डेंगू बुखार के लक्षण और उपाय के बारे में सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में पढ़े-समय पर ईलाज करवाना जरुरी |

By | October 17, 2021

डेंगू बुखार के लक्षण और उपाय के बारे में सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में पढ़े, कोरोना के बाद अब प्रदेश में डेंगू बुखार का प्रकोप काफी तेजी से फैल रहा है, डेंगू के मुख्य लक्षण और उपाय जाने, डेंगू का ईलाज समय पर नहीं होने से व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है, डेंगू बुखार महामारी भी साबित हो सकती है |

वैसे तो भारत में कई प्रकार के बुखार होते हैं, परंतु डेंगू बुखार सबसे खतरनाक बुखार माना जाता है l जिस प्रकार मलेरिया बुखार मच्छरों के काटने से फैलता है इसी प्रकार डेंगू बुखार भी मच्छर के काटने से फैलता है l दरअसल एंडीज मच्छर के काटने से डेंगू बुखार होता है l एंडीज मच्छर दूसरे मच्छरों की तुलना में काफी खतरनाक होता है और यह मच्छर दिन में भी काटता है l

एंडीज मच्छर के काटने से पीड़ित रोगी के रक्त में डेंगू वायरस की मात्रा काफी बढ़ जाती है l एंडीज मच्छर एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को काटता है, तो पीड़ित रोगी के शरीर में डेंगू वायरस फैल जाता है l डेंगू वायरस को हड्डी तोड़ ज्वर भी कहा जाता है l डेंगू बुखार यदि किसी व्यक्ति को हो जाता है, तो लगभग 3 से 5 दिनों में डेंगू बुखार के लक्षण दिखाई देने शुरू हो जाते हैंl किसी व्यक्ति में लक्षण थोड़े पहले और किसी व्यक्ति में डेंगू बुखार के लक्षण 10 दिनों में भी दिखाई दे सकते हैं l

डेंगू बुखार एक संचारी रोग है और यह एक महामारी का रूप भी धारण कर लेता है l आंकड़ों के अनुसार पूरे विश्व में डेंगू बुखार के लगभग हर वर्ष 2 करोड़ से अधिक लोग Dengue Bukhar के शिकार होते हैं l डेंगू बुखार बड़ों के मुकाबले बच्चों में अधिक तेजी से फैलता है l डेंगू बुखार के अधिकतर मामले बरसात के मौसम में या फिर बरसात के तुरंत बाद सामने आते हैं l जुलाई से लेकर अक्टूबर माह में एंडीज मच्छर अधिक प्रभावी होता है और सबसे अधिक मामले भी जुलाई से अक्टूबर माह में ही आते हैं l

डेंगू बुखार की सम्पूर्ण जानकारी और मुख्य लक्षण क्या है-

Dengue Bukhar मुख्यत: तीन प्रकार का होता है,इसीलिए डेंगू बुखार से पीड़ित रोगियों में विभिन्न प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं l आइए डेंगू बुखार के कुछ मुख्य लक्षणों के बारे में जानते हैं l

Dengue Bukhar ke lakshan & Upay

क्लासिकल डेंगू बुखार के लक्षण

  • डेंगू बुखार से पीड़ित रोगी को अचानक ठंड लगती है और रोगी के सिर और मांसपेशियों के साथ-साथ जोड़ों में भी काफी दर्द होता है l कुछ पीड़ित रोगी के आंखों के पिछले भाग में भी दर्द होता है l
  • डेंगू बुखार में अत्यधिक कमजोरी महसूस होती है और मरीज को भूख बहुत कम लगती है l मरीज के मुंह का स्वाद खराब हो जाता है और गले में दर्द भी रहता है l

डेंगू हमरेजिक बुखार के लक्षण

  • इस तरह के रोगी में क्लासिकल डेंगू बुखार के लक्षण के साथ-साथ अन्य लक्षण भी दिखाई देते हैं l रोगी के मुंह, नाक और उल्टी में खून आता है l
  • डेंगू हमोरेजिक बुखार के रोगी के शरीर पर नीले व काले रंग के चकत्ते पढ़ सकते हैं l

डेंगू शॉक सिंड्रोम के लक्षण

  • डेंगू शॉक सिंड्रोम में रोगी को क्लासिकल डेंगू बुखार और डेंगू हमरेजिक बुखार के साथ-साथ अन्य लक्षण भी दिखाई देते हैं l
  • इस प्रकार के रोगी में अधिक बेचैनी होती है और त्वचा ठंडी हो जाती है l रोगी अपने होश खो देता है, इस प्रकार के बुखार में रोगी का ब्लड प्रेशर भी घटता है l

डेंगू बुखार पर रोकथाम करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण उपाय इस प्रकार हैं

डेंगू बुखार एंडीज मच्छर के काटने से फैलता है l डेंगू वायरस को फैलने से रोकने के लिए हम आपको कुछ महत्वपूर्ण उपाय बता रहे हैं, इन उपाय को अपनाकर डेंगू वायरस को कुछ हद तक काबू किया जा सकता है l

  • एडिज मच्छर अधिकतर ऐसे स्थान पर ही पाए जाते हैं जहां पर पानी ठहरा हुआ होता है l यदि हम ऐसे स्थान को ही साफ कर दें जहां पर पानी ठहरा हुआ है, तो मच्छर का प्रजनन नहीं हो पाएगा और प्रजनन ना होने के कारण एंडीज मच्छर डेंगू वायरस को फैला नहीं पाएंगे l
  • डेंगू बुखार पर नियंत्रण करने के लिए हमें अपने आसपास कहीं पर भी पानी एकत्रित नहीं होने देना है l अधिकतर घरों में कूलर और गमलों में पानी भरा रहता है, इसीलिए 2 से 3 दिन बाद कूलर का पानी अवश्य बदलें l
  • गमलों में अधिक पानी ना जमा होने दें, कूलर और पानी की टंकी में प्रत्येक सप्ताह कुछ बूंदे पेट्रोल और मिट्टी के तेल की अवश्य ही डाल दें l ऐसा करने से एंडीज मच्छरों का प्रजनन रुक जाएगा l
  • एडीज मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए घर की छत पर एवं घर के बाहर टूटे-फूटे टायर, बोतल और डिब्बों में पानी जमा ना होने दें, फालतू सामान को घर में ना रखें l
  • कई बार पानी की टंकी और घर के बर्तन खुले रहने से एंडीज मच्छर वायरस फैला सकता है,इसीलिए बर्तनों एवं पानी की टंकी को ढक कर रखें l फ्रिज के नीचे लगी ट्रे में भी पानी इकट्ठा हो सकता है, इसीलिए ट्रे को हफ्ते में दो-तीन बार साफ अवश्य कर दें l
  • घरों की खिड़कियों एवं दरवाजों में जाली लगवाएं ताकि मच्छर घर में प्रवेश न कर पाए l घर के आस-पास ज्यादा घास और झाड़ियां होने ना दें l यदि घर के पास कूड़ा अधिक इकट्ठा हो गया है, तो सफाई का विशेष ध्यान रखें l पंचायत केंद्र और नगर पालिका से संपर्क करके आसपास सफाई जरूर करवाएं l
  • मच्छरों से बचने के लिए मच्छर नाशक क्रीम,  स्प्रे और मच्छरदानी का उपयोग भी किया जा सकता है l मच्छरों को भगाने के लिए सिनेट्रॉला तेल काफी फायदेमंद होता है, इसका छिड़काव करने से मच्छर घर में प्रवेश नहीं करते हैं l
  • डेंगू बुखार अधिकतर जुलाई से अक्टूबर माह में ही फैलता है इसीलिए यदि कपड़े पहनने में सावधानी रखी जाए तो भी कुछ हद तक डेंगू बुखार से बचा जा सकता है l जुलाई से अक्टूबर माह में ऐसे कपड़े पहनने चाहिए जिनसे शरीर अधिक ढका रहे l ऐसे में मच्छर ढके हुए शरीर के कारण नहीं काट पाएंगे l

यहाँ से देखे डेंगू बुखार से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *