राजस्थान वनपाल एवं वनरक्षक परीक्षा के 20 लाख परीक्षार्थियों के लिए आई बड़ी खबर |

राजस्थान वनपाल एवं वनरक्षक परीक्षा के 20 लाख परीक्षार्थियों के लिए आई बड़ी खबर, RSMSSB द्वारा forester and forest guard लिखित परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र जारी किये गए, राजस्थान में होने वाली forester and forest guard परीक्षा के परीक्षार्थियों को निःशुल्क यात्रा का लाभ मिलेगा, वनपाल एवं वनरक्षक परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर जाने से पूर्व निम्न बातों का ध्यान रखे |

RSMSSB Forest Guard Admit Card Release Soon- राजस्थान वनपाल भर्ती परीक्षा 6 नवंबर को आयोजित की जाएगी, परीक्षा में नकल ना हो इसके लिए विभाग के द्वारा पूरी तैयारी कर ली गई है, वनपाल भर्ती परीक्षा के प्रवेश पत्र 31 अक्टूबर को और वनरक्षक भर्ती परीक्षा के प्रवेश पत्र 8 नवंबर तक जारी कर दिए जाएंगे ।

राजस्थान सरकार द्वारा 20 लाख उम्मीदवारों के लिए बड़ा फैसला लिया गया है। यह फैसला राज्य में होने वाली वनपाल एवं वनरक्षक भर्ती परीक्षा के लिए परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों के हित को ध्यान में रखते हुए लिया गया। जिसमें राजस्थान रोडवेज द्वारा वनपाल एवं वनरक्षक भर्ती परीक्षा मे शामिल उम्मीदवारों को फ्री बस सुविधा दी जाएगी ताकि इस भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार बिना किसी दिक्कत के आराम से अपनी परीक्षा दे सके।

बता दे कि राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग द्वारा वनपाल की भर्ती परीक्षा 6 नवंबर को तथा वनरक्षक की भर्ती परीक्षा 12 तथा 13 नवंबर को राजस्थान के विभिन्न परीक्षा केंद्रों मे निर्धारित की गई है। जिसमें वनपाल के लिए एडमिट कार्ड 31 अक्टूबर तथा वनरक्षक के लिए एडमिट कार्ड 8 नवंबर तक जारी किए जाएंगे।

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

Rajasthan Vanpal Bharti Exam 6 नवंबर 2022 को होगा ।

उम्मीदवारों की जानकारी के लिए बता दें कि वनपाल के पदों हेतु भर्ती परीक्षा 6 नवंबर 2022 को राजस्थान के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा पूरी तैयारियां कर ली गई है। बता दें कि इस बार वनपाल के लिए 99 पदों पर भर्ती प्रक्रिया आयोजित की जा रही है, जिसमें category wise पदों की संख्या अलग-अलग है। राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग द्वारा Rajasthan Vanpal Bharti Exam Admit Card 31 अक्टूबर 2022 तक जारी कर दिए जाएंगे।

RSMSSB Forester Admit Card 2022

Rajasthan Forest Guard & Forester Handwritten Notes 

जिसके लिए आयोग द्वारा पूरी तैयारी कर ली गई है। वनपाल भर्ती परीक्षा 6 नवंबर को पूरी हो जाएगी। जिसमें दो shift मे उम्मीदवारों की परीक्षा ली जाएगी। सबसे पहले 6 नवंबर को सुबह 10:00 बजे से दोपहर के 12:00 बजे तक पहली पाली की परीक्षा होगी। जबकि दूसरी Shift की परीक्षा उसी दिन दोपहर के 2:30 बजे से शाम के 4:30 बजे तक होगी। इस प्रकार एक दिन में ही Vanpal की भर्ती परीक्षा पूरी कर ली जाएगी।

Big news for 20 lakh candidates of Rajasthan Forester and Forest Guard Exam.

2300 पदों पर होगी वनरक्षक भर्ती परीक्षा।

राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा वनरक्षक पदों के लिए भर्ती परीक्षा 12 तथा 13 नवंबर 2022 को निर्धारित की गई है। जिसके लिए admit card बताया जा रहा है कि 8 नवंबर तक आ जाएंगे। हालांकि वनरक्षक तथा वनपाल के लिए परीक्षा तिथि आयोग द्वारा कुछ समय पहले ही जारी कर दी गई थी। जिस में विस्तार से इनकी परीक्षा तिथि के बारे में बताया गया था।

उम्मीदवारों की जानकारी के लिए बता दें कि आयोग द्वारा परीक्षा तिथि के नोटिस में Rajasthan Vanrakshak के पदों के लिए भर्ती परीक्षा 4 शिफ्ट मे आयोजित की जाएगी। जिसमें सुबह और शाम की shift शामिल है। यानी 12 नवंबर तथा 13 नवंबर को वनरक्षक पदों के लिए भर्ती परीक्षा सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक तथा दोपहर 2:30 बजे से शाम के 4:30 बजे तक ली जाएगी।

