राजस्थान 3rd Grade Teacher भर्ती में रिक्त पदों का ब्यौरा जारी नहीं हुआ-लिखित परीक्षा की तिथि घोषित हुई |

राजस्थान 3rd Grade Teacher भर्ती में रिक्त पदों का ब्यौरा जारी नहीं हुआ, Rajasthan Teacher Bharti 2022 में हो रही है लापरवाही, शिक्षा विभाग ने राजस्थान तृतीय श्रेणी भर्ती में रिक्त पदों की जानकारी अभी तक नहीं दी गई, राजस्थान में रीट मुख्य परीक्षा फरवरी 2023 में आयोजित होने की संभावना है |

राज्य सरकार के द्वारा द्वितीय श्रेणी तथा तृतीय श्रेणी के पदों पर भर्ती प्रक्रिया अब तक शुरू नहीं की गई है। जबकि लेवल 2 तथा लेवल 1 के रिक्त पड़े 46,500 पदों पर भर्ती की घोषणा फरवरी 2022 में की गई थी। हालांकि इस संबंध में राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा इन सभी पदों पर भर्ती परीक्षा 4 तथा 5 फरवरी को घोषित की गई है।

लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारी अभी तक पूरे पदों के बारे में नहीं बता पाए हैं, ना ही विभाग के द्वारा पूरे पदों की जानकारी चयन बोर्ड के पास भेजी है। इसी वजह से चयन बोर्ड तय समय पर भर्ती परीक्षा शायद ही करा पाएगा। ऐसे में शिक्षा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही सामने आ रही है उनकी गलती की वजह से राज्य के बेरोजगार युवा नौकरी की तलाश में दर-दर भटक रहे हैं।

4 तथा 5 फरवरी को आयोजित होगी, भर्ती परीक्षा

हालांकि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के द्वारा 4 तथा 5 फरवरी को शिक्षकों के 46,500 पदों पर भर्ती परीक्षा की तारीख तय कर दी गई है। लेकिन अभी तक चयन बोर्ड के पास शिक्षकों के खाली पदों का ब्यौरा अधिकारियों द्वारा नहीं भेजा गया है।

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

Rajasthan 3rd Grade Teacher Level-1 के Handwritten Notes

Rajasthan 3rd Grade Teacher REET Main Exam Level-2 Handwritten Notes

जब तक शिक्षा विभाग के अधिकारी पूरे पदों की जानकारी चयन बोर्ड को नहीं देंगे तब तक राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड भर्ती परीक्षा की प्रक्रिया भी शुरू नहीं कर सकता है। बताया जा रहा है कि शिक्षा विभाग के अधिकारी लापरवाही कर रहे हैं इसी कारण अब तक पदों का ब्यौरा चयन बोर्ड तक नहीं भेजा जा सकता है।

Details of vacant posts not released in Rajasthan 3rd Grade Teacher Recruitment

30 सितंबर को जारी कर दी गई थी, परीक्षा तिथि इस बार शिक्षकों के 46,500 पदों पर भर्ती प्रक्रिया की जिम्मेदारी राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड को दी गई है। बोर्ड के द्वारा ही तय समय पर राज्य में शिक्षक भर्ती को पूरा कराने का जिम्मा लिया गया है। इसी को देखते हुए चयन बोर्ड के द्वारा 30 सितंबर को इन शिक्षकों की भर्ती परीक्षा की तारीख घोषित कर दी गई थी।

इसका मतलब यह है कि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड तो भर्ती परीक्षा जल्द से जल्द आयोजित करवाना चाहता है लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा चयन बोर्ड को अभी पदों की संख्या का पूर्ण विवरण नहीं दिया है इसके अलावा शिक्षा विभाग के द्वारा ना ही यह बताया है कि कहां-कहां पर सीटें खाली हैं। इस वजह से भर्ती बोर्ड द्वारा चयन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है।

अक्टूबर माह में शुरू करनी थी, भर्ती प्रक्रिया

बताया जा रहा है कि राज्य सरकार द्वारा जब फरवरी 2022 में 46,500 पदों पर शिक्षकों की भर्ती की घोषणा की गई थी तो उसमें कहा गया था, की लेवल 2 तथा लेवल 1 के शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया अक्टूबर माह में शुरू की जाएगी। इसी के लिए सरकार द्वारा शिक्षा विभाग और चयन बोर्ड को निर्देश दिए गए थे।

जब राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के द्वारा शिक्षा विभाग से इन सभी पदों पर विवरण मांगा गया, तो शिक्षा विभाग के अधिकारी टालमटोल करते रहे। इसी वजह से अक्टूबर माह भी बीत गया है और नवंबर माह भी आधा चला गया है। लेकिन अधिकारियों के द्वारा स्कूलों से रिक्त पदों का विवरण अब तक चयन बोर्ड को नहीं दिया गया है।

इसी वजह से यह भर्ती प्रक्रिया अब कब शुरू होगी यह नहीं पता चल पाया है। जैसा कि आपको पता है कि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के द्वारा परीक्षा तिथि पहले से ही घोषित की गई है। ऐसे में चयन बोर्ड के अध्यक्ष हरि प्रसाद शर्मा ने यही कहा है, कि अभी तक हमको अभ्यर्थना ही नहीं मिली है।

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड का कहना है कि जब भी हमें अभ्यर्थना मिल जाएगी तो इसके पश्चात भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। शिक्षा विभाग की तरफ से देरी होने के कारण ऐसा लग रहा है कि परीक्षा के आयोजन में भी देरी हो सकती है। यानी चयन बोर्ड को भी यह लगने लगा है कि शिक्षा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से अब वे तय समय पर परीक्षा नहीं करवा पाएंगे।

Level-2 के 6000 पदों पर हो रहा हैं, विरोध

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसी साल फरवरी माह में राज्य के शिक्षा मंत्री ने 46,500 पदों पर शिक्षक भर्ती करने की घोषणा की थी। जिसमें लेवल 2 के 31,500 पद तथा लेवल 1 के 15,000 पद बताए गए थे। ऐसा उन्होंने एक प्रेस रिलीज में बताया था।

पिछले ही दिनों राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा इसी शिक्षक भर्ती मे लेवल 2 के 25,500 पद तथा लेवल 1 के 21,000 पदों पर भर्ती करने का ऐलान किया गया था। जिसके बाद से level-2 के उम्मीदवार काफी नाराज हैं, क्योंकि उनके लगभग 6,000 पद कम किए गए हैं।

जहां पहले level- 2 के उम्मीदवारों को 6,000 पद ज्यादा मिल रहे थे अब उनके पदों को कम करके Level- 1 में 6,000 पद ज्यादा दे दिए गए हैं। इसलिए B.Ed डिग्री धारी इसका विरोध कर रहे है। क्योंकि Level-1 के पदों मे केवल बीटीसी योग्यता के उम्मीदवार ही आवेदन कर सकते हैं।

जबकि level-2 के पदों के लिए केवल बीएड डिग्री धारक ही आवेदन कर सकते हैं। इस वजह से एक बार पदों को बढ़ाया गया तथा दूसरी बार पदों को घटाया गया है। जिससे प्रतियोगी छात्र काफी नाराज हैं और सरकार का हर जगह विरोध कर रहे हैं।

उपेन यादव ने भी सरकार से, पदों की संख्या बढ़ाने को कहा

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने सरकार से कहा है कि जल्द से जल्द level-2 के पदों की संख्या बढ़ाई जाए। क्योंकि एक बार अपने पदों की संख्या बढ़ाई है तथा दूसरी बार पदों की संख्या कम की है। उनके अनुसार सरकार का ऐसा करने का मतलब यह है कि उम्मीदवारों के साथ मजाक किया जा रहा है।उपेन यादव का कहना है कि जब शुरुआत में शिक्षा मंत्री द्वारा पदों की संख्या बताई गई थी फिर उनमें से 6,000 पद कम क्यों किए गए।

REET Level-1 के Handwritten Notes Syllabus के अनुसार PDF

REET Level-2 Handwritten Notes की PDF

वैसे भी बीएड डिग्री धारक आवेदन करने वाले ज्यादा है इसलिए उनके लिए पदों की संख्या भी ज्यादा होनी चाहिए। जबकि सरकार ने उनके पदों को कम करके बीटीसी के लिए पदों की संख्या को ज्यादा किया है।यदि सरकार ऐसा करती है तो यह B.Ed के छात्रों के साथ अन्याय है इसलिए सरकार को अपनी गलती मानते हुए जल्द से जल्द पदों की संख्या को बढ़ाना चाहिए। साथ ही सरकार को अब बिना किसी रूकावट के यह शिक्षक भर्ती जल्द से जल्द पूरी करवानी चाहिए। क्योंकि लंबे समय से राज्य में कोई भी बड़ी शिक्षक भर्ती नहीं हुई है जबकि प्रतियोगी उम्मीदवार काफी समय से शिक्षक भर्ती की मांग कर रहे हैं।

Leave a Comment