगों को लगने लगा कि अब सब कुछ सामान्य हो जायेगा, लेकिन अब कुछ समय से देश में कोरोना की दूसरी लहर शुरू हो चुकी है | कोरोना की दूसरी लहर में काफी लोगों को संक्रमण हो रहा है | इसलिए देश के कई प्रमुख बड़े शहरों में रात्रि कर्फ्यू भी लगाया जा रहा है | अधिक जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

Contents

कोरोना को रोकने के लिए रात्रि कर्फ्यू का निर्णय लिया गया-

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के तेजी से फैलने की वजह से कई प्रमुख शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाया जा रहा है | लेकिन रात्रि कर्फ्यू में भी समय का निर्धारण सभी शहरों में अलग-अलग है | कुछ जगहों पर रात्रि 06 बजे से सुबह 06 बजे तक का समय है, लेकिन कुछ शहरों में रात्रि 08 बजे या 10 बजे से सुबह 06 बजे का समय भी निर्धारित किया गया है |

लॉक डाउन के डर प्रवासी मजदुर घर लौटने लगे है

लेकिन इसी के साथ लोगों की और से कुछ सवाल भी किये जा रहे है कि क्या रात्रि कर्फ्यू लगाने से कोरोना महामारी को रोका जा सकता है | क्योंकि उनका कहना है कि सरकार एक और तो यह कह रही है कि दो गज दूरी मास्क है जरुरी | लेकिन इसी बीच सरकार चुनावी माहौल में बड़ी-बड़ी रैलियां आयोजित करवा रही है |

प्रवासी मजदूर घरों की और लौटने लगे-

कोरोना की दूसरी लहर में Lockdown के डर के कारण से प्रवासी मजदूर अपने घरों की और लौटने लगे है | हमारी टीम को मिली जानकारी के अनुसार मुंबई से उतर भारत की और आने ट्रेनों में काफी भीड़ देखने को मिल रहे है | इन ट्रेनों में आने वाले मजदूरों से जब पूछा गया कि आप क्यों जा रहे हो, क्या आपके घर पर कोई शादी या अन्य कार्यक्रम, तो इस सवाल पर उन्होंने कहा कि नहीं,

हम केवल Lockdown के डर की वजह से जा रहे है | इनमे से कुछ लोगो ने यह भी कहा कि पिछली बार जब Lockdown लगाया गया था, उस समय हमें काफी परेशानी हुई थी | इसलिए इस बार Lockdown लगने से पहले ही हम अपने घरों की और जा रहे है |

पिछली बार अचानक Lockdown लगने की वजह से काफी लोग फसे थे-

जब मार्च 2020 में कोरोना महामारी को देखते हुए देश में Lockdown लगाने का निर्णय लिया गया था, तो काफी लोग अपने घरों तक नहीं जा पाए थे | इसलिए इस बार Lockdown ना लग जाए, इस डर से लोग पहले ही अपने घरों की और लोट रहे है | क्योंकि जब पिछली साल Lockdown लगा था, उस समय लोगों को कुछ सोचने का समय भी नहीं मिल पाया था,

जो प्रवासी मजदूर दूसरे राज्यों में काम कर रहे थे, वे अपने घरों तक नहीं जा पाए थे | लेकिन कोरोना की दूसरी लहर में अगर Lockdown लगाया भी जाएगा, तो पूरे देश में एक साथ नहीं लगाया जाने की संभावना है |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *