BPSC Topper Monika Srivastava को 8 घंटे जॉब और 8 घंटे की Self Study के बाद सफलता मिली |

BPSC Topper Monika Srivastava को 8 घंटे जॉब और 8 घंटे की Self Study के बाद सफलता मिली, BPSC Exam Topper Monika Srivastava, Monika Srivastava ने किया बीपीएससी में किया 6वां अंक हासिल, Info About BPSC Exam Topper Monika Srivastava

आपने आज तक बहुत से लोगों की कामयाबी की कहानियां सुनी होंगी लेकिन जिस कामयाबी की कहानी के बारे में हम आपको आज बताने वाले हैं वह बिल्कुल अलग हैं। इस बात को हम सभी जानते हैं कि यदि हम किसी भी प्रतियोगी परीक्षा या बडी से बडी IAS जैसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और हमने ठान लिया है कि हमें यह पास करनी हैं, तो हमें सफल होने से कोई भी नहीं रोक सकता हैं।

ऐसी ही कहानी Monika Srivastava की भी है इनके घर के हालात बहुत ही ज्यादा खराब थे जिस वजह से यह नौकरी करने के साथ-साथ अपने घर का भी पूरा कामकाज करती थी। इसी के साथ में इन्होंने बिना किसी की सहायता के Self-study भी की और आज इसी की बदौलत इन्होंने BPSC Exam में टॉप किया हैं। इसी वजह से चारों तरफ से इन्हें शाबाशी भी मिल रही हैं। आगे हम आपको Monika Srivastava की पूरी कहानी बताते हैं कि इन्होंने कैसे Time Manage करके BPSC Exam पास किया है।

पहले ही प्रयास में हासिल किया, 6वां रैंक

• जिस Monika Srivastava की हम बात कर रहे हैं वह पेशे से एक Software Engineer है जोकि औरंगाबाद की रहने वाली हैं। इन्होंने IIT Guwahati से Graduation Degree प्राप्त की है इसके बाद यह चेन्नई में ही नौकरी करती हैं। Monika Srivastava पिछले काफी समय से यहीं पर रोजाना 8 घंटे की नौकरी करती हैं। इस नौकरी के साथ-साथ यह रोजाना 7 से 8 घंटे की Self Study भी कर रही थी।

Notes & Job Update के लिए फॉर्म भरे

    BPSC Topper Monika Srivastava

    • Monika Srivastava ने नौकरी के साथ-साथ बिहार लोक सेवा आयोग संयुक्त परीक्षा की ऐसी तैयारी करी थी कि, इन्होंने पहले ही प्रयास में महिलाओं की श्रेणी में ओवरऑल 6वीं रैंक हासिल की है। यह सुनने में बड़ा अजीब लग रहा है परंतु जो व्यक्ति बहुत ही ज्यादा मेहनत करता है, तो वह इस प्रकार के मुकाम को आसानी से हासिल कर सकता है। परीक्षा की तैयारी करते समय सब कुछ टाइम मैनेजमेंट के ऊपर ही निर्भर करता है। मोनिका श्रीवास्तव ने भी Time Management को ध्यान में रखते हुए ही BPSC Exam में सफल हो पाई है ।

    अपनी माता को देखकर मिली, जीवन में आगे बढ़ने की सीख

    • Monika Srivastava ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया है कि उनकी सफलता के पीछे पूरा श्रेय उनकी माता को ही जाता हैं, क्योंकि उन्हें अपनी माता को देखकर ही जिंदगी में सफल होने की सीख मिली हैं। Monika Srivastava के अनुसार उनकी माता प्राइमरी स्कूल में प्रधानाध्यापिका है। वह सुबह घर का काम भी करती हैं और फिर स्कूल में जाकर नौकरी करती हैं उसके बाद घर पर आकर भी सारा काम करती हैं।

    • Monika Srivastava को अपनी माता की इसी बात से सब कुछ सीखने को मिला कि वह किस प्रकार Time Utilization करके हर एक काम को करती हैं। उन्हीं को देखते हुए मोनिका श्रीवास्तव ने भी अपनी नौकरी के साथ-साथ एक ऐसा Time Table बनाया कि, वह आसानी से पढ़ाई करके BPSC Exam को पास कर सकें।

    मोनिका श्रीवास्तव के परिवार के बारे में जानकारी

    • Monika Srivastava के पिता का नाम G.B.K Srivastava है जो कि ग्रामीण कार्य विभाग में सहायक अभियंता के रूप में कार्य करते हैं। इनकी माता का नाम Bharti Kumari है जो कि औरंगाबाद के प्राइमरी स्कूल में प्रधानाध्यापिका हैं।

    • माता-पिता के अतिरिक्त यह पांच भाई-बहन हैं। दो बहने और एक भाई इनसे बड़ा है जबकि एक भाई इनसे छोटा है।

    रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ती थी, Monika Srivastava

    • मोनिका श्रीवास्तव ने बताया कि BPSC Exam को पास करने के लिए बहुत ही ज्यादा कठिन परिश्रम करना पड़ता है। जब वह रोजाना 8 घंटे की नौकरी करने के बाद अपने घर पर आती थी, तो वह उसके बाद खाने-पीने की परवाह किए बिना ही तुरंत पढ़ाई करने बैठ जाती थी।

    • मोनिका बताती है कि वह रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ती थी उन्होंने अपना टाइम टेबल कुछ इस प्रकार बनाया था कि जिससे विषय में वह थोड़ी कमजोर थी तो उस पर अधिक समय देती थी। मोनिका के अनुसार उन्हें बिहार के करंट अफेयर के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी परंतु कठिन परिश्रम करके उन्होंने बिहार करंट अफेयर्स की अच्छे से तैयारी की और फिर वह आसानी से बीपीएससी एग्जाम को पास कर सकी।

    Assistant Tax Commissioner के पद पर कार्य करेंगी, Monika Srivastava

    Monika Srivastava ने बताया कि अब BPSC Exam में सफल होने के बाद उन्होंने Assistant Tex Commissioner का पद चुना है जो कि बिहार वित्त सेवा का पद हैं। इन्होंने सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में 6 साल काम किया है और अब मोनिका असिस्टेंट टैक्स कमिश्नर के रूप में कार्य करेंगी।

    IAS Saumya Sharma Success Story

    IAS Awanish Sharan ने यूपीएससी कैंडीडेट्स के लिए दिए 5 Trick

    IAS Awanish Sharan ने 13 बार Fail होने के बाद भी नहीं हारी हिम्मत

    IAS Officer बनने के लिए छोड़ दी 9 सरकारी नौकरियां

    प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले, युवाओं के लिए सीख

    • Monika Srivastava बीपीएससी एग्जाम में महिलाओं की श्रेणी में 6वां रैंक हासिल करके दूसरी महिलाओं के लिए भी एक सीख बन चुकी हैं। मोनिका श्रीवास्तव बताती है कि जो भी महिलाएं बड़ी से बड़ी परीक्षा की तैयारियां कर रही हैं, तो उन्हें परीक्षा में सफल होने के लिए केवल Time Management पर ही ध्यान देना है। यदि वह एक अच्छा Time Table बना लेती हैं तो फिर उन्हें परीक्षाओं में सफल होने से कोई भी नहीं रोक सकता है।

    • Monika Srivastava बताती है कि हमें बाहर के लोगों से सीख लेने की जगह पर अपने घर के लोगों से ही सीख लेनी चाहिए, क्योंकि अपने घर के लोगों को देखकर हम अपने जीवन में काफी जल्दी ही आगे बढ़ सकते हैं।

    Leave a Comment

    ×