विकास दिव्यकीर्ति का वीडियो वायरल होने के बाद लोगों ने कहा दृष्टि आईएएस बंद हो-यहाँ से जानिए पूरा मामला क्या है |

विकास दिव्यकीर्ति का वीडियो वायरल होने के बाद लोगों ने कहा दृष्टि आईएएस बंद हो, vikas divyakirti Viral Video, विकास दिव्यकीर्ति की वीडियो वायरल हो रही है, जिस कारण सोशल मीडिया बार काफी बवाल हो रहा है, इस पोस्ट के जरिए जानते है की पूरा मामला क्या हैं l

डॉ विकास दिव्यकीर्ति को तो आप जानते ही होंगे जोकि फेमस दृष्टि आईएएस के संस्थापक हैं। इन दिनों vikas divyakirti सोशल मीडिया पर ट्रेंडिंग में चल रहे हैं। हालांकि उनका trending में होना कोई स्पेशल बात नहीं है। उनका दिया गया मोटिवेशन हमेशा ट्रेंडिंग में ही रहता है, जो विद्यार्थियों के साथ-साथ आम लोगों को भी प्रेरणा देता है।

लेकिन इन दिनों उनका एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है, जिसमें उनके द्वारा एक किताब का हवाला देकर सीता मैया पर बात कही गई थी। जिसने भी यह video देखी वह काफी हैरान हो गया। कैसे विकास दिव्यकीर्ति सर इतनी बड़ी बात कह सकते हैं?

जिसने भी यह वीडियो देखी वह दंग रह गया। लेकिन विकास दिव्यकीर्ति के fan ने जब इस वीडियो की सच्चाई बताई तब जाकर पता चला कि यह वीडियो तो बदनाम करने की वजह से जारी की गई है। आइए जानते हैं उस वीडियो में था क्या।

Handwritten Notes के लिए फॉर्म भरे

विकास दिव्यकीर्ति की वायरल वीडियो में क्या था?

विकास दिव्यकीर्ति की वायरल वीडियो में विकास दिव्यकीर्ति सर अपनी class room में बच्चों को बता रहे थे, कि जब राम ने रावण को मारा तो सीता और राम का मिलन हुआ। जब सीता जी राम के पास आ रही थी। बिल्कुल फिल्मी सीन जैसा था। जब हीरो हीरोइन से मिलने भागकर आता है।

After Vikas Divyakirti's video went viral, people said that Drishti IAS should be closed.

जब सीता जी राम से मिलने आ रही थी, तो राम ने उनको बीच में रोका, ठहरो सीता क्या तुम सोच रही हो कि यह युद्ध मैंने तुम्हारे लिए लड़ा है। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, मैंने यह युद्ध समाज की भलाई के लिए लड़ा है। रावण को मारना समाज में बुराइयों का अंत करना था, लेकिन तुम अब अपवित्र हो गई हो।

World Diabetes Day

Data Science Course

जिस प्रकार कुत्ता अगर घी को चाटता है, तो उसका कोई महत्व नहीं रहता है। वह घी खाने लायक नहीं रहता है। इसी प्रकार तुम भी उस घी की भांति हो गई हो। अब तुम भी अपवित्र हो गई हो।

वीडियो क्लिप के साथ की गई थी छेड़छाड़।

विकास दिव्यकीर्ति कि यह वीडियो क्लिप जो इन दिनों Social Media पर बहुत छाई हुई है, उसको तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। ऐसा विकास दिव्यकीर्ति सर के फैन द्वारा कहा गया है। उन्होंने बताया कि विकास दिव्यकीर्ति सर ने जो कुछ बोला है, उसके लिए आपको पूरी वीडियो देखनी चाहिए।

जिसमें विकास दिव्यकीर्ति सर द्वारा बताया गया है, कि वीडियो क्लिप में जो कही गई बात है, वह पुरुषोत्तम अग्रवाल जी के लेख के बारे में उन्होंने कहा था। उस का हवाला देकर ही उन्होंने यह बात बच्चों के साथ share की थी। यह उनके निजी विचार नहीं थे।

