Competition Exams में गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्यवाही के आदेश-सीएम गहलोत ने नया कानून बनाने की सहमति दी |

By | October 22, 2021

Competition Exams में गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्यवाही के आदेश, राजस्थान सरकार अब भर्ती परीक्षाओं को लेकर नया कानून बनाने जा रही है, Bharti परीक्षाओं के अपराधियों को सात साल की सजा का प्रावधान बनाया, निजी शिक्षण संस्थानों की मान्यता रद्द की जाएगी |

राजस्थान राज्य में किसी भी भर्ती परीक्षा का आयोजन होता है, तो उसमें गड़बड़ी के ढेरों मामले सामने आते हैं जिसकी वजह से पढ़ने वाले युवाओं के ऊपर काफी बुरा असर पड़ रहा है | अब से पहले जो कोई भी व्यक्ति गड़बड़ी के मामले में पकड़े जाते थे, तो उनके खिलाफ ज्यादा सख्त कार्यवाही नहीं की जाती थी इसीलिए इस प्रकार के लोगों का मनोबल भी बढ़ता ही जा रहा था।

मगर अब राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने यह फैसला ले लिया है कि परीक्षा के समय Paper Leak, Dummy Candidate एवं नकल कराने जैसे अपराधों में जो कोई भी व्यक्ति ही पकड़ा जाता है तो उसके अपराध को गैर-जमानती अपराध की श्रेणी में शामिल किया जाएगा और इसी के साथ-साथ सजा भी बढ़ाई गई है ताकि कोई भी ऐसा करने की ना सोच सकें।

Competition Exams New Rules

अब भर्ती परीक्षाओं को लेकर पहले से भी ज्यादा व्यवस्थाएं की जाएंगी ताकि परीक्षा को सुरक्षित ढंग से आयोजित किया जा सके। इसके अतिरिक्त अक्टूबर में ही आयोजित होने वाली Patwari Recruitment Exam तथा RAS Preliminary Recruitment Exam में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के लिए बसों में निशुल्क यात्रा को लेकर भी मुख्यमंत्री जी ने फैसला सुनाया है।

भर्ती परीक्षाओं के अपराधियों को दी जाएगी 7 साल तक की सजा

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने भर्ती परीक्षाओं में बढ़ती गड़बड़ी को रोकने के लिए यह फैसला लिया है कि अब जो भी उम्मीदवार परीक्षा में नकल करता पाया जाता है या फिर नकल के मामलों में जो भी आरोपी पकड़े जाते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कानून बनाए जाएंगे। अब से पहले प्रतियोगी परीक्षाओं या फिर भर्ती परीक्षाओं में नकल कराने या Paper Leak कराने सहित अन्य सभी गड़बड़ियों में जो कोई भी आरोपी शामिल होते थे, तो उन्हें ज्यादा से ज्यादा 3 साल तक की सजा दी जाती थी। बहुत से आरोपी तो जमानत पर जेल से छूट जाते थे l मगर अब ऐसा बिल्कुल भी नहीं होगा, क्योंकि अब उम्मीदवार सहित जो भी आरोपी पकड़ा जाता है, तो उसे 7 साल तक की सजा दी जाएगी।
  • परीक्षा के समय बहुत से उम्मीदवार Exam Centers पर Electronic Device लेकर भी पहुंचते हैं या फिर किसी भी तरह नकल करने की कोशिश करते हैं। इस प्रकार के सभी आरोपियों को अब 7 साल तक की सजा दी जाएगी। मुख्यमंत्री जी ने यह भी कहा कि कई बार Government Officer भी भर्ती परीक्षाओं की गड़बड़ी में शामिल होते हैं। इस प्रकार के सरकारी अधिकारियों को भी तुरंत ही Suspend करके उन्हें 7 साल तक की सजा दी जाएगी।

  गड़बड़ी होने पर निजी शिक्षण संस्थान की मान्यता की जा सकती है रद्द

कई बार ऐसा भी होता है कि जब किसी निजी शिक्षण संस्थान को परीक्षा का केंद्र बनाया जाता हैं, तो उस समय Private Educational Institutions से जुड़े व्यक्ति या फिर उनमें मौजूद उच्च अधिकारी परीक्षा में गड़बड़ी करने या गड़बड़ी करवाने में शामिल हो जाते हैं। इस प्रकार के संस्थानों के लिए मुख्यमंत्री जी ने यह फैसला लिया है कि आरोपी पाए जाने पर इन संस्थानों की मान्यता हमेशा के लिए समाप्त कर दी जाएगी।

पटवारी भर्ती परीक्षा और आरएएस भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवार कर सकेंगे नि:शुल्क यात्रा

राजस्थान राज्य में किसी भी भर्ती परीक्षा का आयोजन होता है ,तो उन में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को Rajasthan Roadways की बसों में नि:शुल्क यात्रा करने की सुविधा दी जाती हैं, ताकि राजस्थान के कोने-कोने में से आने वाले उम्मीदवार अपने परीक्षा केंद्रों पर समय पर परीक्षा में शामिल होने के लिए पहुंच सकें।

ठीक इसी प्रकार Patwari Recruitment Exam तथा RAS Preliminary Exam के उम्मीदवारों को भी परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने तथा परीक्षा केंद्रों से अपने घर तक पहुंचने के लिए निशुल्क यात्रा की सुविधा दी गई है। नि:शुल्क यात्रा की सुविधा परीक्षा के 1 दिन पहले से शुरू होकर परीक्षा के 1 दिन बाद तक दी जाएगी ताकि उम्मीदवार परीक्षा में शामिल होकर अपने घर पर पहुंच सकें। परीक्षा वाले दिन Rajasthan Roadways की बसों के साथ-साथ Private Buses की व्यवस्था भी की जाएगी ताकि उम्मीदवारों को किसी भी तरह की कोई दिक्कत ना हो।

follow us for social updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *