बंगाल में ‘दुआरे त्राण’ कार्यक्रम चलाया जाएगा-सरकार ने 1000 करोड़ रुपए के Relief Package की घोषणा |

बंगाल में ‘दुआरे त्राण’ कार्यक्रम चलाया जाएगा, इस ‘दुआरे त्राण’ (घर पर राहत) के तहत लोगों तक मदद पँहुचाई जाएगी, ‘दुआरे त्राण’ (घर पर राहत) कार्यक्रम का लाभ किन लोगों को मिल सकेगा,सरकार ने 1000 करोड़ रुपए के Relief Package की घोषणा |

आप सभी ने सुना ही होगा कि कोलकाता में आए चक्रवात के कारण काफी ज्यादा नुकसान हो चुका है और लोगों की संपत्ति तो तहस-नहस हुई ही है। इसी के साथ-साथ काफी ज्यादा लोगों को चक्रवात के कारण अपनी जान भी गंवानी पड़ी है। इसी के चलते पश्चिम बंगाल की Chief Minister Mamata Banerjee तथा Prime Minister Narendra Modi के बीच समीक्षा बैठक होगी।

हम आपको बता दें कि अधिकारियों ने यह बताया है, कि यह समीक्षा बैठक शुक्रवार के दिन दोपहर को पश्चिम Medinipur district में होगी, परंतु इस बैठक में शामिल होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस चक्रवात से प्रभावित इलाकों का विमान से जायजा भी लेंगे। अधिकारियों ने बताया है, कि Dhankar Kalikunda Air Force Base पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी अगवानी करेंगे। अब आगे हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं।

चक्रवात को लेकर होगी समीक्षा बैठक

कोलकाता में आए चक्रवात के कारण पश्चिम बंगाल के राज्यपाल Jagdeep Dhankar प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा ममता बनर्जी के बीच होने वाली समीक्षा बैठक में शामिल होंगे। अधिकारियों ने यह भी बताया है, कि इस बैठक में शामिल होने से पहले प्रभावित इलाकों का जायजा भी लिया जाएगा कि किन इलाकों में चक्रवात के कारण नुकसान हुआ है तो किस हद तक नुकसान हुआ है।

Notes & Job Update के लिए फॉर्म भरे

    Modi & Mamta Today Meeting News

    हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साथ ममता बनर्जी भी प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेगी। हवाई सर्वेक्षण इसलिए किया जाएगा, ताकि जितने भी इलाके प्रभावित हुए हैं उनका जायजा लिया जा सके और फिर उस नुकसान को देखते हुए ही फैसला लिया जाएगा।

    सरकार के द्वारा चलाया जाएगा “दुआरे त्राण” कार्यक्रम

    • हम आपको बता दें, कि जो भी लोग इस चक्रवात के कारण प्रभावित हुए हैं या जिन लोगों का चक्रवात के कारण बहुत ज्यादा नुकसान हुआ है, तो उन लोगों को सरकार की तरफ से राहत भी पहुंचाई जाएगी और उन लोगों को राहत पहुंचाने के लिए सरकार के द्वारा “दुआरे त्राण” ( घर पर राहत ) कार्यक्रम चलाया जाएगा । हम आपको बता दें, कि बंगाल की Chief Minister Mamata Banerjee ने यह कहा है, कि इस चक्रवात के कारण पश्चिम बंगाल को 15000 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
    • इसीलिए उसने 1000 करोड़ रुपए के Relief package की घोषणा करते हुए भी यह कहा है, कि उनकी सरकार चक्रवात के कारण प्रभावित हुए सभी लोगों को “दुआरे त्राण” घर पर राहत कार्यक्रम चलाएगी। इसी के साथ-साथ यह बात भी सामने आई है, कि ममता बनर्जी जी ने वित्त विभाग को पिछले वर्ष मई में चक्रवात के बाद बनाए गए पुलों, सड़कों तथा तटबंधो को हुए नुकसान की जांच करने के भी आदेश दिए हैं। चक्रवात के कारण जहां पर भी नुकसान हुआ है, उस सब की भरपाई सरकार के द्वारा की जाएगी। 
    • चक्रवात के कारण लोगों की संपत्ति को भी जितना नुकसान पहुंचा है, उसकी भरपाई भी सरकार के द्वारा की जाएगी और यदि किसी परिवार के सदस्य की जान चक्रवात के कारण गई है, तो उसे भी सरकार की तरफ से मुआवजा दिया जाएगा।

    Leave a Comment