राजस्थान के 10 जिलों में वनपाल तथा 30 जिलों में वनरक्षक के लिए भर्ती परीक्षा होगी।

आयोग द्वारा यह बताया गया है, कि राज्य के 10 जिलों में वनपाल तथा 30 जिलों में वनरक्षक भर्ती हेतु परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जहां पर लगभग 20 लाख candidates की लिखित परीक्षा आयोजित होगी। Rajasthan Vanpal Bharti Exam के लिए जयपुर, अजमेर, अलवर,बीकानेर, भरतपुर, गंगानगर, भीलवाड़ा, कोटा, जोधपुर मे परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

जबकि वनरक्षक के लिए अजमेर, जयपुर, भरतपुर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, श्रीगंगानगर, कोटा, जोधपुर, बूंदी, उदयपुर, झालावाड़,बारा, धौलपुर, पाली, झुंझुनू, सीकर, दोसा, नागौर,चूरू, राजसमंद, सवाई माधोपुर, प्रतापगढ़ तथा हनुमानगढ़ जिला में परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

उम्मीदवारों को रखना होगा इन बातों का ध्यान

परीक्षा केंद्र में जाने से पहले उम्मीदवारों को Admit Card में दिए गए दिशा निर्देशों को जरूर पढ़ना चाहिए। क्योंकि कई बार एडमिट कार्ड में कुछ अनिवार्य डाक्यूमेंट्स तथा अन्य चीजों की परीक्षा केंद्र पर मांग की जा सकती है। जिसके बिना आपको exam centre में जाने नहीं दिया जाएगा।

इसके साथ ही उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्र में किसी भी तरह का आभूषण पहनकर नहीं जाना है। क्योंकि विगत में यह कई बार देखा गया है, कि आभूषण के आड़ में उम्मीदवारों के द्वारा Cheating की गई है।

जिसकी वजह से आयोग द्वारा ऐसी चीटिंग को पकड़ने के लिए, मेटल डिटेक्टर जैसे अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल भी परीक्षा केंद्रों पर किया जाता है। इसके अलावा उम्मीदवारों को बहुत ही simple कपड़ों में परीक्षा देनी होगी।

परीक्षा केंद्र पर किसी भी प्रकार के Mobile Phone, Bluetooth Device ,Calculator इत्यादि को उम्मीदवार द्वारा नहीं ले जाना है। क्योंकि अगर ऐसा उपकरण किसी उम्मीदवार के पास पाया जाता है, तो उसे आने वाली सभी भर्ती परीक्षाओं से बाहर कर दिया जाएगा।

नकल माफियाओं पर रहेगी पुलिस की नजर।

अक्सर यह देखा जाता है,कि जब भी किसी भर्ती की परीक्षा आयोजित होने वाली होती है, तो नकल माफिया सक्रिय हो जाते हैं। वे भोले-भाले बेरोजगार युवकों को अपने चंगुल में फंसाने की कोशिश करते हैं। कई बार तो यह नकल माफिया परीक्षा केंद्रों के manager के साथ सांठगांठ भी कर लेते हैं। जिससे अच्छे प्रतिभावान युवाओं के साथ परीक्षा के नाम पर मजाक हो जाता है। जैसा कि आपने कई परीक्षाओं में देखा होगा, जब भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो जाता है।

Indian General Knowledge Notes

Indian Economy Notes 

इस संबंध में पिछले कुछ महीनों में ही reet exam के उम्मीदवारों द्वारा सरकारों के सामने भर्ती परीक्षा मे होने वाली धांधली पर सवाल उठाए गए थे। जिस पर छात्रों द्वारा बड़ा विरोध प्रदर्शन हुआ था। तब जाकर सरकार द्वारा मामले की जांच की गई। जिसमें पाया गया, कि reet की परीक्षा में धांधली हुई थी। जिसके बाद रीट की परीक्षा रद्द कर दी गई थी। इसी वजह से सरकार पुरानी गलतियों को दोबारा नहीं दोहराना चाहती है।

इसलिए सरकार द्वारा प्रशासन को कड़ी चेतावनी दी गई है, कि वनरक्षक एवं वनपाल भर्ती परीक्षा पारदर्शी तरीके से होनी चाहिए। इसी वजह से जिले के collector को भर्ती परीक्षा का प्राधिकारी बनाया गया है। यानी पूरी परीक्षा को अच्छी तरह संपन्न कराने की जिम्मेवारी उनकी होगी। बताया जा रहा है कि परीक्षा केंद्रों पर धारा 144 लागू रहेगी। वहां पर इंटरनेट का प्रयोग भी नहीं हो सकेगा। ऐसा कदम प्रशासन द्वारा नकल माफियाओं को पेपर लीक करने से रोकने के लिए उठाया गया है।

Leave a Comment