राजस्थान Medical Officer के 1765 पदों के लिए 9400 आवेदन भरे गए-प्रदेश में डॉक्टर सरकारी नौकरी की तलाश में |

राजस्थान Medical Officer के 1765 पदों के लिए 9400 आवेदन भरे गए,Rajasthan MO Bharti 2022 में डॉक्टरों को सरकारी नौकरी की तलाश, राजस्थान चिकित्सा अधिकारी भर्ती में नौ हजार से अधिक आवेदन प्राप्त हुए, डॉक्टरों ने कहा सरकारी नौकरी नहीं मिली तो प्राइवेट हॉस्पिटल में जाएंगे |

राजस्थान के Government Hospital में डॉक्टर की कमी का मुद्दा छाया हुआ है। इसी कमी को दूर करने के लिए पहली बार राजस्थान सरकार के हाथ एक बड़ा मौका लगा है। इस मौके का सही इस्तेमाल कर राजस्थान सरकार प्रदेश में सरकारी अस्पतालों में जो Doctors की कमी है उसे दूर करने में सक्षम हो जाएगी। इसके साथ ही बढ़ते मरीजों को भी वक्त पर Treatment मिल सकेगा, जिसमे सरकारी हॉस्पिटल में डॉक्टर की कमी पूरी करना तथा Patients को राहत देना इत्यादि शामिल होगा।

प्रदेश में डाक्टर ढूंड रहे सरकारी नौकरी के अवसर

दरअसल राजस्थान राज्य सरकार द्वारा 1,765 पदों पर Chief Medical Officer (CMO) के लिए भर्ती निकाली गई। यह भर्ती राज्य के चिकित्सा एवं Health Department द्वारा निकाली गई । गौरतलब है कि इन 1765 चिकित्सा अधिकारी (CMO) की भर्ती के लिए लगभग 9,400 आवेदन आ चुके हैं।

Rajasthan Nursing Officer & Pharmacist 3309 Recruitment 2022

Govt Job Update & Exam Notes के लिए फॉर्म भरे

JIPMER Nursing Officer Recruitment 2022

CSBC Bihar Police Constables Prohibition Recruitment 2022

CISF Constable Tradesman 787 Recruitment 2022

इन आवेदनों में MBBS Holder के साथ-साथ विशेषज्ञ भी शामिल है। आवेदनों को देखकर ऐसा लग रहा है, कि सरकारी नौकरी के लिए मानो डॉक्टरों की कतार ही लग गई हो।

9400 applications were filled for 1765 posts of Rajasthan Medical Officer

Government Hospital में डाक्टर की कमी हो सकती है पूरी, सरकार उठाएं जरुरी कदम

वही आज के समय की बात की जाए, तो Department के अधीन जिला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टरों के करीब 4000 पद खाली हैं। दरअसल Government Hospital में संपूर्ण इलाज फ्री शुरू होने के बाद से ही इन अस्पतालों में मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी देखने को मिली है।

लेकिन इन मरीजों का इलाज करने के लिए अस्पतालों में Doctor के पदों को नहीं बढ़ाया गया है। जिससे डॉक्टरों की कमी साफ नजर आती है। Doctors की कमी के चलते मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

Medical Officer(CMO) की भर्ती में 5 गुना अधिक आवेदन मिलने के बाद सरकारी अस्पतालों में पद बढ़ाने का शासन के पास एक सुनहरा अवसर है। बता दें कि राज्य में फिलहाल 16,300 Post डॉक्टरों के खाली पड़े हैं।

नहीं मिली सरकारी नौकरी तो जाएंगे निजी अस्पताल

उल्लेखनीय है कि राजस्थान के Private College में एमबीबीएस की फीस करीब 1 करोड़ रुपए है। वहीं विदेशों में 25 से 40 लाख रूपये मे MBBS की पढ़ाई हो जाती है। विशेषज्ञों का कहना है कि इतनी Fee देने के बावजूद भी डॉक्टरों को सरकारी नौकरी नहीं मिल रही है,जिसकी वजह से वह Private Hospitals का रुख कर रहे हैं या तो फिर खुद का Clinic खोल रहे हैं।

राज्य में बहुत सारे चिकित्सकों के पद खाली पड़े हैं। साथ ही Vacancy के लिए किए गए आवेदनों से पता चलता है,कि राजस्थान राज्य के गांवों और कस्बों में जो चिकित्सकों के खाली पद हैं, उनको भरा जा सकता है। यह सरकार के पास काफी अच्छा सुनहरा अवसर है। 

लंबे समय से नहीं हुई डॉक्टर की भर्ती

वही 1765 पद पर आए 9400 आवेदन को लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के निदेशक Doctor केयर मीणा का कहना है कि इस बार 9400 आवेदन चिकित्सा अधिकारी पद के लिए मिले हैं। काफी लंबे समय से Health Department में डॉक्टरों की भर्ती नहीं हुई है। यही कारण है जो इतने सारे आवेदन प्राप्त हुए हैं।

प्रदेश के डॉक्टर Private Hospital की जगह अब सरकारी अस्पताल की तरफ बदल रहे रुख

एक ऐसा भी समय था, जब डॉक्टर सरकारी नौकरी से भागते थे और Joining नहीं करते थे क्योंकि डॉक्टर गांव में जाना पसंद नहीं करते थे। डॉक्टर Private Jobs करके निजी अस्पताल में अपनी सेवा देना पसंद करते थे, क्योंकि वह शहर में ही रहना चाहते थे।

गांव में डॉक्टरों की मांग की वजह से बिना किसी प्रतियोगी परीक्षा के सीधे Contractual या सीधे पद पर डॉक्टरों की भर्ती की जाती थी। लेकिन कोई भी डॉक्टर उस मौके का फायदा नहीं उठाना चाहते थे। वहीं अब MBBS Seats भी बढ़ गई हैं।

इसके साथ ही ना सिर्फ देश में बल्कि विदेश में भी MBBS करने वाले छात्रों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। एक यह भी कारण है, जो इतने सारे आवेदन सरकार को मिले हैं। बताया जा रहा है कि आने वाले समय में College की संख्या बढ़ने और डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाले छात्रों की संख्या में काफी इजाफा होगा।

जिससे आने वाले समय में Recruitment में इससे भी ज्यादा आवेदनों की संख्या में इजाफा देखने को मिलेगा।

सरकारी सेवा में आना चाहते है डॉक्टर : डॉ अजय चौधरी

वही इस मुद्दे को लेकर अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सा संघ के अध्यक्ष डॉ अजय चौधरी का कहना है कि अक्सर डॉक्टरों पर यह आरोप मढ़ा जाता है, कि मैं सरकारी सेवा में नहीं आना चाहते हैं। साथ ही डॉक्टर गांव के Government Hospital में काम नहीं करना चाहते।

NHM MP ANM Online Form 2022

UPSSSC Junior Assistant Recruitment 2022

लेकिन इस बार मिले 5 गुना अधिक Application ने इस बात को खारिज कर दिया है। अब सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वह मरीजों को राहत दे और प्रदेश में डॉक्टरों के रिक्त पदों को जल्द से जल्द भरे। इसके साथ ही Rajasthan Government की जिम्मेदारी बनती है कि वह सृजित पदों की संख्या को भी बढ़ाएं।

Leave a Comment