(धरना 08 वे दिन भी जारी ) BSTC के अभ्यर्थियों के द्वारा B.Ed अभ्यर्थियों को REET Level-1 से बाहर करने की मांग, 26 October को सुनवाई होगी

By | October 19, 2021

जयपुर में BSTC संघर्ष समिति राजस्थान के द्वारा BSTC Level 1 से B.Ed अभ्यर्थियों को बाहर करने की मांग को लेकर धरना 8 वे दिन भी जारी रहा | इस मामले में कोर्ट में 26 अक्टूबर 2021 को सुनवाई होगी |

जब से कोर्ट के द्वारा B.Ed किए हुए अभ्यर्थियों को रीट की परीक्षा में बैठने की अनुमति दी गई है ,तो तभी से ही रीट की परीक्षा चर्चा में हैं। BSTC के अभ्यार्थी नहीं चाहते थे कि B.Ed  अभ्यार्थी REET Level 1 की परीक्षा में शामिल हो l
#REET_लेवल_1ST_BSTC_का_हक Number 1 पर Twitter Trend किया था |

Latest News Update (19th October 2021)

मगर फिर भी High Court के द्वारा B.Ed किए हुए अभ्यर्थियों को रीट लेवल वन की परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी थी l जिसके बाद 26 सितंबर 2021 को आयोजित हुई रीट की परीक्षा में B.Ed Holder’s भी REET Level 1 की परीक्षा में शामिल हुए। मगर अब भी BSTC Candidates लगातार B.Ed धारकों को REET Level 1 की परीक्षा से बाहर करने की मांग कर रहे हैं।

B.ed धारकों को level-1 से बाहर निकालने की मांग को लेकर रीट के परीक्षार्थियों ने जयपुर में धरना भी किया। अगर REET Level 1 की परीक्षा में सफल होने के पश्चात B.Ed धारकों को नौकरियां दी जाती हैं , तो इसकी वजह से BSTC के बहुत से उम्मीदवार सिलेक्शन से वंचित हो जाएंगे l

B.Ed धारको को REET Level 1 की परीक्षा में शामिल करने की वजह से कंपटीशन भी काफी ज्यादा बढ़ चुका है और इसका सीधा असर BSTC के योग्य उम्मीदवारों पर पड़ने वाला है l इसीलिए Bstc के परीक्षार्थियों के द्वारा B.Ed धारकों का विरोध किया जा रहा हैं।

पहले केवल BSTC Candidate ही दे सकते थे REET Level 1 की परीक्षा

अब से पहले REET Level 1 की परीक्षा में केवल BSTC Candidates ही शामिल हो सकते थे, केवल उन्हें ही योग्य माना जाता था। मगर बीएड धारकों के द्वारा जब राजस्थान हाई कोर्ट में अपील की गई और केस दर्ज कराया गया l उसके पश्चात हाईकोर्ट ने बीएड धारकों को रीट लेवल वन की परीक्षा में शामिल होने के आदेश भी दे दिए। अब धरना प्रदर्शन के माध्यम से बीएसटीसी कैंडीडेट्स B.ed को अंतिम रूप से शामिल ना करने के लिए प्रयास कर रहे हैं l

REET Level 1 BSTC ka hak hai
REET Level 1 BSTC ka hak hai

इसी के चलते शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने भी BSTC Candidates की पीड़ा पर अपनी चिंता जताई और यह भी कहा की अगर REET Level 1 और Level 2 की परीक्षाओं में B.Ed Holder आ जाएंगे , तो उसकी वजह से BSTC के अभ्यर्थियों का भविष्य पूरी तरह से खत्म हो जाएगा और आने वाले समय में BSTC Candidates को नौकरी मिलने में भी मुश्किल हो जाएंगी l इसीलिए परीक्षा में B.Ed Holder शामिल नहीं होने चाहिए।

इसके अतिरिक्त शिक्षा मंत्री के द्वारा यह भी कहा गया की 12वीं पास और ग्रेजुएशन किए हुए छात्रों में फर्क होता है, उन दोनों के नजरिए में भी फर्क होता है। अगर कोर्ट के द्वारा कोई फैसला किया जाएगा तो वह सोच समझकर ही किया जाएगा l इसीलिए अगली सुनवाई में कोर्ट जो भी फैसला सुनाएगा वही आखरी फैसला होगा।

26 अक्टूबर को होगी हाई कोर्ट की अगली सुनवाई

26 अक्टूबर को इस फैसले के ऊपर हाईकोर्ट की सुनवाई है l देखना यह है कि हाई कोर्ट के द्वारा किसके हक में फैसला लिया जाता है। अभी इस विषय में कुछ नहीं कहा जा सकता कि रीट लेवल वन से बीएड धारकों को बाहर किया जाएगा या नहीं। ऐसा बताया जा रहा है कि 26 अक्टूबर को इस मामले में कोर्ट के द्वारा जो भी फैसला लिया जाएगा , वह सभी के लिए मान्य होगा।

follow us for social updates

2 thoughts on “(धरना 08 वे दिन भी जारी ) BSTC के अभ्यर्थियों के द्वारा B.Ed अभ्यर्थियों को REET Level-1 से बाहर करने की मांग, 26 October को सुनवाई होगी

  1. Any

    Reet level 1 m bed Ko nahi bethaya jaye isse bstc k kai students ka future dream adhure rhnge

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *