सरकारी नौकरी हुई दूर :- बिजली विभाग में टेक्निकल हेल्पर की भर्ती की बजाय ठेके से काम|

By | March 4, 2021

राजस्थान बिजली विभाग में आईटीआई होल्डरों को लगा झटका, ऊर्जा विभाग में टेक्निकल हेल्परों की भर्ती की बजाय ठेकेदारों को दिया जा रहा है कार्यभार,राजस्थान में जीएसएस का संचालन प्राइवेट कंपनियां करेंगी|

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में राजस्थान बिजली द्वारा जीएसएस को निजी कंपनियों को ठेके पर दिए गए निर्णय के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | राजस्थान प्रदेश के 2 लाख से अधिक आईटीआई होल्डरों को लगेगा बड़ा झटका, क्योंकि सरकारी बिजली कंपनियों ने ग्रिड-सब स्टेशन (जीएसएस) का संचालन ही प्राइवेट कंपनियों को ठेके पर देना शुरू कर दिया है |

इसके लिए राजस्थान विधुत प्रसारण निगम ने इसकी शुरुआत भी कर दी है | फरवरी माह में बिजली विभाग ने लगभग A.En., J.En., IA, AO, PO & Junior Chemist सहित 2370 पदों के लिए भर्ती निकाली है | लेकिन इनमे टेक्निकल हैल्परों के लिए एक भी पद भी नहीं है | इसी बीच ऊर्जा मंत्री ने कहा कि मेरे पास अभी तक कोई फाइल नहीं आई है | अधिक जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

बेरोजगारों से सरकारी नौकरी हुई दूर-

बिजली विभाग में Technical Helper की तैयारी कर रहे बेरोजगारों का सरकारी नौकरी का सपना टूटता हुआ नजर आ रहा है | राजस्थान प्रदेश में आईटीआई होल्डरों की संख्या करीब दो लाख से अधिक है | सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राजस्थान प्रदेश की सभी सरकारी बिजली कंपनियों ने ग्रिड-सब स्टेशन (जीएसएस) का संचालन ही प्राइवेट कंपनियों को ठेके पर देना शुरू कर दिया है |

सरकारी नौकरी हुई दूर बिजली विभाग में टेक्निकल हेल्पर की भर्ती की बजाय ठेके से काम

इसके लिए राजस्थान विधुत प्रसारण निगम ने इसकी शुरुआत भी कर दी है | राजस्थान प्रदेश के 132 केवी के 30 जीएसएस को मेंटेनेंस व ऑपरेशन के लिए सनसिटी एंटरप्राइजेज को तीन साल के लिए 20 करोड़ रूपये में ठेके पर दे दिया है | इसी स्थिति में बिजली कंपनियों में टेक्निकल हेल्पर पद की भर्ती का रास्ता बंद हो चूका है |

ऊर्जा मंत्री ने बीडी कल्ला ने कहा अधिकारियों से बात करेंगे-

सरकारी बिजली कंपनियों द्वारा ग्रिड-सब स्टेशन (जीएसएस) का संचालन प्राइवेट कंपनियों को दिए जाने के मामले पर ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि मेरे पास अभी तक फाइल नहीं आई है | उन्होंने कहा कि इस मामले के बारे में अधिकारियों से पूछा जायेगा | इसके अलावा टेक्निकल हेल्परों की भर्ती के मामले में भी अफसरों से बात की जा रही है |

नोट-दोस्तों अगर आपको हमारी टीम द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो, आप इस सूचना को सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे-धन्यवाद

follow us for social updates

One thought on “सरकारी नौकरी हुई दूर :- बिजली विभाग में टेक्निकल हेल्पर की भर्ती की बजाय ठेके से काम|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *