सतर्क रहे-कोरोना के यह 4 लक्षण खांसी-बुखार से पहले ही दिख जाते है|

By | October 8, 2020

कोरोना संक्रमण के चार लक्षण खांसी-बुखार से पहले ही दिख जाते है, कोरोना कई मरीजों के तंत्रिका तंत्र पर हमला करता है, कोरोना वायरस के आम लक्षणों की जगह सिर दर्द, चक्कर आना, स्ट्रोक और सतर्कता में कमी जैसे न्यूरोलॉजिकल लक्षण का अनुभव कर रहे हैं|

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में कोरोना के मरीजों द्वारा अनुभव किये गए चार न्यूरोलॉजिकल लक्षण के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | कोरोना वायरस सबसे पहले चीन के वुहान में दिसम्बर 2019 में आया था |

लेकिन भारत में बात की जाये तो फरवरी माह में इसके मरीज मिलने शुरू हो गए थे | कोरोना महामारी से झुझते हुए पूरी दुनिया को आज दस माह का समय बीत चूका है | इस दौरान बहुत से लोगो की जान भी जा चुकी है | पहले इसको केवल निमोनिया की तरह ही माना जा रहा था | लेकिन अब जैसे जैसे मरीजों की संख्या बढ़ रही है वैसे ही इनके लक्षणों का पता चला रहा है |

Corona Virus-क्या है कोरोना वायरस, इसके लक्षण और उपाय जानेCorona मरीज को होम आइसोलेशन में कैसे रखे -सावधानी और नियम
Sonu Sood Scholarship Registration पतंजलि स्टोर कैसे खोलें-डीलरशिप लेने हेतु आवेदन प्रक्रिया देखे

पहले इसमें माना जा रहा था कि मरीज को खांसी-बुखार या साँस लेने में दिक्कत होती है | लेकिन अब यह साफ हो चूका है कि कोरोना के अन्य लक्षण भी जो खांसी-बुखार से पहले की दिख जाते है | कोविड-19 शरीर के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकता है |

कोरोना के यह चार लक्षण खांसी-बुखार से पहले दिख जाते है-

COVID-19 के सामान्य लक्षण वैसे खांसी-बुखार या साँस लेने में दिक्कत होना ही माना जाता है | लेकिन एनराल्स ऑफ़ न्यूरोलॉजी में हाल ही में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, ऐसे रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है, जो सूखी खांसी, गले में ख़राश या बुखार जैसे कोरोना वायरस के आम लक्षणों की जगह सिर दर्द, चक्कर आना, स्ट्रोक और सतर्कता में कमी जैसे न्यूरोलॉजिकल लक्षण का अनुभव कर रहे हैं |

ऐसे में हमें यह नहीं सोचना चाहिए कि कोरोना के लक्षण खांसी-बुखार या फिर साँस की समस्या होना ही है | अगर आपको इनसे पहले न्यूरोलॉजिकल लक्षण जैसे सिर दर्द, चक्कर आना, स्ट्रोक और सतर्कता में कमी जैसे न्यूरोलॉजिकल लक्षण का अनुभव हो रहा हो तो, आप तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सक की सलाह जरूर लेवे |

कोरोना न्यूरोलॉजिकल लक्षणों से भी शुरू हो सकता है-

कोविड-19 के शुरुआती आम लक्षणों से पहले अभर रहे न्यूरोलॉजिकल संकेतों को समझने के लिए शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस के 19 मरीज़ों का विश्लेषण किया | शोध के प्रमुख ऑथर, इगोर कोरालनिक, का मानना है, कि चिकित्सकों के साथ आम जनता को भी इसके बारे में पता होना ज़रूरी है, कि कोरोना वायरस संक्रमण बुखार, खांसी या सांस की समस्या जैसे आम लक्षणों के अलावा न्यूरोलॉजिकल लक्षणों के साथ भी शुरू हो सकता है |

Bihar Corona Sahayata Mobile App Download ₹1000 aapda.bih.nic.inकोरोना की वैक्सीन जुलाई 2021 तक 20 करोड़ से अधिक लोगों को मिल सकेगी-हेल्थ वर्कर्स को पहले दी जाएगी
कोरोना में बढ़ा बच्चों पर परीक्षा का तनाव-अभिभावक मनोबल बढ़ाए|बिना OTP नहीं मिलेगा SBI के ATM से पैसा-18 सितम्बर से नया नियम लागु

इसलिए अगर आपको इनमे से किसी भी प्रकार का कोई लक्षण हो तो, अपने नजदीकी डॉक्टर को जरूर दिखाए | इसके अलावा कोरोना कुछ मरीजों के तंत्रिका तंत्र पर भी हमला कर सकता है | इसलिए यह जरुरी नहीं है कि कोरोना के लक्षण सिर्फ खांसी, बुख़ार और कमज़ोरी होना ही है | आप भी कोरोना से सतर्क रहे और अपने परिचितों को इसके बारे में अवगत करवाए |

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *