Corona की 4th Wave ने भारत में फैलाये पैर-आपको इन लक्षणों पर रखनी होगी खास नजर |

Corona की 4th Wave ने भारत में फैलाये पैर, Omicron का Sub Variant भारत में भी धीरे-धीरे बढ़ने लगा, Omicron के Sub Variant के लक्षणों पर रखना होगा विशेष ध्यान, Coronavirus से बचने के लिए वैक्सीन जरूर लगवाए |

Coronavirus इस पूरी दुनिया पर कहर बनकर टूटा था करोड़ों लोगों की जान लेने के साथ-साथ लाखों लोगों को घर से बेघर भी किया था। साल 2020 में कोरोनावायरस का खतरा इस दुनिया पर इस कदर छाया हुआ था कि हर एक व्यक्ति की जुबान पर केवल Coronavirus का ही नाम था।

Corona 4th Wave News

कोरोनावायरस के कारण जिन लोगों की जान गई है उनकी तो कोई गिनती ही नहीं हैं। साथ ही जिन लोगों ने अपना रोजगार खोया है तो उन्हें तो कोरोनावायरस से बचने के बाद जीवन यापन करने में भी काफी परेशानी हो रही है। वैसे तो अब धीरे-धीरे करके विश्व के सभी देशों ने कोरोनावायरस पर काफी हद तक काबू पा लिया हैं। अब भी सभी को डर तो यही हैं कि कहीं कोरोनावायरस का संक्रमण फिर से ना फैल जाए।

इसी बीच लोगों का डर सच होता हुआ दिखाई दिया है। हाल ही में यह जानकारी मिली है कि कोरोनावायरस की चौथी लहर जल्द ही आने वाली है। जानकारी के अनुसार कोरोनावायरस की चौथी लहर पुरानी लहर से भी काफी ज्यादा खतरनाक होगी। आगे हम आपको Covid 4th Wave से बचने के तरीके वाह कुछ महत्वपूर्ण लक्षण बताएंगे जिन्हें आपको हमेशा ध्यान में रखना हैं।

Govt Job Update & Exam Notes के लिए फॉर्म भरे

Omicron का Sub Variant भारत में भी फैलने की संभावना

• दुनिया में कोरोनावायरस का खतरा फिर से फैलने वाला है और अब की बार Omicron Sub Variant दुनिया के लोगों पर कहर बनकर टूटेगा। यदि लोगों ने पहले ही इस पर काबू करने के लिए सुरक्षा नियमों का पालन नहीं किया, तो वह कोरोनावायरस की चौथी लहर से बिल्कुल भी नहीं बच सकेंगे।

• कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री तथा IIT Kanpur के द्वारा यह बताया गया हैं कि, अगस्त 2022 में Omicron Sub Variants फैलने की पूरी आशंका हैं इसलिए लोगों को पहले ही Alert रहना होगा।

वैक्सीन ना लगने की स्थिति में , बचना है मुश्किल

• एक्सपर्ट्स के मुताबिक Coronavirus 4th Wave पिछली लहर से काफी ज्यादा खतरनाक होगी, क्योंकि पिछली लहर से संक्रमित होने पर मरीज आसानी से बच रहे थे। चौथी लहर से संक्रमित होने पर बचने की कोई भी संभावना नहीं है इसलिए खुद ही अपना बचाव करना होगा।

• IIT Kanpur के द्वारा Mathematical Model को आधार मानकर यह कहा गया है कि लोगों को कोरोनावायरस की चौथी लहर से घबराने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि हम पहले ही काफी बड़े स्तर पर हुए कोरोना टीका करण के माध्यम से अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ( Immunity ) को मजबूत कर चुके हैं। जिन लोगों को वैक्सीन ही नहीं लगी हैं तो उनका बचना बिल्कुल नामुमकिन है।

40 देश आ चुके हैं, कोरोना के Omicron के Sub Variant की चपेट में

• हाल ही में मिली जानकारी के अनुसार यह भी पता चला है कि, पिछले कुछ दिनों में कोरोना के Omicron Sub Variant ने लगभग 40 देशों को अपनी चपेट में ले लिया है जिसमें चीन, अमेरिका सहित विभिन्न देश शामिल हैं। सबसे पहले Omicron Sub Variant का खतरा Philippines में पाया गया था जिसके बाद धीरे-धीरे करके यह 40 देशों में फैल चुका हैं।

• आपको जानकर हैरानी होगी कि South Korea में रोजाना 5 लाख मामले दर्ज हो रहे हैं। इन्हें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि आने वाले दिनों में यह बाकी के बचे हुए देशों के लिए कितना ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता हैं।

• जैसे जैसे दिन बीते जा रहे हैं तो वैसे ही धीरे-धीरे करके एक देश से दूसरे देश में Omicron Sub Variant का खतरा बढ़ता ही जा रहा हैं।

Omicron Sub Variant के मुख्य लक्षण

कोरोना के इस Omicron Sub Variant के बहुत से ऐसे लक्षण हैं जिन्हें देखकर आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि हम इससे संक्रमित हो चुके हैं जैसे –

• कोरोनावायरस की चौथी लहर के आते ही सबसे पहले आपको यह ध्यान में रखना होगा कि, यह New Variant सबसे पहले पेट और आंतों पर ही अपना असर दिखाता है। इसी कारण पेट दर्द, सीने में जलन, पेट दर्द, दस्त लगना, आंतों में सूजन बार-बार उल्टी आना जैसे लक्षण दिखाई देंगे।

• यदि आपकी बार-बार सांस फूल रही है और काफी दिनों से बुखार भी चढ़ और उतर रहा हैं, तो इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें यह भी Omicron Sub Variant का लक्षण हैं।

• Omicron Sub Variant से संक्रमित होने पर आपके गले में खराश से होनी शुरू हो जाएगी। साथ ही आपको किसी भी चीज का स्वाद नहीं आएगा।

• Omicron Sub Variant से संक्रमित होने पर व्यक्ति को काफी ज्यादा बेचैनी सिर दर्द और पूरे शरीर में दर्द रहता है।

• कोरोनावायरस के पिछले वैरीअंट की तरह ही इस Variant में भी आपको संक्रमित होते ही तुरंत ही खांसी लग जाएगी। जो कि किसी सामान्य दवाई से भी सही नहीं होगी।

Leave a Comment