भारत में हुआ Delta Plus Variant का प्रवेश:-वायरस के लक्षण एवं सम्पूर्ण जानकारी देखे हिंदी में |

By | June 29, 2021

डेल्टा प्लस वायरस का भारत में हुआ प्रवेश, Delta Plus Variant symptoms in hindi, Delta Plus Variant के लक्षण कैसे होते है, Delta Plus Variant की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में, डेल्टा प्लस वायरस के उपाय क्या है |

2 वर्ष होने को है और कोरोनावायरस के कारण भारत में हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं | पहले कोरोनावायरस के कारण ब्लैक एवं वाइट फंगस जैसे वायरस भारत में प्रवेश कर चुके हैं | अब ऐसे में कोरोनावायरस से लड़ना बहुत ही मुश्किल हो चुका है | वैसे तो सरकार के द्वारा कोरोनावायरस से बचाव के लिए हर राज्य स्तर पर वैक्सीन लगाई जा रही है |

पहले बुजुर्गों को कोरोना वैक्सीन लगवाई गई थी, अब 18 से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए वैक्सीनेशन कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है | हाल ही में देश में एक ही दिन में 8000000 से अधिक लोगों ने वैक्सीनेशन कार्यक्रम में भाग लेकर एक इतिहास रच दिया है | अब काफी राज्यों में छोटे बच्चों को वैक्सीन लगाने का कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है | प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोनावायरस की तीसरी लहर अक्टूबर के अंत में नवंबर की शुरुआत तक भारत में प्रवेश कर जाएगी |

सरकार के द्वारा कोरोनावायरस की तीसरी लहर से बचने के लिए पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं, ताकि जो हालत भारत की कोरोनावायरस की दूसरी लहर आने से हुई है, वह तीसरी लहर आने से ना हो | कोरोनावायरस की दूसरी लहर पहली लहर से काफी खतरनाक थी | दूसरी लहर में भारत में अत्यधिक मौतों के रिकॉर्ड दर्ज किए गए हैं | भारत के कुछ राज्य ऐसे हैं जहां पर अब कोरोनावायरस का एक नया संक्रमण सामने आया है | कोरोनावायरस का एक नया संक्रमण आइए जानते हैं ,किस राज्य व शहर में आ चुका है |

कोरोनावायरस का नया Delta Plus Variant दे चुका है राजस्थान में दस्तक

हाल ही में ही राजस्थान के बीकानेर जिले में कोरोनावायरस का नया संक्रमण डेल्टा प्लस की संभावनाएं बताई जा रही हैं | प्राप्त जानकारी के अनुसार बीकानेर में कुछ ऐसे नए मामले सामने आए हैं, जिससे यह साबित हो गया है कि मरीजों को Delta Plus Variant हो चुका है | हाल ही में यह खबर मिली है कि कोरोनावायरस का Delta Plus Variant लगभग 85 देशों में पूर्ण तरीके से फैल चुका है, और अब डेल्टा प्लस वैरीअंट भी बहुत तेजी से फैल रहा है |

Delta Plus Variant symptoms Details in Hindi

रिसर्च के अनुसार डेल्टा प्लस वेरिएंट सबसे ज्यादा खतरनाक है, यह फेफड़े को बहुत जल्दी नुकसान पहुंचा कर संक्रमित करता है | डेल्टा प्लस वैरीअंट के कारण मौत के आंकड़ों में अब काफी इजाफा होने वाला है, क्योंकि यह वायरल कोरोनावायरस के वेरिएंट से सबसे ज्यादा खतरनाक है | प्राप्त जानकारी के अनुसार इंग्लैंड में अब हालात सामान्य हो चुके थे और लॉकडाउन खुल चुका था, परंतु इंग्लैंड में डेल्टा प्लस वेरिएंट के मामले सामने आए हैं, जिससे अब दोबारा इंग्लैंड में लॉकडाउन की परिस्थितियां बन चुकी है |

हमेशा चर्चा में रहने वाले देश इजराइल में भी कोरोनावायरस की परिस्थितियां सामान्य हो गई थी परंतु कोरोनावायरस के Delta Plus Variant के आ जाने से इजराइल में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है | अमेरिका के प्रसिद्ध विशेषज्ञ फाओची के अनुसार डेल्टा प्लस वैरीअंट कोरोना के सभी वैरीअंट से अधिक घातक है |

राजस्थान में कोरोना के डेल्टा प्लस वैरीअंट से बचने के लिए कर ली गई है पूरी तैयारी

राजस्थान सरकार के द्वारा यह बताया जा रहा है कि जिस तरह दूसरी लहर के कारण राज्य में ऑक्सीजन एवं वेंटिलेटर या बेड से संबंधित परेशानियां उत्पन्न हुई थी | अब ऐसी कोई भी परेशानी नहीं होगी | सरकार की माने तो अब कोरोनावायरस की डेल्टा प्लस वायरस से बचने के लिए राजस्थान में अच्छी मात्रा में बेड एवं वेंटिलेटर की सुविधा कर ली गई है | 2 .36 करोड़ लोग ऐसे हैं जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की पहली Dose ले ली है | राज्य सरकार के अनुसार रोजाना 15 लाख वैक्सीन लगाने का प्लान बना लिया गया है, और राज्य सरकार के साथ केंद्र सरकार मिलकर पूरा सहयोग भी कर रही है |

मास्क की अनिवार्यता करने वाला राजस्थान बना है देश का पहला राज्य

राजस्थान देश का ऐसा सबसे पहला राज्य बना है जिसने जनता के सामने मास्क की अनिवार्यता लागू कर दी है | राजस्थान सरकार के द्वारा पूरे राज्य  में नो मास्क को नो एंट्री अभियान के द्वारा पूरे देश में जागरूकता अभियान चलाया गया है | इस जागरूकता अभियान के कारण ही राजस्थान की पूरे विश्व में सराहना हो रही है | सरकार के द्वारा यह दिशा निर्देश दिए गए हैं, कि यदि ऐसे कोई व्यक्ति जिन्हें वैक्सीन की दोनों खुराक लग चुकी हैं, उन्हें फिर भी मास्क लगाना है | मास्क लगाने में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं करनी है |

जब से राजस्थान में कोरोनावायरस का डेल्टा प्लस वेरिएंट का मामला सामने आया है, तभी से राजस्थान सरकार काफी एक्टिव हो गई है | राजस्थान के जयपुर में SMS मेडिकल कॉलेज में जीनोम स्कैनिंग की सुविधा शुरू कर दी गई है | राजस्थान सरकार के द्वारा एक हेल्पलाइन नंबर 181 भी जारी किया गया है | यदि किसी व्यक्ति को कोरोनावायरस एवं कोरोनावायरस से संबंधित किसी भी सेवा से संबंधित कुछ भी पूछना है तो वह 181 टोल फ्री नंबर पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *