12 से 17 वर्ष के बच्चों को जल्द लगाई जाएगी वैक्सीन-1 सितम्बर से राजस्थान में स्कूल खोले गए |

12 से 17 वर्ष के बच्चों को जल्द लगाई जाएगी वैक्सीन, कोरोना को रोकने के लिए अब 12 से 17 वर्ष तक बच्चों को भी वैक्सीन लगाई जाएगी, राजस्थान में वैक्सीन प्रक्रिया बहुत ही शानदार हो रही है, वैक्सीनेशन प्रक्रिया तेजी से होने कारण कोरोना का खतरा भी कम हो चूका है |

कोरोनावायरस की वजह से हमारे देश के सभी स्कूलों को पूरी तरह से बंद किया हुआ था और सभी राज्यों के स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई हो रही हैं | अब तो कोरोनावायरस के कारण हुए नुकसान से हमारा देश थोड़ा ठीक भी हो चुका है, और कोरोनावायरस के केस भी काफी कम हो गए हैं | मगर अभी भी बहुत से राज्यों में स्कूलों के द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई ही करवाई जा रही हैं |

वैसे तो 9वीं कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षाओं के लिए तो स्कूल खोले भी गए हैं, परंतु पहली कक्षा से लेकर 8वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए तो अभी भी ऑनलाइन पढ़ाई ही रखी गई हैं, क्योंकि छोटे बच्चे कोरोनावायरस की चपेट में अभी भी आ सकते हैं |  फिलहाल हमारे देश में 18 वर्ष से ऊपर की आयु वाले सभी व्यक्तियों को वैक्सीन लगाई जा रही हैं |

इसी के चलते अब स्कूल के बच्चों को सुरक्षित करने के लिए 12 वर्ष से लेकर 17 वर्ष के बच्चों को भी वैक्सीन लगनी शुरू होने वाली हैं | सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि राजस्थान राज्य में अब छोटे बच्चों के स्कूल भी खुलने वाले हैं | ऐसा कहा जा रहा है कि स्कूल खोलने से पहले 12 वर्ष से लेकर 17 वर्ष के बच्चों को वैक्सीन लगा दी जाएगी क्योंकि छोटे बच्चों को वैक्सीन लगाने काफी ज्यादा आवश्यक है | राज्य सरकार के द्वारा बच्चों को वैक्सीन लगाने की तैयारियां भी शुरू की जा चुकी हैं |

Notes & Job Update के लिए फॉर्म भरे

    1.01 करोड़ बच्चों को लगाई जाएगी वैक्सीन की 3 डोज

    राजस्थान राज्य में 12 वर्ष से लेकर 17 वर्ष की आयु के बच्चों की संख्या 1.01 करोड़ है और इन्हें वैक्सीन की 3 डोज लगाई जाएंगी | First Vaccine के 28 दिन बाद Second Dose और फिर 56 दिन बाद Third Dose लगाई जाएगी | ऐसा बताया जा रहा है, कि स्कूल खोलने से पहले ही राजस्थान चिकित्सा विभाग के द्वारा बच्चों को वैक्सीन की First Dose लगा दी जाएगी |

    राजस्थान राज्य में बच्चों की वैक्सीन को रखने के लिए अलग से Cold Storage की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी | क्योंकि अभी 18 साल से ऊपर के व्यक्तियों को निरंतर वैक्सीन लगाई जा रही है और उसी Cold Storage का इस्तेमाल बच्चों की वैक्सीन रखने के लिए भी किया जाएगा | मगर जल्द ही राज्य में वैक्सीन लगाने वाले स्टाफ को बढ़ाने की आवश्यकता पड़ेगी,

    क्योंकि जो स्टाफ मौजूद है वह तो 18 वर्ष की आयु से ऊपर के व्यक्तियों को व्यक्ति लगा रहा है l  12 वर्ष से लेकर 17 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए Vaccination Program शुरू होने पर वैक्सीनेशन स्टाफ को बढ़ाना पड़ेगा | ध्यान रहे कि 12 वर्ष की आयु से ऊपर उन बच्चों को वैक्सीन लगाई जाएगी जिनकी आयु 1 जनवरी 2021 को 12 वर्ष की हुई हैं |

    राज्य में तेजी से चल रहा है वैक्सीनेशन

    राजस्थान राज्य में वैक्सीनेशन कार्यक्रम काफी तेजी से चल रहा है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही हैं | ऐसा बताया जा रहा है कि राजस्थान राज्य के एक करोड़ से भी अधिक लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जा चुकी है, जिसके पश्चात वह पूर्ण रुप से व्यक्ति ने हो चुके हैं | राजस्थान राज्य में 3177 अलग-अलग सेंटर्स पर वैक्सीन का टीका लगाया जा रहा है,

    इनमें से 3109 तो State Vaccination Center तथा 68 Private Vaccination Center हैं | जल्द ही राजस्थान राज्य के सभी लोगों को Vaccine लगा दी जाएगी | राज्य में लोगों को व्यक्त इन लगवाने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है ताकि लोग पूरी तरह से Vaccinate होकर कोरोनावायरस से हमेशा के लिए बच सके |

    राजस्थान में कम हो चुका है कोरोनावायरस का खतरा

    अब राजस्थान राज्य में दिन प्रतिदिन कोरोनावायरस का खतरा काफी कम होता जा रहा हैं | कुछ ही समय में राजस्थान राज्य में राज्य में कोरोनावायरस का खतरा पूरी तरह से ही खत्म हो जाएगा | राजस्थान राज्य में अब कोरोनावायरस से बचने वाले लोगों का Recovery Rate 99.050 हो चुका हैं | इसका मतलब यह है, कि अब जल्दी ही यह Recovery Rate बढ़ कर 100% हो जाएगा |

    राजस्थान राज्य में अब तक कोरोनावायरस से कौन संक्रमित लोगों की संख्या 954051 है, तथा कोरोनावायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 8954 हैं | मगर इसके बावजूद भी अब राजस्थान राज्य में कुल 107 active case रह चुके हैं और जल्द ही इन लोगों को भी कोरोनावायरस से रिकवर करने में पूरी सहायता की जा रही है ताकि रिकवरी रेट को बढ़ाया जा सकें |

    Leave a Comment