विकास दिव्यकीर्ति सर के फैन समर्थन में उतरे।

जब विकास दिव्यकीर्ति सर की एक वीडियो को वायरल किया गया जिसमें वे सीता मैया पर कुछ टिप्पणी करते दिखाई दे रहे हैं, तो Twitter पर उनके खिलाफ एक #वायरल होने लगा। जिसमें # band Drishti IAS नाम से वायरल होने लगा। जिसमें लोग उनके उसी वीडियो को Tag करते हुए उन पर तरह-तरह के कमेंट करने लगे।

लेकिन जैसे ही इस सोशल मीडिया के मामले ने तूल पकड़ा, तो विकास दिव्यकीर्ति सर के फैन ने social media पर सफाई देनी शुरू की। जिसमें उनके द्वारा बताया गया,  कि उनका यह विचार नहीं था। जबकि यह बात तो पुरुषोत्तम अग्रवाल की किताब से लेकर उन्होंने छात्रों को बताया था।

जिसके बाद विकास दिव्यकीर्ति सर के फैन उत्तम अग्रवाल की किताब के उस पेज को दिखाने लगे, जहां पर ऐसी बात लिखी हुई थी। जिसके बाद पूरी viral video भी सामने आई। जिसमें विकास दिव्यकीर्ति सर पूरी कहानी बता रहे हैं कि ऐसा पुरुषोत्तम अग्रवाल की पुस्तक में लिखा है।

किसी ने जानबूझकर की शरारत।

जब यह बात विकास दिव्यकीर्ति सर को पता चली, तो उन्होंने बताया कि किसी ने मेरी बात को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है। आपको पूरी बात को जानने के लिए पूरी video देखनी चाहिए। किसी ने उस बड़ी वीडियो का एक छोटा सा क्लिप लेकर  सोशल मीडिया पर वायरल करने की कोशिश की है ताकि मुझे और मेरी एकेडमी को बदनाम किया जा सके।

यह बात मेरे द्वारा कही गई नहीं थी, यह पुरुषोत्तम अग्रवाल जी की पुस्तक में साफ-साफ लिखा हुआ है। जिसमें वे सीता जी की तुलना कुत्ते के काटने वाले घी से कर रहे हैं। हालांकि ऐसी विचारधारा वाले लेखक की पुस्तके आज भी market में मौजूद है। उन्होंने ऐसा क्यों लिखा यह तो नहीं पता है। शायद अपनी किताब को फेमस करने के लिए उनके द्वारा ऐसा कहा गया होगा।

लोगों को यह बात बहुत बुरी लगी, तभी जाकर दे विकास दिव्यकीर्ति सर को ट्रोल किया गया।

लोगों को सबसे बुरी बात यही लगी, कि उन्होंने यह कहा था, जिस प्रकार कुत्ता घी को चाटता है। फिर वह कि किसी भी काम के लायक नहीं रहता है। लोग उसे फेंक देते हैं। उसी तरह सीता जी भी अब अपवित्र हो गई हैं। इसलिए अब मुझे सीता जी की कोई जरूरत नहीं है।

How to Fix the if its not working or any Problem

How to Get Jio Call History Details in 2022

ऐसा राम ने कहा था। यह वाले शब्द लोगों को बहुत चुभे है। जिसकी वजह से  social media से लेकर हर जगह इस वीडियो पर बवाल हुआ है। ज्यादातर लोग यही कह रहे थे, कि एक शिक्षक ऐसी अमर्यादित बातें अपने छात्रों को कैसे कह सकता है, लेकिन सच्चाई कुछ और ही थी।

सच्चाई जानकर लोगों को पता चला, कि इसमें vikas divyakirti  सर की कोई गलती नहीं है। वह तो एक पुस्तक का जिक्र कर रहे थे, जिसमें यह बात कही गई थी। क्योंकि यह बात हिंदू धार्मिक आस्था से जुड़ी हुई है। इसलिए ज्यादा लोगों को इस बात ने दुख पहुंचाया था।

Leave a Comment